खबरे BREAKING NEWS : सिंचाई पानी की मांग को लेकर किसानों ने लगाया जाम, शाम सात बजे खोला जाम, पढ़े खबर BREAKING NEWS : कोटा में पकड़ा शातिर बाइक चोरो, पलक जपकते ही उड़ा लेते थे मोटरसाईकिल, पढ़े खबर NEWS : पश्चिमी विक्षोभ का असर तापमान पर, शीतलहर चलने की संभावना, पढ़े खबर BREAKING NEWS : युवक का अपरहण कर पांच लाख की मांगी फिरौती, पुलिस की बड़ी कार्यवाई, एक बाइक के साथ दो आरोपियों को किया गिरफ्तार, पढ़े खबर BREAKING NEWS : कड़ाके की सर्दी में मासूम बच्चो को लेकर आधी रात थाने पहुंचे ग्रामीण, पढ़े खबर BREAKING NEWS : मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और सांसद ज्याेतिरादित्य सिंधिया के बीच हुई मुलाकात महज 10 मिनट में हुई खत्म, पढ़े खबर OMG : चचेरा भाई ही निकला दुष्कर्मी और हत्यारा, घर में सोते समय बच्ची को उठाकर कुएं पर ले गया, दुष्कर्म किया और फिर गला दबाकर मार डाला, आरोपी गिरफ्तार, पढें कैलाश शर्मा की खबर BREAKING NEWS : रोडवेज में लोग सफर कर अपने घर ले जा रहे है कोरोना संक्रमण को, पढ़े खबर NEWS : अधूरी सडक़ निर्माण से आए दिन हो रहे बड़े हादसे, जिम्मेदार हो रहे मौन, पढ़े खबर NEWS : उज्जैन हॉकी फीडर सेन्टर हेतु खिलाड़ियों का चयन 7 दिसम्बर को, पढ़े खबर NEWS : कलेक्टर के निर्देशन में, औषधी विक्रेताओं का एक लायसेंस निरस्त और 5 लायसेंस निलम्बित, पढ़े खबर NEWS : एक संक्रमित मिलने पर घर से 100 मीटर एरिया ही बनेगा कंटेनमेंट जोन, पढ़े खबर BREAKING NEWS : पहले पत्नी पर चाकू से किया जानलेवा हमला, फिर किया खुद को घायल, पढ़े खबर BREAKING NEWS : 8 साल की चचेरी बहन से भाई ने किया रेप फिर कर दी हत्या, अपना गुनाह छुपाने के लिए शव को फेका कुंए में, पढ़े खबर SOCIAL ACTIVITY : कार्तिक पूर्णिमा पर महिला व बालिकाओं ने की गंगा माता की पूजा कर टाटियो का तिराई, पढें दशरथ नागदा की खबर 

BADI KHABAR : शिवराज ने आगर के गो-अभयारण्य में पूजा की, 3 घोषणाएं करेंगे: गायों को लेकर रिसर्च सेंटर भी बनेगा, पढें खबर

Image not avalible

BADI KHABAR : शिवराज ने आगर के गो-अभयारण्य में पूजा की, 3 घोषणाएं करेंगे: गायों को लेकर रिसर्च सेंटर भी बनेगा, पढें खबर

डेस्‍क :-

भोपाल । मध्य प्रदेश की गो-कैबिनेट की पहली बैठक रविवार को भोपाल स्थित मंत्रालय में हुई। इसमें बताया गया कि आगर में गायों को लेकर रिसर्च सेंटर बनेगा। इसके बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान आगर के सालरिया स्थित गो-अभयारण्य पहुंचे। यहां वे एक सभा को संबोधित करेंगे और 3 अहम घोषणाएं करेंगे।

