खबरे BIG NEWS : वंडर सीमेंट लिमिटेड में मनाया गया गणतंत्र दिवस, कंपनी के वरिष्ठ अध्यक्ष ने किया ध्वजारोहण, पढ़े ब्यूरो चीफ संजय खाबिया की खबर NEWS : दिन- दहाड़े सुने मकान में हुई चोरी, चौकीदार ने किया इस बात का खुलासा, पढ़े ब्यूरो चीफ संजय खाबिया की खबर OPINION : खतरनाक फैसला, वो भी महिला न्यायमूर्ति का,हाईकोर्ट के फैसले की चौतरफा आलोचना, एसे कैसे बच्चों को न्याय मिलेगा मी लार्ड,पढें खबर NEWS : 27 जनवरी तक जिले में लगेंगे 2300 स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं को वैक्सीन के टिके, टीकाकरण का रहेगा ये समय, पढ़े खबर BIG NEWS : मल्हारगढ़ पुलिस को मिली बड़ी सफलता, मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान के द्वारा चलाये जा रहे अभियान के अंतर्गत एक नाबालिक बालिका, एक महिला और एक पुरुष को किया दस्तयाब, पढ़े खबर BADI KHABAR : बुजुर्ग पहुचा था सीएम शिवराज के पास फरीयाद लेकर,अधिकारियों से कहा, मिलने दो वरना गाड़ी के आगे कूद जाऊंगा,पढें खबर BIG NEWS : NSUI के कार्यकर्ताओं द्वारा निकाली गई तिरंगा यात्रा, डीजे पर देशभक्ति के गीत बजाते हुए लहराया झंडा, पढ़े खबर WEATHER NEWS : गणतंत्र दिवस पर मौसम रहेगा सर्द, प्रदेश में कल न्यूनतम तापमान में और गिरावट होने की संभावना,पढें खबर NEWS : विश्व सिंधी सेवा संगम द्वारा नीमच में मनाया गया धूमधाम से गणतंत्र दिवस, निशुल्क जुडो कराटे शिविर में आए बच्चों को वितरित की मिठाईया, पढ़े खबर NEWS : गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर राजस्थान की तीन हस्तियों को पद्मश्री पुरस्कार, पढें खबर BIG NEWS : भाजपा के पूर्व सांसद और राजघराने के महाराज लोकेन्द्र सिंह का निधन, सीएम ने ट्वीट कर जताया शोक, पढें खबर BIG NEWS : गैंगरेप की बेहद दरिंदगी भरी घटना, महिला से रेप कर प्राइवेट पार्ट में डाल दी बोतल, आरोपी फरार, पढें खबर NEWS : मुख्यमंत्री गहलोत ने केन्द्र पर साधा निशाना कहा, हो रहा जांच एजेंसियों का दुरुपयोग, देश में लोकतंत्र को खतरा, पढें खबर OMG ! : गरीब के घर सरकार, सीएम को देख छेदीकोल का परिवार हुआ गदगद, कुटिया में बैठ लिया रोटी चावल, चने का साग, और कढ़ी का स्वाद, कहा भोजन स्वादिष्ट था, पढें खबर BIG NEWS : कोरोना वारियर्स को सम्मानित कर जे.के.सीमेंट वर्क्स में मनाया गया गणतंत्र दिवस, कंपनी के सहायक उपाध्यक्ष ने फहराया ध्वज, पढ़े ब्यूरो चीफ संजय खाबिया की खबर

BREAKING NEWS : अब परफॉरमेंस को मिलेगी प्राथमिकता, मिशन 2023 के लिए कांग्रेस का मेगा प्लान, फिर खड़ा होगा पुराना संगठन, पढ़े खबर

Image not avalible

BREAKING NEWS : अब परफॉरमेंस को मिलेगी प्राथमिकता, मिशन 2023 के लिए कांग्रेस का मेगा प्लान, फिर खड़ा होगा पुराना संगठन, पढ़े खबर

भोपाल :-

भोपाल l मध्यप्रदेश की 28 सीटों के परिणाम कांग्रेस के अनुकूल नहीं थे। कांग्रेस ने सत्ता में वापसी का दावा किया था लेकिन उसे मात्र 9 सीटों पर जीत मिली। कांग्रेस का फोकस अब 2023 में होने वाले विधानसभा चुनाव पर है। इसके लिए पूर्व सीएम कमलनाथ संगठन को मजबूत करने के लिए फोकस कर रहे हैं। हार के बाद से ही कायस लगाए जा रहे हैं कि कमलनाथ नेता प्रतिपक्ष या प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष में से कोई एक पद छोड़ सकते हैं।

