खबरे WOW: वरिष्ठ पत्रकार मुस्तफा हुसैन ने कायम की सामाजिक समरसता की मिसाल, राम मंदिर निर्माण में किया निधि समर्पण, पढें खबर BIG BREAKING : गांधी सागर अभ्यारण में मरा पड़ा मिला तेंदुआ, इलाके में फैली सनसनी, वनविभाग ने पीएम करवा कर किया अंतिम संस्कार, पढें रशीद खान की रिपोर्ट BIG NEWS : गणतंत्र दिवस पर शहीदों के सम्मान में हुआ 61 यूनिट रक्तदान, पढ़े ब्यूरो चीफ संजय खाबिया की खबर BIG NEWS : बाबा खाटू श्याम की भव्य भजन संध्या कल पालसोड़ा में, सजेगा भव्य दरबार, विख्यात कलाकार देंगे प्रस्तुति, पढ़े खबर  BADI KHABAR : नगरीय निकाय चुनाव में जलसंकट मुद्दा उम्मीदवारों के गले में सवालों की फांस बनने वाला होगा साबित, पढें खबर NEWS : इनरव्हील क्लब नीमच द्वारा गणतंत्र दिवस बहुत ही हर्षोल्लास से मनाया गया, पढ़े बद्रीलाल गुर्जर की खबर   SHOK SAMACHAR : नहीं रही पुष्पा देवी सोड़ानी, परिवार में शोक की लहर, उठावना कल, पढ़े खबर  NEWS : लाख प्रयासों के बाद भी स्वच्छता में नंबर एक नहीं आ पा रहा प्रदेश का यह शहर, जाने कारण, पढें खबर BIG BREAKING : दिल्ली हिंसा के बाद किसान आंदोलन में पडी फूट, दो संगठनों ने आंदोलन ख़त्म करने का किया ऐलान, पढें खबर BIG NEWS : पीडित परिवार को आठ लाख रूपये की आर्थिक सहायता स्‍वीकृत, पढ़े शब्बीर बोहरा की खबर  BIG NEWS : सात दिवस श्री मदभागवत के आयोजन समस्त ग्रावासियों के सहयोग से बालाजी गोशाला बर्डिया जागीर  मे सम्पन्न हुई, पढ़े शब्बीर बोहरा की खबर  BIG NEWS : महाकाल मंदिर के मुख्य पुजारी, अमिताभ बच्चन की जान बचाने से लेकर, कोरोना को भगाने तक कर चुके हैं हवन पूजन के कार्यक्रम, पढें खबर BADI KHABAR : मां के पीछे छत पर गए थे 5 साल की मासूम को लेकर भाई-बहन, बच्ची की तीसरी मंजिल से गिरने से मौत, पढें खबर BIG NEWS : दिल्ली के बाद उज्जैन में लगे देश विरोधी नारे, पाकिस्तान जिंदाबाद और कश्मीर लेकर रहेंगे, चार हिरासत में चार फरार, पढें खबर MANDI : एक क्लिक में पढें कृषि उपज मंडी छोटीसादड़ी के भाव, जाने किस धान में आया उछाल और किसके गिरे दाम, पढें कैलाश शर्मा की खबर

NIJI VICHAR : किसान विधेयक बिल को लेकर भाजपा किसानों, मजदूरों को गुलामी की ओर धकेल रही है, कृषि विधेयक से बड़े उद्योगपतियो को फायदा- भगत वर्मा , पढें खबर

Image not avalible

NIJI VICHAR : किसान विधेयक बिल को लेकर भाजपा किसानों, मजदूरों को गुलामी की ओर धकेल रही है, कृषि विधेयक से बड़े उद्योगपतियो को फायदा- भगत वर्मा , पढें खबर