गो-कैबिनेट की 4 प्रमुख बातें

प्रदेश को आत्मनिर्भर बनाने के लिए गोधन का इस्तेमाल किया जाएगा। स्वाबलंबन के लिए गोमाता की अवधारणा को लागू करेंगे।
गोशालाओं को आत्मनिर्भर बनाया जाएगा। गायों के गोबर और गोमूत्र का बेहतर उपयोग कैसेे करें, अधिकारी इस पर सुझाव लें और काम शुरू करें।
प्रदेश और देश में कई गोशालाएं, संस्थाएं इस दिशा में बेहतर काम कर रही हैं। मुख्यमंत्री ने स्वसहायता समूहों को गोशालाओं का संचालन करने की सहमति दी।
प्रदेश में बड़ी संख्या में गोशालाएं बनाई जाएंगी और इसमें समाज का सहयोग लिया जाएगा। सिर्फ पशुपालन विभाग नहीं, बल्कि अन्य विभाग भी इस भूमिका को निभाएं।
मुख्यमंत्री ने आगर में विशेषज्ञाें से चर्चा की
केंद्र सरकार के गोपाल रत्न पुरस्कार से सम्मानित एवं ब्राजील के गिर नस्ल के संवर्धन के लिए आधिकारिक सलाहकार गोंडल गुजरात के भुनेश्वरी विद्यापीठ के घनश्याम दास महाराज, अक्षयपात्र संस्थान के हिंगोनिया गोशाला के संचालक राधाप्रिय दास, कृष्णायन संस्था हरिद्वार के स्वामी ऋषभ आनंद, श्योपुर के बाल आंग्रे, बंसी गिर गोशाला अहमदाबाद के गोपाल भाई सुतारिया, गिर गोजतन संस्थान राजकोट के रमेश भाई रूपारेलिया, बंसी गोधाम काशीपुर उत्तराखंड के नीरज चौधरी,त्रिकुटा आयुर्वेद रिसर्च प्राइवेट लिमिटेड के डॉ. आरसी दीक्षित, भारत भारती गोशाला बैतूल के मोहन नागर से चर्चा की। सीएम ने अभयारण्य में विभिन्न कार्यों का भूमिपूजन किया। साथ ही इस दौरान लोगों से सीएम ने चर्चा भी की। सीएम के साथ पशुपालन मंत्री प्रेम सिंह पटेल व सूसनेर से निर्दलीय विधायक राणा विक्रम सिंह भी मौजूद रहे।
सीएम शिवराजसिंह विशिष्ट अतिथियों से बैठक में गायों के उत्थान के लिए चर्चा कर रहे है। उन्होंने कहा कि सभी विभागों के संपूर्ण समन्वित प्रयास से गौ संरक्षण और संवर्धन के लिए आवश्यक काम किया जाए। इसीलिए हमने मंत्रिपरिषद की एक विशिष्ट समिति बनाई है ताकि संपूर्णता के साथ विचार कर काम किया जा सके।

सीएम के लिए अभयारण्य का कायाकल्प, पर गायों की स्थिति खराब
सालरिया में 472 हेक्टेयर में फैले एशिया के सबसे बड़े गौ अभयारण्य का मुख्यमंत्री के पहुंचने से पहले कायाकल्प किया गया। सीएम शेड क्रमांक 8 में गायों की पूजा करेंगे और इसके बाद एक स्थानीय कार्यक्रम को संबोधित करेंगे। शेड क्रमांक 8 में प्रशासन ने तंदुरुस्त गायों को पूजन के लिए रखा गया है। इस शेड से थोड़ी दूर शेड-24 में रखी गई कई गायों की स्थिति खराब है।

इसके अलावा गो संरक्षण के लिए शिवराज सरकार गाय टैक्स (काऊ सेस) लगाने पर भी विचार कर रही है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इसके संकेत दिए हैं। इसी तरह का टैक्स लगाने का मसौदा कमलनाथ सरकार में भी अफसरों ने तैयार किया था। शिवराज सरकार भी ऐसे ही विकल्पों के जरिए गायों के भरण-पोषण की तैयारी कर रही है।

अंतर सिर्फ इतना है कि कमलनाथ सरकार महंगी कारों, स्टाम्प ड्यूटी और टोल प्लाजा की फीस बढ़ाकर गोशालाओं का निर्माण करना चाहती थी, लेकिन शिवराज सरकार गायों के चारे-भूसे की स्थाई व्यवस्था करने के लिए रजिस्ट्री, वाहन और शराब पर सेस लगाने के विकल्पों पर विचार कर रही है।

राज्य में करीब 1500 गो-शालाएं
प्रदेश में करीब 1500 गो-शालाएं हैं, जिनमें 1.80 लाख गायों को रखा गया है। पिछली कमलनाथ सरकार ने बजट में प्रति गाय 20 रुपए का आवंटन किया था। पिछले वित्तीय वर्ष में पशुपालन विभाग का बजट 132 करोड़ रुपए रखा था, जबकि 2020-21 में तो यह सीधे 11 करोड़ रुपए हो गया यानी लगभग 90% की कटौती कर दी गई।


SHARE ON:-

image not found image not found

© Copyright BABJI NEWS NETWORK 2017. Design and Developed By PIONEER TECHNOPLAYERS Pvt Ltd.