खबरे NEWS HEADLINES VIDEO: #ब्लैक_#फंगस की दवा #टैक्स फ्री, खाने की चीज़ो में मानक बढ़ाने की तैयारी, देखे प्रदेश भर की #सुर्खियां एंकर महक के साथ VIDEO NEWS : MP की राजधानी भोपाल में हुआ ये बड़ा हादसा, मौसम ने ली अचानक करवट, जाने खबर बता रही है एंकर सिमरन KHABAR : प्रताप जयंती पर राजपूत समाज ने संकल्प पत्र भर शत-प्रतिशत टीकाकरण करवाने की ली शपथ, पढ़े रेखा खाबिया की खबर SHOK SAMACHAR : नहीं रहे श्री डॉ. रामेश्वरजी उपाध्याय, परिवार में शोक की लहर, शवयात्रा दोपहर 3 बजे, पढ़े खबर VIDEO NEWS : मालथौन थाना क्षेत्र के टपरो गांव मे दर्दनाक हादसा, नोनिया-रजौआ मार्ग पर ट्रक चालक की करंट लगने से मौत, देखे नीरज जैन की रिपोर्ट VIDEO NEWS : मस्जिद परिसर में बना आपत्तिजनक Video वायरल, किन्नर पर धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने का केस, बता रही है एंकर सिमरन VIDEO NEWS : रेत के ट्रैक्टर ट्रॉली पकड़ने गई वन विभाग और ग्रामीणों के बीच विवाद, वन विभाग की टीम ने की फायरिंग, मामला गोली लगने से एक की मौत का, देखे देवेंद्र सिंह राजपुत की रिपोर्ट VIDEO NEWS : सीईओ तहसीलदार चैकी प्रभारी आंगनवाड़ी समस्त स्टाफ ने किया बरोदिया कला चैकी में वृक्षारोपण, ये रहे मौजूद, देखे नीरज जैन की रिपोर्ट VIDEO NEWS : मौसम विभाग का ऑरेंज अलर्ट जारी, 2 से 3 दिनों में हो सकती है भारी बारिश, बता रही है एंकर मोनिका राठौर KHABAR : विश्व रक्तदान दिवस को लायंस क्लब द्वारा सरकारी अस्पताल में रखा गया रक्तदान शिविर, पढ़े शब्बीर बोहरा की खबर VIDEO NEWS : भारी बिजली बिलों ने तोड़ी गरीब एवं मद्यमवर्गीय की कमर, कांग्रेस प्रतिनिधि मंडल ने की अधीक्षण यंत्री से मुलाकात, देखे अभिषेक सोनी के साथ राजेश पंवार की रिपोर्ट BIG NEWS : भारतीय जनता युवा मोर्चा के जिला अध्यक्ष का धूम धाम से मना जन्मदिन उडी कोविड गाइडलाइन की धज्जिया, पढ़े खबर VIDEO NEWS : राधा नगर पार्ट 2 के रहवासी ड्रेनेज का गंदा पानी सड़क पर आने से परेशान, देखे अभिषेक सोनी के साथ राजेश पंवार की रिपोर्ट

BIG NEWS : ऊंचाई कम होने पर भी मिली पुलिस की नौकरी, फर्जीवाड़े में पकड़ाई दो युवतियां, पढ़े खबर

Image not avalible

BIG NEWS : ऊंचाई कम होने पर भी मिली पुलिस की नौकरी, फर्जीवाड़े में पकड़ाई दो युवतियां, पढ़े खबर

