खबरे NEWS: आज देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का जन्मदिन सेवा प्रकल्प के रूप में मनाया जायेगा - मनीष शर्मा POLITICS: मंदसौर में शिवराज, कमलनाथ के बिजली बिल हाफ और कर्ज माफ पर शिवराज का हमला, बोले- मामा अभी जिंदा है, पढें खबर OMG: आफत की बारिश, चंबल के पानी ने ऐसा बरपाया कहर की सबकुछ हो गया सेसई गांव मे बर्बाद, पढें खबर SHOK KHABAR: नही रहे गोपाल कृष्‍ण अग्रवाल, परिवार में शोक की लहर, शवयात्रा आज 6 बजे, पढें खबर NEWS: पॉलिथीन मुक्त शहर बनाने वितरित की १५ हजार कपड़े की थैलियां, पढें खबर NEWS: आर्म्स एक्ट मे फरार स्थाई वारंटी गिरफ्तार,पढे खबर BREKING NEWS: ग्राम डमलु मे संतरे के बगीचे मे मिला एक अज्ञात व्य क्ति का शव,ग्रामीणो मे फैली दहशत ,पढे खबर BIG NEWS: गांधी सागर बांध को लेकर राहत की खबर, एक बडा गेट किया बंद, पानी की आवक जारी, पढें खबर BIG NEWS: सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी ऑफ इंडिया ने किया सराहनीय कार्य, जान की बाजी लगाकर बचाई 70 से 80 लोगो की जान,पढे शाहिद अंसारी कि खबर POLITICS: रामपुरा में युवा कांग्रेस ने राहत शिविरों में पहुंच वितरण की राहत सामग्री, बाढ पीड़ितों के स्वास्थ्य की हुई जांच,दवाइयां बांटी, पढें खबर BIG NEWS: विक्रम सीमेंट फैक्‍ट्री के खिलाफ हुवे नीमच नया गांव मोटर मालिका संघ, कनावटी देवनारायण मंदिर पर हुई बैठक, ये लिये निर्णय, पढें खबर BIG NEWS: रामपुरा के बाढ़ पीड़ितो के लिए डॉ. साजिद ने 250 से ज्यादा मरीजो को दी अपनी सेवाएं,आज भी रामपुरा में ही देंगे अपनी सेवाएं,पढे शाहिद अंसारी कि खबर BIG NEWS: मंदसौर के करीब 120 गांव बाढ़ की तबाही से पुरी तरह हुवे बर्बाद,बाढ़ यहां के लोगों का सब कुछ बहाकर ले गई, त्रासदी के 2 दिन बाद गांव पहुंचे SDM को लोगों का आक्रोश देखकर उल्टे पांव भागना पड़ा.पढे खबर NEWS: ओमप्रकाश क्षत्रिय पाती में सम्मानित NEWS: चंबल नदी में उफान के कारण प्रशासन ने मुरैना के 89 गांवों में जारी किया अलर्ट,खतरे के निशान से 5 मीटर ऊपर बह रहा है चंबल का पानी,पढे खबर

REPORT: तपती धूप में नही मिलता दो बूंद पानी, नीमच मंडी में बर्बाद हो रहा है कारोबार, राजस्‍थान सें आने वाले किसान मंडी में आने से कर रहें है तौबा

Image not avalible

REPORT: तपती धूप में नही मिलता दो बूंद पानी, नीमच मंडी में बर्बाद हो रहा है कारोबार, राजस्‍थान सें आने वाले किसान मंडी में आने से कर रहें है तौबा

नीमच :-

नीमच की अनाज मंडी का प्रदेश एवं आसपास के राज्यों में विशिष्ट स्थान है यहां किसानों की उपज की कद्र करते हुए उनकी उपज के दाम भी अच्छे प्राप्त होते हैं। यही कारण है कि इस क्षेत्र के अलावा आसपास के एरियों एवं राजस्थान के दूर दराज के इलाकों के किसान भी अपनी उपज यहां लाना पसंद करते हैं।

अभी उपज निकालने एवं मण्डी में लाने का मुख्य सीज़न है। अभी व्‍यापार अपने पूर्ण यौवन पर है। लेकिन मुख्य समस्या है प्याज एवं लहसुन मंडी के सम्पूर्ण एरिया में लगने वाले जाम की। इस समय इनकी भरपूर आवक होने से इस मंडी प्रांगण से सटे एरियों में दूर दूर तक ट्रैफिक जाम की स्थिति निर्मित हो जाती है।चूंकि किलेश्वर रोड से स्टेशन के बीच सड़क पर यातायात का दबाव वैसे भी काफी अधिक रहता है। ऐसे में इस रोड पर उपज लेकर आई हुई इन गाड़ियों से अधिकांश समय जाम लगा रहता है। जिससे इस रोड पर से गुजरने वाले राहगीरों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है। कई बार तो इस जाम के कारण लोगों की ट्रेन छूट जाती है।

