खबरे BIG NEWS : तूफ़ान के चलते मध्य प्रदेश के 23 जिलों में ऑरेंज तो 13 जिलों में येलो अलर्ट, पढ़े खबर VIDEO NEWS : जिला स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. पूर्णिमा गडरिया के ड्राइवर को पुलिस ने रेमडेसिविर बेचते हुए किया गिरफ्तार, देखे वीडियो न्यूज़ VIDEO NEWS : राजगढ़ जिला चिकित्सालय की व्यवस्थाओ पर सवाल उठाने वाली एक और तस्वीर सामने आई, देखे मुकेश अहिरवार की रिपोर्ट VIDEO NEWS : कोरोना वायरस से बचाव को लेकर रामखिलाड़ी धाकड़ गांव गांव जानकारी लेने पहुचे, देखे गौरव गौड़ की रिपोर्ट VIDEO NEWS : कैलारस शहर में बेवजह सड़क पर घूमने वालो को बाटे मास्क और सेनेटाइजर, देखे गौरव गौड़ की रिपोर्ट VIDEO NEWS : नीमच में तेज आंधी और बारिश से उड़े मकान के पतरे महिला गंभीर घायल निजी अस्पताल किया भर्ती ,उपचार जारी, देखे आसिफ अली की रिपोर्ट BIG NEWS : कोरोना ड्यूटी के दौरान मृत कर्मचारियों के परिवार को मिलेगी मुख्यमंत्री कोविड-19 अनुकम्पा नियुक्ति, पढ़े खबर VIDEO NEWS : एसडीएम ने उचित खाद्यय मूल्य की दुकानों का किया निरीक्षण, बंद दुकानों पर कार्रवाई, देखे लोकेश मिश्रा की रिपोर्ट VIDEO NEWS : पुलिस एक्शन मोड पर, दो पहिया वाहन और कार की जब्त, बेवजह घूमने वालों के वाहनों पर हुई कार्रवाई, कोर्ट से छूटेंगे वाहन, देखे अभिषेक सोनी के साथ राजेश पंवार की रिपोर्ट NEWS : महिला कांग्रेस ने गरीब बस्तियों में मास्क व बिस्किट किये वितरित, पढ़े शब्बीर बोहरा की खबर BIG NEWS : मनासा में झोलाछाप डाॅक्टर पर कार्रवाही के मामले ने पकड़ा तूल, कांग्रेस नेता चंद्रशेखर पालीवाल सहित 50 से 60 लोगों पर प्रकरण दर्ज, पढें शब्बीर बोहरा की रिपोर्ट NEWS : वायु शुद्धिकरण के लिए मेलखेड़ा नगर में किया चलित हवन, पढ़े रवि पोरवाल की खबर NEWS : माता-पिता की शादी की सालगिरह और रात्रि में तेज बारिश में भी पहुंचाए घर घर भोजन के पैकेट, कोरोना काल में कर रहे हैं अनूठा काम, पढ़े मोहन नागदा की खबर REPORT : जिला स्तरीय योग शिविर के चतुर्थ दिवस पर जयश्री गुप्ता बोले, योग और प्राणायाम से शरीर में सकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है, पढ़े खबर 

EXCLUSIVE : 25 नवंबर तक हो सकता है नपाध्यक्ष का आरक्षण, पिछड़ा पुरूष व सामान्य महिला होने पर नीमच में कांग्रेस व भाजपा से ये है संभावित चेहरे, कौन कैसे हो सकता है भारी, पढें मनीष चान्दना की खास रिपोर्ट

Image not avalible

EXCLUSIVE : 25 नवंबर तक हो सकता है नपाध्यक्ष का आरक्षण, पिछड़ा पुरूष व सामान्य महिला होने पर नीमच में कांग्रेस व भाजपा से ये है संभावित चेहरे, कौन कैसे हो सकता है भारी, पढें मनीष चान्दना की खास रिपोर्ट