नीमच :-

नीमच।  नईदिल्ली  में  किसान  नई श्रम निती के विरोध में जो आन्दोलन कर रहे हैं है  वह किसानों  के हित में है ।  भारतीय जनता पाटी ने तथा पूर्व की जनसंघ पार्टी हमेशा से व्यापारियों तथा बड़े घरानो के हितों की राजनीति करती रही है। यह पार्टी किसानों मजदूरों व छोटे व्यापारियों की शुभचिंतक नहीं है। चंद बड़े उद्योगपतियों को लाभ पहुँचाना भाजपा की रीति-नीति है। इस बार राष्ट्रीय स्तर पर किसानों की खेती व रोजगार तथा उनके आत्मनिर्भर अर्थतंत्र पर भाजपा ने मनमाने तौर पर विधेयक लाकर हमला बोला है। जिला कांग्रेस नीमच  के   प्रवक्ता   तथा   मजदूर  संगठन   इटंक  नीमच  के  जिला  महामंत्री   भगत वर्मा  ने अपने बयान में कहा कि संसद में बहुमत का लाभ उठाकर देश के प्रमुख केन्द्र कृषि क्षेत्र को किसानों के हाथ से छिनकर चंदबड़े उद्योग व घरानो को सौंपा जा रहा है।  भाजपा के किसान मजदूर विरोधी कानूनों का राष्ट्रव्यापी विरोध चोपाल चोपाल पर करेंगे। किसानों को सुरक्षित व स्वतंत्र रखने के लिए कांग्रेस वचनबद्ध है उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा सत्ता में रहकर किसानों तथा मजदूरों को परेशान कर रही है। म.प्र. की कृषि उपज मंडियों में माॅडल एक्ट के विरूद्ध जबरदस्त आक्रोश है। म.प्र. की शिवराज सरकार चंद उद्योगपतियों के कहने पर वर्तमान में चल रही व्यवस्थाओं को समाप्त करना चाहती है। व्यवस्थाऐं समाप्त होने पर मण्डी हम्मालों, तुलावटीयों, किसानों तथा उपभोक्ताओं का भारी शोषण होगा नए माॅडल एक्ट के तहत किसानों की उपज को जमाखोर संग्रहित कर लेंगे। इस नई व्यवस्था से हमारा देश गुलामी की ओर बढ़ जाएगा। केन्द्र की व राज्य की सरकार जमाखोरी को कानून का रूप दे रही है। श्री   वर्मा   ने कहा कि किसान विधेयक बिल किसानों की स्वतंत्रता पर कुठारा घात है। एक तरफ पुरा देश कोरोना महामारी से संघर्ष कर रहा है। वहीं दूसरी ओर केन्द्र की मोदी सरकार व्यापार व्यवसाय का निजीकरण के रास्ते खोलने में लगी है। मंदसौर में किसानों पर जो गोलीकांड हुआ था। प्रदेश की शिवराज सरकार के लिए ताबुत में किल बना था ठीक वैसे ही भाजपा में नया किसान विरोधी विधेयक देश में भाजपा मोदी सरकार के ताबुत में किल साबित होगा। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी विधेयक के संबंध में किसानों को गुमराह कर रहे हैं। इसके पूर्व नोटबंदी जीएसटी कालाधन जैसे अनेक मुद्दों पर भाजपा व नरेन्द्र मोदी ने देश को गुमराह किया है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का हर वक्तव्य झुठा साबित हुआ है। श्री वर्मा  ने अपने बयान में कहा कि  स्वामीनाथन आयोग   की   सिफारिशों को लागू करना कठिन होगा । नई श्रम निती के विरोध में देश के दस श्रमिक संगठनो ने 26 नवंबर को  मोदी सरकार के खिलाफ आम हड़ताल कि थी । अभी तक बनाए गए कानून ओर प्रावधानों के अनुसार खेती पर किसानों का ही एकाधिकार था ,लेकिन अब इस नए कानून से  बड़ी बड़ी कंपनियों , उद्योगघरानो के हाथो में खेती चली जाएगी ।तथा मनमानी किमतो से  फसल की खरीदी होगी । तीनों किसान बिल   किसानों के हित में नहीं है ।


SHARE ON:-

image not found image not found

© Copyright BABJI NETWORK PVT LTD 2020. Design and Developed By PIONEER TECHNOPLAYERS Pvt Ltd.