डेस्क :-

जबलपुर। निर्धारित मापदंड से छह और आठ सेंटीमीटर ऊंचाई कम होने के बावजूद पुलिस विभाग में आरक्षक की नौकरी पा ली। यह कारनामा कर दिखाया है पचमढ़ी व जबलपुर निवासी दो युवतियों ने। नरसिंहपुर में हुई चयन परीक्षा में दोनों ने स्वास्थ्य का फर्जी प्रमाण पत्र चयनकर्ताओं को दिया था। मिलीभगत से नौकरी मिलने के बाद दोनों को बुनियादी प्रशिक्षण के लिए पीटीसी इंदौर पहुंची तो उनकी असलियत उजागर हो गई। कागजों में जिस लंबाई के बल पर दोनों को सरकारी नौकरी दी गई थी हकीकत में वो उससे छह और आठ इंच छोटी थीं। भर्ती प्रक्रिया में भ्रष्टाचार और सेंधमारी की खबर संचालनालय भोपाल तक पहुंची। जिसके बाद जिला अस्पताल नरसिंहपुर के मेडिकल बोर्ड द्वारा जारी दोनों के चिकित्सा प्रमाण पत्रों की जांच के निर्देश जारी हुए। क्षेत्रीय संचालक जबलपुर द्वारा की गई जांच में ये प्रमाण पत्र फर्जी निकले। क्षेत्रीय संचालक ने माना कि दोनों को फर्जी स्वास्थ्य प्रमाण पत्र पर नौकरी दे दी गई। परंतु वे प्रमाण पत्र आरोपित चिकित्सक ने जारी नहीं किए थे।

यह है मामला

पुलिस आरक्षक चयन परीक्षा वर्ष 2016 में पचमढ़ी तहसील पिपरिया जिला होशंगाबाद निवासी मीनाक्षी उइके और 1205 सी गणेश मंदिर के सामने मोदीवाड़ा कैंट जबलपुर निवासी रश्मि रत्नानी को सफलता मिली थी। दोनों का शारीरिक मापदंड परीक्षण नरसिंहपुर जिले में हुआ था। भर्ती प्रक्रिया के जिम्मेदारों ने उनकी लंबाई के विषय पर आंखों पर पट्टी बांध ली और जिला मेडिकल बोर्ड के फर्जी चिकित्सा प्रमाण पत्र को सही मानकर आरक्षक की नौकरी के लिए चयनित कर लिया। फर्जीवाड़े का पता वर्ष 2017 के अगस्त माह में हुआ जब युवतियों को प्रशिक्षण के लिए इंदौर भेजा गया।

एसपी के पत्र के बाद मची थी खलबली

पुलिस ट्रेनिंग कॉलेज पीटीसी इंदौर के तत्कालीन पुलिस अधीक्षक को बुनियादी प्रशिक्षण के दौरान मीनाक्षी और रश्मि की शारीरिक ऊंचाई पर संदेह हुआ। पीटीसी के विशेषज्ञ व चिकित्सक से जांच कराई गई तो मीनाक्षी 152.3 तथा रश्मि की ऊंचाई 150 सेंटीमीटर ही निकली। जबकि भर्ती प्रक्रिया के दौरान दोनों की ऊंचाई 158 सेंटीमीटर मापकर नौकरी के लिए योग्य घोषित किया गया था। एसपी ने पत्राचार कर मुख्यालय को फर्जीवाड़े की जानकारी दी। जिसके बाद खलबली मच गई।

डॉक्टर बोले—ऊंचाई नहीं आंखों की जांच की थी

मीनाक्षी और रश्मि ने जिला अस्पताल के एक डॉक्टर के नाम पर जारी फर्जी स्वास्थ्य प्रमाण पत्र देकर नौकरी पाई थी। संचालनालय के निर्देश पर क्षेत्रीय संचालक कार्यालय जबलपुर द्वारा प्रमाण पत्रों की जांच कराई गई। आरोपित डॉक्टर ने बयान में कहा कि उन्होंने नेत्र परीक्षण कर दोनों को सरकारी सेवा के मापदंड के योग्य पाया था। प्रमाण पत्र पर उुंचाई किसने लिखी उन्हें इसकी जानकारी नहीं। संचालनालय ने भविष्य के लिए सचेत करते हुए चिकित्सक के खिलाफ प्रकरण को समाप्त कर दिया है।


SHARE ON:-

image not found image not found

© Copyright BABJI NETWORK PVT LTD 2020. Design and Developed By PIONEER TECHNOPLAYERS Pvt Ltd.