नीमच :-

नीमच। प्रदेश निर्वाचन विभाग द्वारा आज से लेकर  25 नवंबर के बीच नीमच नगरपालिका अध्यक्ष पद हेतु आरक्षण किया जा सकता है। भाजपा व कांग्रेस दोनो दलों के अध्यक्ष बनने का ख्वाब पाले बैठे नेताओं को इसका बेसब्री से इंतजार हो रहा है। वैसे यह इंतजार 25 नवंबर तक तो समाप्त हो ही जायेगा और स्थिति साफ हो जायेगी कि नीमच नगरपालिका में अध्यक्ष हेतु कौन सा आरक्षण हुआ है। राजनीतिक जानकारों की माने तो नीमच में इस बार पिछडा वर्ग पुरूष और सामान्य महिला आरक्षण होने के अधिक चांस बन रहे है। 
यदि पिछडा वर्ग पुरूष आरक्षण हुआ तो नीमच से कांग्रेस की और से संभावित दमदार उम्मीदवारों में जिला कांग्रेस के कार्यवाहक अध्यक्ष ओम दीवान नजर आ रहे है, देखने में आया है कि उनकी छवि हर वर्ग को साथ लेकर चलने वाली है और उनके सरल व्यवहार के चलते आमजन के बीच अपनी अच्छी पकड रखते है। राजनीति के साथ ही वे खेल, सामाजिक कार्यो में अग्र्रणी रहते है। वहीं वे पूर्व नपाध्यक्ष रही स्वर्गीय सीमा आरडी दीवान के परिवार से संबंध रखते है। ओम दीवान नीमच के लिये काफी जाना पहचाना नाम है। और बीते विधानसभा चुनावों में नीमच विधानसभा से विधायक उम्मीदवार के लिये कांग्रेस की और से उनका नाम प्रमुखता से लिया गया था। वे पूर्व पार्षद भी रह चुके है आमजनता से उनका सीधा सम्पर्क है।एक नाम और जो बीते निकाय चुनाव में कांग्रेस की और नपाध्यक्ष हेतु प्रमुखता से सामने आया था वो है पूर्व पार्षद एडवोकेट महेश पाटीदार का वे पिछड़ा सीट होने पर कांग्रेस से मजबूत उम्मीदवार हो सकते है। वे निरंतर समाचार पत्रो व सजीव रूप से आमजन के साथ मिलकर शहर की बड़ी समस्याओं को उठाते आ रहे है और उसके निदान के लिये वे निरंतर प्रयासरत है। कई समस्याओं को उन्होने हल भी किया है वे कानून के बडे ज्ञाता है। कानून की बारीकी जानकारी रखते है। उन्होने जिला चिकित्सालय में आमजन के हित के कई ऐसे कार्य किये है जिससे आमजन को लाभ मिल रहा है। नीमच शहर के लिये वे काफी जाना पहचाना नाम है और उनकी छवि प्रबुद्धजनों में होती है। वहीं कांग्रेस से हरीश दुआ भी मजबूत उम्मीदवार माने जा रहे है क्यों कि नीमच नगरपालिका में 2014 से पूर्व उनकी धर्मपत्नी नीता दुआ अध्यक्ष रह चुकी है ऐसे में हरीश दुआ को इस संबंध में ज्ञान गणित सब पता है और उस दौरान अधिकतर कार्य उन्होने किया था वे नीमच शहरवासियों के लिये अनजाना चेहरा भी नहीं है। 
वहीं भाजपा की बात करें तो पिछडा पुरूष आरक्षण होने पर भाजपा में कुछ ऐसे संभावित दावेदारो पर नजर डाले तो उनमें प्रमुख एक नाम भाजपा से जो सामने आ रहा है वो है नीमच सिटी निवासी मनीष चोरसिया जिनको दमदार उम्मीदवार माना जा रहा है। मनीष चोरसिया के बारे में कहा जाता है कि हर समय आमजन की मदद को तैयार खडे रहते है वे मदद करते समय पार्टी पोलीटिक्स नहीं देखते है और ना ही कोई वर्ग देखते है। हिन्दूवादी दमदार नेता होने के चलते उनकी शानदार छवि बनी हुई है। हमेंशा आमजन की सेवा सदैव तत्पर रहने वाले , हमेशा सामाजिक कार्याे में अग्रणी रहने वाले मनीष चोरसिया भाजपा के कद्दावर नेताओं मे से एक है बीते चुनाव में नपाध्यक्ष उम्मीदवार के लिये उनका नाम जोरदार तरीके से चला था लेकिन किसी कारण वश उन्हें टिकिट नहीं मिल पाया था। नपाध्यक्ष पद हेतु पिछडा वर्ग से भाजपा की और से संभावित उम्मीदवार हो सकते है, लेकिन मनीष चोरसिया उनमें प्रमुख नाम है।
