खबरे BIG NEWS : इंदौर में कॉलेज के एक प्रोफेसर की मौत से मचा हडकंप, विश्वविद्यालय में 20 कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव,देवी अहिल्या विवि में बिना मास्क पहने लोगों की नो एंट्री, पढें खबर BIG NEWS : 'उड़ता पंजाब' बनने जा रहा ये शहर,पुलिस ने इंजीनियरिंग स्टूडेंट सहित दो लड़कों को लिया हिरासत में,मिली लाखों की 'म्यांऊ.म्यांऊ', पढें खबर BADI KHABAR : स्‍व.सहायता समूह भी करेगें, अब गेहूं उपार्जन का कार्य,पढें शब्बीर बोहरा की खबर BIG NEWS : गरीब आदिवासी महिला ने दिया राम मंदिर निर्माण में दान, महिला की राम मंदिर निर्माण पर अपार श्रद्धा देख सभी कर रहे हैं प्रशंसा,पढें आशीष बैरागी की खबर KOTA MANDI : कोटा भामाशाहमंडी आज के भाव, देखे किस जींस में आया उछाल, सोयाबीन व धनिया में तेजी, अन्य जिंसों के भाव स्थिर रहे, पढें खबर BIG NEWS : संतुलन बिगड़ने से बाईक दुर्घटनाग्रस्त, घायलों को तहसीलदार तिवारी ने पहुंचाया हॉस्पिटल, पढें मेंहबूब मेंव की खबर NMH MANDI : एक क्लिक में पढें नीमच मंडी भाव, पोस्‍ता जाने महेन्‍द्र अहीर के साथ किस धान में आया उछाल, पढ़े खबर BIG NEWS : धरियावद सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र को लेकर चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री किया आश्वस्त,कहा-शैय्याओं में वृद्धि किये जाने के प्रयास करेंगे, पढें दिलिप भारद्वाज की खबर PRATAPGARH : एक क्लिक में पढें कृषि उपज मंडी प्रतापगढ़ मण्डी भाव, जाने किस धान में आया उछाल और किसके गिरे दाम, जाने दिलीप भारद्वाज के साथ BADI KHABAR : बाल सलाहकार बोर्ड की बैठक एक मार्च को मिनी सचिवालय सभागार में होगी आयोजित, पढें दिलिप भारद्वाज की खबर BIG NEWS : गोमाबाई नेत्रालय नीमच द्वारा 26 फरवरी को चित्तौड़गढ़ की प्रशासनिक अनुमति एवं आर्थिक सहयोग से निःशुल्क नेत्र परीक्षण शिविर का आयोजन,पढें संजय खाबिया की रिपोर्ट BIG NEWS : जिंक नगर में चल रहे रात्रि कालीन टूर्नामेंट में हाइड्रो टू और सीपिपी कॉमर्शियल टिमो ने जीते मैच, पढें संजय खाबिया की रिपोर्ट MDS MANDI : एक क्लिक में पढें कृषि उपज मंडी मंदसौर के भाव, जाने किस धान में आया उछाल और किसके गिरे दाम, पढें खबर

NEWS : गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर राजस्थान की तीन हस्तियों को पद्मश्री पुरस्कार, पढें खबर

Image not avalible

NEWS : गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर राजस्थान की तीन हस्तियों को पद्मश्री पुरस्कार, पढें खबर

जयपुर :-

जयपुर। गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर सोमवार को विभिन्न क्षेत्रों में उल्लेखनीय योगदान देने वाली राजस्थान की 3 हस्तियों को पद्मश्री पुरस्कार देने की घोषणा की गई है। इनमें बेटी बचाओ-पर्यावरण जैसे गंभीर मुद्दों के जरिए देशभर में अपनी पहचान बना चुके राजसमंद के प्रगतिशील समाजसेवक श्याम सुंदर पालीवाल समेत मशहूर लोकगायक और सिंधी सारंगी महारथी लाखा खान और पाली के साहित्यिक सफर के राही अर्जुनसिंह शेखावत शामिल हैं। पद्मश्री पुरस्कार के लिए चुने गए यह सभी लोग जमीनी स्तर पर काम करने वाले हैं।

पाली के अर्जुनसिंह शेखावत को मिलेगा पद्मश्री-
 

राजस्थानी भाषा व साहित्य में उल्लेखनीय योगदान देने पर पाली के 87 वर्षीय साहित्यकार अर्जुनसिंह शेखावत को पद्मश्री से नवाजा जाएगा। शहरवासियों ने शेखावत को फोन कर पद्मश्री मिलने की बधाई दी। राजस्थान भाषा व साहित्य को जीवन समर्पित करने वाले शेखावत ने अपने जीवन की शुरुआत एक शिक्षक के रूप में की थी। इसके बाद वे बीडीओ बने। इस बीच उनका साहित्य प्रेम बढ़ता गया। राजस्थानी भाषा और संस्कृति व आदिवासी जीवन पर लिखे साहित्य के कारण यह पुरस्कार मिला है। वे अब तक 22 पुस्तकें लिख चुके है तथा कई पुस्तकों का अनुवाद और संपादन किया है। इस तरह उनके साहित्य की संख्या 50 तक पहुंच गई।

पर्यावरण संरक्षण के लिए राजसमंद के श्यामसुन्दर पालीवाल को पद्मश्री
निर्मल गांव पिपलांत्री के पूर्व सरपंच श्याम सुंदर पालीवाल को केन्द्र सरकार की ओर से पद्मश्री से नवाजा जाएगा। पालीवाल को राजसमंद जिले के निर्मल ग्राम पिपलांत्री में जलग्रहण व पर्यावरण संरक्षण की विभिन्न परियोजनाओं, नवाचारों, बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान चलाकर क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य करने पर सम्मानित किया जाएगा। श्याम सुंदर पालीवाल की 'कौन बनेगा करोड़पति' में भी सराहना हो चुकी है। उनके गांव को देखने के लिए दुनियाभर के लोग आते हैं। राहुल गांधी भी श्याम सुंदर पालीवाल के कार्य की सराहना कर चुके हैं। पालीवाल ने ग्रामीणों के सहयोग से सरपंच रहते हुए जलग्रहण और पर्यावरण की योजनाओं में जनसहयोग से पूरे इलाके में हजारों पेड़ लगवाने का काम भी किया है। यहां हर बेटी के जन्म पर 111 पौधे लगाने का रिवाज शुरू किया।

सिंधी सारंगी के महारथी है लाखा-
 

लोकसंगीत के सुरीले स्वरों और सिंधी सारंगी की मिठास से लाखा खान ने देश दुनिया में अलग पहचान बनाई है। जोधपुर के फलौदी तहसील के राणेरी गांव रहने वाले लाखा ख़ान उन्होंने अपनी पुरखों की विरासत को संभाले हुए देश के साथ-साथ विदेशों में भी कार्यक्रम दिए। लाखा खान को सिंधी सारंगी का महारथी कहा जाता है। उनकी सिंधी सारंगी से निकलने वाले स्वर श्रोताओं के कानों में मिश्री घोलने का काम करते है। लाखा खान जयपुर लिटरेचर फेस्टिवल और जोधपुर रिफ फेस्टिवल में भी नामचीन कलाकारों के साथ अपनी कला का प्रदर्शन कर चुके l


SHARE ON:-

image not found image not found

© Copyright BABJI NETWORK PVT LTD 2020. Design and Developed By PIONEER TECHNOPLAYERS Pvt Ltd.