खबरे BIG BREAKING : नीमच पुलिस की ताबड़तोड कार्यवाही, 12 साल की लड़की के दुष्कर्म हुए केश में, 24 घंटे के पहले आरोपी गिरफ्तार, पढ़े खबर BADI KHABAR : देश भर में ‘मेरी सहेली’ अभियान शुरू, महिलाओं को दी अभियान की जानकारी,पढें खबर OMG : एक ऐसा पार्क , जिसमें पेड़ नहीं, बल्कि पोल दिखेंगे, मौज.मस्ती नहीं, रूल्स सीखेंगे,क्या हैं खास,पढें खबर REPORT : नीमच आने से पहले पढ़ लेवें ये खबर, नही तो आपको भी जाना होगा हाॅस्पिटल, क्या है पूरा मामला, पढें ग्राउंड जीरो से हिमांशु राजोरा की खबर BIG NEWS: आटोमेटिक मशीन नापेगी शरीर का ट्रेम्पेचर- शहर वासियों के लिये कल डेमो के साथ होगी लांच- निर्धारित दामों पर मिलेगी, पढें खबर BIG NEWS : गोहत्या निरोधक कानून, किस तरह हो रहा दुरुपयोग,जाने क्या कहता हैं संविधान,पढें खबर POLITICAL NEWS: उमरावसिंह गुर्जर पहुंचे नाहरगढ व कयामपुर ब्लाक में, राकेश पाटीदार को जिताने का कर रहे आव्हान, पढें खबर BIG BREAKING : कोरोना वायरस के कारण देशभर में लगे लॉकडाउन को लेकर भारत सरकार ने बड़ा फैसला, 30 नवंबर तक जारी रहेगा लॉकडाउन, पढ़े खबर BIG BREAKING : भारत ने अगर बालाकोट जैसी सर्जिकल स्ट्राइक फिर की तो दुश्मन का पता आसानी से लगा लेगा, जानिए BECA समझौते से जुड़ी जरूरी बातें, पढ़े खबर BIG BREAKING : किसान के लिए सरकार ने दी खुशखबर, मध्य प्रदेश में बंजर जमीन से होगी कमाई जानिए क्या है रास्ता पढ़े खबर OMG ! कार में बैठने से मना किया तो छात्रा को गोली मारी, धर्म बदलने का दबाव बना रहा था आरोपी, पढ़े खबर BIG BREAKING : आम आदमी के लिए बड़ी खबर! बदल गया आपकी रसोई गैस सिलेंडर बुकिंग का फोन नंबर, फटाफट ऐसे करें चेक, पढ़े खबर BADI KHABAR : सिंगल यूज प्लास्टिक की रोकथाम के लिए शपथ दिलवाई गई, पर्यावरण शुद्ध होगा तभी मानव जीवन स्वस्थ्य होगा , पढें खबर

NEWS : पार्टी से नाराज होकर शिवसेना से नामांकन दाखिल करने वाले वरिष्ठ नेता जगमोहन वर्मा माने, शर्मा ने पहले पैर दबाकर मनाया था, इस बार कंधे दबाकर बोले मान जाओ, पढें खबर

Image not avalible

NEWS : पार्टी से नाराज होकर शिवसेना से नामांकन दाखिल करने वाले वरिष्ठ नेता जगमोहन वर्मा माने, शर्मा ने पहले पैर दबाकर मनाया था, इस बार कंधे दबाकर बोले मान जाओ, पढें खबर

डेस्‍क :-

इंदौर। 7 दिन बाद आखिरकार भाजपा सांवेर में डैमेज को कंट्रोल करने में सफल हो गई। पार्टी से इस्तीफा देकर शिवसेना के बैनर तले चुनाव मैदान में उतरे पूर्व मंत्री प्रकाश सोनकर के करीबी रहे सहकारिता प्रकोष्ठ के नगर संयोजक जगमोहन वर्मा रविवार को मान गए और फिर से पार्टी का दुपट्टा पहन लिया। उनकी नाराजगी सामने आने के बाद से ही लगातार भाजपा के वरिष्ठ नेता उन्हें मनाने में जुटे थे। रविवार को विधायक रमेश मेंदोला और विधायक कैलाश विजयवर्गीय फिर से उनके घर पहुंचे और उनसे अपना फैसला बदलने का आह्वान किया। पिछली बार पैर दबाकर उन्हें मनाने की कोशिश करने वाले प्रवक्ता उमेश शर्मा ने फिर से उनके कंधों को दबाते हुए उन्हें मान जाने को कहा।