कांग्रेस में अब संगठन की मजबूती पर सबसे ज्यादा फोकस है। प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने इसके लिए परफॉरमेंस को पहली प्राथमिकता पर रखा है। इसके तहत संगठन में परफॉरमेंस ऑडिट के आधार पर पद और जिम्मेदारी दी जाएगी। इसके लिए नए सिरे से गाइडलाइन तय की गई है। इनके आधार पर ही कार्यकर्ताओं को प्रदेश और जिले में पद दिए जाएंगे। इतना ही नहीं पदाधिकारियों के काम का रिपोर्च कार्ड भी बनेगा। प्रदेश से जिले और ब्लॉक के पदाधिकारियों की हर छह माह में समीक्षा होगी।

दरअसल, कमलनाथ का नया संगठन अब मिशन 150 यानी 2023 के विधानसभा चुनाव की तैयारी के तहत बनाया जाएगा। इसी बीच में नगरीय निकाय, पंचायत और मंडी चुनाव भी होने हैं, जिनमें कांग्रेस अपनी धमक दिखाने की तैयारी कर रही है। इन चुनावों में जिला और ब्लॉक स्तर के संगठन की अहम भूमिका रहने वाली है।

योग्यता को मिलेगा मौका
एमपी में उपचुनाव में हार के बाद अब कांग्रेस नए फॉर्मूले के तहत संगठन को मजबूत करने में जुट गयी है। इसके लिए कांग्रेस ने अपना माइक्रो फॉर्मूला तैयार किया है। इस फॉर्मूले के तहत अब कांग्रेस की इकाई को ना सिर्फ सीमित संख्या में गठित किया जाएगा बल्कि काम और योग्यता के आधार पर ही कार्यकर्ताओं को टीम में जगह दी जाएगी।

नया फार्मूला
सूत्रों का कहना है कि संगठन की सभी इकायों को भंग कर नए सिरे से पुर्नगठन की तैयारी कर ली है। एमपी कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं की पीसीसी चीफ कमलनाथ के नेतृत्व में बैठक भी हो चुकी है। जल्द ही नए फॉर्मूले के साथ कांग्रेस की नई टीम का गठन करने की तैयारी की जा रही है। पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा के अनुसार, प्रदेश की सभी कांग्रेस इकाइयों को भंग कर नए सिरे से गठन किया जाना चाहिए। इसके गठन को लेकर एक माइक्रो फॉर्मूला तैयार किया गया है। एक फॉर्मेट के तहत ही पूरे संगठन की संरचना अलग प्रकार से की जाएगी।

सेवादल पर भी फोकस
कांग्रेस में सेवादल को फ़ौजी अनुशासन और जज़्बे के लिए जाना जाता है। इसका संगठनात्मक ढांचा और संचालन का तरीक़ा सैन्य रहा है। कभी कांग्रेस में शामिल होने से पहले सेवादल की ट्रेनिंग ज़रूरी होती थी। इंदिरा गांधी ने राजीव गांधी की कांग्रेस में एंट्री सेवादल के माध्यम से ही कराई थी। नेहरू से लेकर राहुल गांधी तक सब सेवादल को ‘कांग्रेस का सच्चा सिपाही’ कहते रहे हैं। लेकिन अब सेवा दल खत्मे की तरफ है। मध्यप्रदेश में कांग्रेस एक बार फिर से सेवादल को मजबूत करने की तैयारी कर रहा है।

बूथ पर फोकस
जानकारों का कहना है कि कांग्रेस ने जमीनी स्तर पर बूथ पर पकड़ बनाने के लिए बूथ सहयोगी नियुक्त करनी चाहिए। कांग्रेस की योजना हर बूथ पर दस सहयोगी नियुक्त करने की है। बूथ पर फोकस औऱ अपने कार्यकाल के किए कामों के प्रचार जनता के बीच कांग्रेस को एक बार फिर से खड़ा कर सकता है।


SHARE ON:-

image not found image not found

© Copyright BABJI NETWORK PVT LTD 2020. Design and Developed By PIONEER TECHNOPLAYERS Pvt Ltd.