खबरे VIDEO : MP_Weather: मध्यप्रदेश में पंहुचा मानसून, 30 से अधिक जिलों में बारिश के आसार, मौसम का बड़ा अलर्ट जारी, देखे एंकर महक के साथ VIDEO: #MP_#स्कूल खोले जाने को लेकर बड़ा फैसला, इस महीने की तारीख से शुरू होगी बच्चों की पढ़ाई, देखे एंकर महक के साथ NEWS HEADLINES VIDEO: #ब्लैक_#फंगस की दवा #टैक्स फ्री, खाने की चीज़ो में मानक बढ़ाने की तैयारी, देखे प्रदेश भर की #सुर्खियां एंकर महक के साथ VIDEO NEWS : MP की राजधानी भोपाल में हुआ ये बड़ा हादसा, मौसम ने ली अचानक करवट, जाने खबर बता रही है एंकर सिमरन KHABAR : प्रताप जयंती पर राजपूत समाज ने संकल्प पत्र भर शत-प्रतिशत टीकाकरण करवाने की ली शपथ, पढ़े रेखा खाबिया की खबर SHOK SAMACHAR : नहीं रहे श्री डॉ. रामेश्वरजी उपाध्याय, परिवार में शोक की लहर, शवयात्रा दोपहर 3 बजे, पढ़े खबर VIDEO NEWS : मालथौन थाना क्षेत्र के टपरो गांव मे दर्दनाक हादसा, नोनिया-रजौआ मार्ग पर ट्रक चालक की करंट लगने से मौत, देखे नीरज जैन की रिपोर्ट VIDEO NEWS : मस्जिद परिसर में बना आपत्तिजनक Video वायरल, किन्नर पर धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने का केस, बता रही है एंकर सिमरन VIDEO NEWS : रेत के ट्रैक्टर ट्रॉली पकड़ने गई वन विभाग और ग्रामीणों के बीच विवाद, वन विभाग की टीम ने की फायरिंग, मामला गोली लगने से एक की मौत का, देखे देवेंद्र सिंह राजपुत की रिपोर्ट VIDEO NEWS : सीईओ तहसीलदार चैकी प्रभारी आंगनवाड़ी समस्त स्टाफ ने किया बरोदिया कला चैकी में वृक्षारोपण, ये रहे मौजूद, देखे नीरज जैन की रिपोर्ट VIDEO NEWS : मौसम विभाग का ऑरेंज अलर्ट जारी, 2 से 3 दिनों में हो सकती है भारी बारिश, बता रही है एंकर मोनिका राठौर KHABAR : विश्व रक्तदान दिवस को लायंस क्लब द्वारा सरकारी अस्पताल में रखा गया रक्तदान शिविर, पढ़े शब्बीर बोहरा की खबर VIDEO NEWS : भारी बिजली बिलों ने तोड़ी गरीब एवं मद्यमवर्गीय की कमर, कांग्रेस प्रतिनिधि मंडल ने की अधीक्षण यंत्री से मुलाकात, देखे अभिषेक सोनी के साथ राजेश पंवार की रिपोर्ट

OMG! पुलिस के प्रति लोगों में गुस्सा, आरोपी की मौत को बता रहे पाप की सजा, आम लोगों का टूटा भरोसा, पढें खबर

Image not avalible

OMG! पुलिस के प्रति लोगों में गुस्सा, आरोपी की मौत को बता रहे पाप की सजा, आम लोगों का टूटा भरोसा, पढें खबर

जबलपुर :-

जबलपुर। कारोबारी के बेटे का अपहरण और गला घोटकर हत्या ने जबलपुर के आमलोगों को झकझोर दिया है। अपहरणकर्ताओं की क्रूरता से पूरा शहर हिल गया। पुलिस की नाकामी से हर किसी के चेहरे पर गुस्सा है। प्रेसवार्ता के बाद मुख्य अपहरणकर्ता की मौत होने को भी लोग पाप की तुरंत सजा कह रहे हैं। साथ में पुलिस की नाकामी पर सवाल खड़े कर रहे हैं। पुलिस खुद भी मानती है कि अपहरण के 24 घंटे बेहद अहम होते हैं, लेकिन पुलिस ने ये मौका पूरी तरह से गवां दिया।

पुलिस के गिरफ्त में आए तीनों अपहरणकर्ताओं ने बताया कि वे आदित्य (13) को अगवा करने के बाद बरोदा तिराहा और पनागर क्षेत्र में घुमाते रहे। आरोपियों ने अपहरण के लिए किराए पर कार ली थी। धनवंतरी नगर और अंधमूक बायपास पर सीसीटीवी कैमरे लगे हैं, फिर भी पुलिस कार को ट्रैस नहीं कर पाई।

आरोपियों ने आदित्य को एक ढाबे पर खाना भी खिलाया था। अगले दिन 16 अक्टूबर को उसे पहले महराजपुर, कुंडम, बघराजी क्षेत्र में घुमाते रहे। रास्ते में एक होटल में समोसा खाया और आदित्य को भी खिलाया। इधर, पुलिस डीजीपी की आवभगत में लगी रही। अपहरणकर्ताओं की घेराबंदी करने में पूरी तरह नाकाम रही।