ऐसे में उनके रिज़र्वेशन के पैसे भी जाते हैं और वो वक़्त पर अपने गंतव्य स्थान पर नही पहुँच पाते। जिससे उन्हें काफी परेशानी होती है। साथ ही किलेश्वर मंदिर में दर्शन करने आने वालों को भी काफी परेशानी होती है। इसके अतिरिक्त वहाँ होटल राज पैलेस ऑफिसर कॉलोनी किलेश्वर लाइन सीआरपीएफ आदि व्यस्त कॉलोनियां हैं। जहां रात दिन अफसरों का एवं आम लोगों का आना जाना लगा रहता है। एवं इनके बच्चे भी यहां खेलते हैं।गाड़ियां लगातार आने से कई बार दुर्घटनाएं घटित हो चुकी है।एवं जाम लगने से इन्हें काफी दिक्कतें आती है।

इस गंभीर समस्या का कोई निदान न होना काफी अचरज का विषय है।इस तरह जाम लगने से दूर दराज से आये हुए किसानों को काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ता है। 2 दिन तक तो उनके नम्बर ही नहीं आते। ऐसे में यदि बीच में मण्डी की छुट्टी आ गई तो फिर तो 3 या 4 दिन हो जाते हैं। कई किसान 300 से लेकर 500 किलोमीटर दूर से आते हैं। ऐसे में इतने दिन इंतेज़ार करते हुए ये काफी परेशान हो जाते हैं।एवं घर परिवार से दूर यहां तपती गर्मी में बिना किसी सुविधा के यहां इस तरह खड़े रहने से इनके अन्दर का दर्द छलक उठता है।

राजस्थान के झालावाड़ ज़िले के दूर दराज गाँव शिवपुरा के भेरूलाल का कहना है कि हम कल रात से आये हुए हैं।यहाँ काफी जाम लगा हुआ है। पता नहीं हमारा नम्बर कब आएगा? कब हमे अंदर लेंगे? कब माल की तुलाई होगी कब हमे पैसा मिलेगा और कब हम अपने गाँव वापस जाएंगे ये कुछ भी पता नहीं है।हम बहुत परेशान हैं। 250-300 कि.मी.दूर से आये हैं। गाड़ी का किराया भी काफी लग रहा है। यहां व्यवस्था के नाम पर कुछ भी नहीं है। पीने का पानी तक भी नहीं है।

छापीहेड़ा (ब्यावरा-राजगढ़) के बंटी जायसवाल का कहना है कि कल रात 8 बजे से आये हुए हैं।हमारा गांव लगभग 300-350 किलोमीटर दूर है।पूरी रात जागकर निकाली है।माल का ध्यान रखना पड़ता है।सो भी नहीं सकते।भूखे प्यासे है।अभी भी भगवान जाने कब नम्बर आएगा। पता नहीं कब तक इसी तरह परेशान होते रहेंगे और कब नम्बर आएगा।यहां सरकार की तरफ से कोई सुविधा उपलब्ध नहीं है।पीने तक का पानी भी नहीं है।आखिर हम किसानों के लिए कोई व्यवस्था तो होनी चाहिए।

रामलाल जी चौथखेड़ा का कहना है कि यहां आए दिन यही स्थिति रहती है।जाम लगने के कारण आने जाने वालों को भी काफी परेशानी होती है।लोग 2-2 घंटे जाम में फंस जाते हैं। कई बार जल्दबाज़ी करने में दुर्घटनाएं भी हो जाती है। ना तो शासन की और से कोई व्यवस्था है और न ट्राफिक वाले आकर व्यवस्था दुरुस्त करते हैं। जब जाम लगता है तो दोनों और से ट्रैफिक बन्द हो जाता है। लोगों में काफी झगड़े एवं मारपीट भी हो जाती है। अव्यवस्थाओं के कारण नम्बर भी जल्दी नहीं आता।


SHARE ON:-

image not found image not found

© Copyright BABJI NEWS NETWORK 2017. Design and Developed By PIONEER TECHNOPLAYERS Pvt Ltd.