वहीं यदि नीमच नपाध्यक्ष हेतु सामान्य महिला सीट आरक्षित हुई तो नीमच से कांग्रेस की और से तेज तर्रार नेत्री मधु बंसल मैदान में आ सकती है, उनकी कार्यशैली के चलते वे आमजन में काफी प्रसिद्ध है यह बात अलग है कि नीमच शहर के लिये वे कम ही सक्रिय नजर आती दिखती है लेकिन ग्रामीणों के लिये और ग्रामीण क्षैत्र की समस्याओं के लिये उन्हें प्रमुखता से आमजन के हित में कार्य करते देखा गया है। वैसे तो उनका झुकाव जावद में अधिक देखा गया है वे जावद विधानसभा में चुनाव लड़ने मानस बना चुकी थी लेकिन वहां अलग परिस्थिति बनी। वहीं कांग्रेस से अन्य महिला उम्मीदवारों में बात करें तो पूर्व नपाध्यक्ष नीता दुआ भी मैदान में आ सकती है। वहीं ज्ञानोदय की संचालिका माधुरी चोरसिया भी प्रमुख उम्मीदवारों में से एक है। माधुरी चोरसिया भी कांग्रेस की और मजबूत उम्मीदवार हो सकती है वे हमेंशा सामाजिक कार्यो में अग्रणी रहती है और आमजन के बीच उनकी छवि काफी अच्छी है और पूरे शहर में जाना पहचाना उनका नाम है। यह बात अलग है कि वे पूर्व में कांग्रेस से बागी होकर नपा चुनाव लड चुकी है। देखा गया है कि कांग्रेस में बागी होना कोई बाधा नहीं बनता हैै। महिला आरक्षण होने पर वे दमदार उम्मीदवार हो सकती है। 
वहीं भाजपा की और से देखा जाये तो सामान्य महिला होने पर अनेक उम्मीदवार ऐसे है जो मैदान में आ सकते है। उनमें प्रमुख नाम देखे तो जिनकी सक्रियता अधिक नजर आती है उनमें भाजपा नेत्री किरण शर्मा, वंदना खंडेलवाल ऐसे प्रमुख नाम है जिनको संभावित उम्मीदवार के रूप में देखा जा सकता है। 
कांग्रेस व भाजपा दोनो में ऐसा भी हो सकता है कि सामान्य महिला आरक्षण होने के चलते भाजपा व कांग्रेस में बडे नेताओं के द्वारा उनकी धर्मपत्नी को भी मैदान में उतारा जा सकता है। ऐसा होने पर हमेशा से देखा गया है कि नाम पत्नी का होगा प्रचार व प्रसार उनके पति नेता करेंगे। ऐसे में कहा नहीं जा सकता है कि भाजपा व कांग्रेस सामान्य महिला आरक्षण होने पर सामान्य में आने वाली महिला नेत्री जो पार्टी के लिये निरंतर सक्रिय नजर आती है उसको ही मौका दे। खैर यह अलग बात है अभी तो आरक्षण होना ऐसे में ये मात्र कयास भर है। 
वहीं यह भी माना जा सकता है कि यदि नपा नीमच में सामान्य पुरूष का आरक्षण फिर से हो गया तो भाजपा से पूर्व नपाध्यक्ष राकेश पप्पू जैन व महेन्द्र भटनागर संभावित प्रमुख दावेदार हो सकते है वहीं कांग्रेस की और से सामान्य पुरूष होने पर अरविंद चोपड़ा, ओम दीवान, हरीश दुआ आदि मे एक उम्मीदवार हो सकता है। सामान्य पुरूष होने पर 2014 में कांग्रेस से नपाध्यक्ष का चुनाव लड चुके उमरावसिंह राठोर फिर अपनी दावेदारी कर सकते है।  कांग्रेस व भाजपा यह जरूरी नहीं कि सामान्य पुरूष होने पर सामान्य केटेगिरी का ही व्यक्ति मैदान में उतारे समय और परिस्थिति को देखते हुए वहां सामान्य पुरूष में पिछडा वर्ग सहित अन्य वर्गो का उम्मीदवार भी मैदान में उतार सकते है।
साथ ही यहां यह भी कहना उचित होगा कि भाजपा में संगठन प्रमुख होता है किसी भी नेता का नाम चलने से कुछ नहीं होता है उम्मीदवार पर आखरी मुहर संगठन ही लगाता है। वहीं कांग्रेस में भी उतार चढाव देखने को मिलतेे है जितना राजनीतिक घटनाक्रम टिकिट देते समय कांग्रेस में देखा जाता है वैसा कहीं और नहीं देखने को मिलता है। बीफार्म आने तक कांग्रेस में यह पक्का नहीं कहा जा सकता है कि फला व्यक्ति चुनाव लडेगा। ऐन वक्त पर नये-नये घटनाक्रम बनते है। 
वैसे तो हम बाजारो में चर्चा के माध्यम से बात लिख सकते है लेकिन दोनो प्रमुख राजनीतिक दलों की वास्तविक स्थिति किसी को पता नहीं रहती है। जो नाम उम्मीदवारों के रूप आमजन के बीच व बाजारों में चल रहे होते है वे दरकिनार कर दिये जाते है और अचानक से हमारे सामने ऐसा नाम आ जाता है जिसके बारे में कभी कयास भी नहीं लगाये जाते है वो भी उम्मीदवार बन जाता है जो सभी के लिये आश्चर्यचकित कर देने वाला होता है। 
उपरोक्त विश्लेषण बाजारों में व आमजन के बीच चल रही चर्चाओं के आधार पर लिखा गया है। आने वाले समय में शहर परिक्रमा व वार्ड परिक्रमा कर आपको नपाध्यक्ष के और भी संभावित उम्मीदवारों सहित नीमच शहर के हर वार्ड में कांग्रेस व भाजपा से कौन उम्मीदवार हो सकते है उनकी जानकारी से अवगत करवाया जायेगा।  अधिक जानकारी के लिये बने रहिये वाॅइस आफ एमपी के साथ। 


SHARE ON:-

image not found image not found

© Copyright BABJI NETWORK PVT LTD 2020. Design and Developed By PIONEER TECHNOPLAYERS Pvt Ltd.