अपहरणकर्ताओं को पता था कि पुलिस उनके मोबाइल ट्रैस कर रही है। कारोबारी मुकेश लाम्बा से बातचीत में कई बार अपहरणकर्ता ये कहा भी था कि उनका मोबाइल रिकॉर्ड हो रहा है। आरोपियों ने 12 अक्टूबर को कटंगी से मोबाइल छीना। इसी मोाबइल से वे फिरौती के लिए मुकेश से बात करते थे। बात करने के बाद मोबाइल बंद कर देते थे। खुद के मोबाइल बात करने से आधा घंटे पहले ऑफ कर देते थे।

एक घंटे बाद ऑन करते थे। अपहरणकर्ताओं ने मुकेश लाम्बा को 16 अक्टूबर को दोपहर में एक घंटे के अंतराल पर दो बार कॉल किया। एक बार पुलिस को सूचना देने पर नाराजगी व्यक्त करने के लिए और दूसरी बार फिरौती की रकम की व्यवस्था करने को लेकर। पिता मुकेश पैसे का इंतजाम न कर पाने को लेकर मिन्नत करते रहे, लेकिन वे नहीं पिघले। मुकेश ने आठ लाख रुपए के इंतजाम होने का हवाला दिया, जिसे लेकर आरोपियों ने पनागर क्षेत्र में बुलाया था।

16 की रात अपहरणकर्ताओं ने मुकेश को पैसे वाला बैग लेकर बुलाया था। हिदायत दी थी कि स्कूटी से सिहोरा रोड पर चलते रहना। वे जगह बताएंगे। स्कूटी का नम्बर पहले ही बताने के लिए कहा था। पुलिस ने पनागर से सिहोरा तक जगह-जगह सिविल ड्रेस में टीम लगाई, लेकिन आरोपी उनसे एक कदम आगे निकले। मुकेश भी गोसलपुर तक गए, लेकिन कॉल नहीं आया। लौटते समय रात 11 बजे के लगभग खजरी खिरिया के पास कॉल किया और बैग रोड किनारे रखवा लिया। अपहरणकर्ताओं में महाराजपुर निवासी राहुल विश्वकर्मा मुख्य आरोपी है।

बहन की शादी में हुए खर्च सहित उस पर 15 लाख रुपए का कर्ज था। एक महीने पहले मलय राय के साथ मिलकर किसी बड़े आदमी के बच्चे के अपहरण की साजिश रची। वह मुकेश लाम्बा को पहले से जानता था। राहुल भी ट्रांसपोर्ट का काम कर चुका है। मुकेश जब ट्रांसपोर्ट का काम करता था, तब परिचय हुआ था। मुकेश के पड़ोस में रहने वाले एक व्यक्ति से भी राहुल का परिचय था। उसी के साथ वह मुकेश के घर भी दो-चार बार गया था।

राहुल ने मलय के अलावा करण जग्गी को भी साजिश में शामिल किया। तीनों एक अक्टूबर से लगातार मुकेश लाम्बा के घर के आसपास कार से रैकी करने जाते थे। 15 अक्टूबर को तीनों रेकी करने पहुंचे, तो आदित्य उन्हें किराना दुकान के सामने दिख गया। साजिश के मुताबिक करण जग्गी कार से पहुंचा और आदित्य से उसके पिता मुकेश लाम्बा का नाम लेकर घर का पता पूछा। आदित्य कार में बैठ गया। आरोपी उसका मुंह दबा कर अंधमूक बायपास की ओर ले गए।

आदित्य से ही मां व पिता का मोबाइल नम्बर लेकर फिरौती के लिए कॉल किया। पूरी रात आदित्य को कार में बरोदा तिराहा, पनागर क्षेत्र में घुमाते रहे। 16 की सुबह महाराजपुर अधारताल पहुंचे। राहुल के घर के बाजू में खाली पड़े मकान में आदित्य को ले गए। फिर दूसरी कार किराए से लेकर दोपहर में कुंडम बघराजी क्षेत्र में घुमाते रहे। उसी दौरान आदित्य ने राहुल को पहचान लिया। कहा कि 'अरे अंकल मैं तो आपको जानता हूं, एक बार एक अंकल के साथ घर आए थे।

 आदित्य के पहचानने पर तीनों घबरा गए। साजिश के मुताबिक शाम को महाराजपुर पहुंचे। करण को छोड़कर राहुल और मलय कार में आदित्य को लेकर पनागर के आगे जलगांव पहुंचे। वहां आदित्य से यह कहलवाया कि 'पापा आप अकेले आना, पुलिस को मत लानाÓ रिकॉर्डिंंग की। फिर नहर के किनारे ले गए। आदित्य का हाथ व गमछे से मुंह दबा दिया। कुछ देर बाद ही मौत हो गई। गमछा सहित शव नहर में फेंक दिया। इसके बाद महाराजपुर आ गए। रात लगभग 9.30 बजे मुकेश लाम्बा को फोन लगाकर रिकॉर्ड की हुई आदित्य की आवाज सुनाकर फिरौती की मांग की थी।


SHARE ON:-

image not found image not found

© Copyright BABJI NETWORK PVT LTD 2020. Design and Developed By PIONEER TECHNOPLAYERS Pvt Ltd.