शिवसेना का दुपट्टा डालते ही उन्हें मनाने पहुंचे कई नेता
सहकारिता प्रकोष्ठ के नगर संयोजक जगमोहन वर्मा ने सोमवार को शिवसेना का दुपट्टा धारण कर लिया था। दोपहर होते-होते भाजपा नगर अध्यक्ष गौरव रणदिवे और विधायक आकाश विजयवर्गीय उन्हें मनाने पहुंच गए। प्रदेश प्रवक्ता उमेश शर्मा ने उनके पैर पकड़ कर अपने अंदाज में मनाने की कोशिश की। हालांकि वर्मा मान तो गए, लेकिन उन्होंने 24 घंटे का अल्टीमेटम दे दिया। उन्होंने कहा कि मंगलवार तक भाजपा जिला प्रशासन के जरिए खड़ी कराई व्यवस्था दोबारा शुरू करने की अनुमति दिलवाए।

मीडिया से बात में उन्होंने कहा था कि अपनी बात पार्टी अध्यक्ष और विधायक के समक्ष रख दी है। बात मान ली तो ठीक अन्यथा मंगलवार को शिवसेना में पद संभाल लूंगा। अभी सिर्फ दुपट्टा पहना है, पार्टी में शामिल नहीं हुआ हूं। शुक्रवार दोपहर 2 बजे तक उन्होंने पार्टी के रुख का इंतजार किया था। पार्टी ने संतुष्ट जनक जवाब नहीं मिलने पर उन्होंने सांवेर उपचुनाव के नामांकन के अंतिम दिन शिवसेना के प्रत्याशी के तौर पर नामांकन दाखिल कर दिया था। शनिवार से उन्होंने प्रचार भी शुरू कर दिया था। वर्मा के बागी होकर मैदान में उतरने से भाजपा को काफी नुकसान होने का अनुमान लगाया जा रहा था।

पार्टी में फिर से वापस लौटे वर्मा ने कहा कि भाजपा मेरी मां है। मां से बच्चे नाराज भी होते हैं, लेकिन जब मां के साये में रहकर हम अपना जीवन यापन करते हैं, राजनीति करते हैं तो उसे नहीं भूला जा सकता। जब परिवार के लोग यह कहते हैं कि आपकी बात मानी जाएगी तो फिर मां को छोड़ने का सवाल ही नहीं पैदा नहीं होता। 40 साल मैं पार्टी में रहा। विधायक रमेश मेंदोला और विधायक आकाश विजयवर्गीय ने हम्मालों और व्यापारियों की बात पर्दे के पीछे रहकर पूर जोर तरीके से रखी है। आकाश जी मेरे बच्चे जैसे हैं। मां से थोड़ी नाराजगी थी अब कोई नाराजगी नहीं है। मैं अपना नामांकन वापस ले रहा हूं। हम सब कंधे से कंधा मिलाकर भाजपा प्रत्याशी को जिताने के लिए काम करूंगा। मेरी कोई व्यक्तिगत मांग नहीं है, मजूदरों के लिए लड़ता रहा और आगे भी लड़ता रहूंगा।

विधायक मेंदोला ने कहा कि वर्मा पार्टी के बहुत वरिष्ठ नेता हैं। उसने पार्टी अध्यक्ष, संगठन मंत्री ने उसने चर्चा की। उनकी नाराजगी व्यक्तिगत नहीं थी, वे मजूदरों और हम्मालों के लिए लड़ रहे थे। पार्टी ने उनकी मांग का निराकरण करने को कहा है। मांग तो अपनी जगह है, लेकिन उन्होंने हमारी पार्टी के लिए बहुत संघर्ष किया है। पार्टी से उनका अटूट संबंध है, वह टूट नहीं सकता। वे अपना नामांकन वापस ले रहे हैं। उनकी मांग का उचित समय पर समाधान किया जाएगा। उनकी भावना का भी ध्यान रखेंगे।


SHARE ON:-

image not found image not found

© Copyright BABJI NEWS NETWORK 2017. Design and Developed By PIONEER TECHNOPLAYERS Pvt Ltd.