OMG ! अशोक ट्रेवल्‍स में सवार यात्रीयों की दो बार हुई मौत से मुलाकात, नशे धुत्त ड्राईवर, यात्रियों की जान से हो रहा खिलवाड़, पढें खबर

Image not avalible

OMG ! अशोक ट्रेवल्‍स में सवार यात्रीयों की दो बार हुई मौत से मुलाकात, नशे धुत्त ड्राईवर, यात्रियों की जान से हो रहा खिलवाड़, पढें खबर

नीमच :-

आजकल निजी ट्रावेल्स बस वालों में प्रतिस्पर्धा एवं एक दूसरे की सवारी हथियाने की होड़ सी मची हुई है।इसी के चलते वे अंधाधुंध गाड़ियां चलाने एवं निर्दोष यात्रियों की जान साँसत में डालने से ज़रा भी परहेज नहीं करते।और यदि ऐसे में ड्राइवर शराब पीकरनशा करके लहराते हुए गाड़ी चला रहा हो तो फिर यात्रियों का भगवान ही मालिक है।

एक नही दो बार एक ही गाड़ी का एक्सीडेंट
ऐसा ही वाक़्या आज अशोक ट्रेवल्स की नीमच से अहमदाबाद जाने वाली बस में घटित हुआ। ये बस मंदसौर से आकर रात लगभग 10 बजे अहमदाबाद के लिए रवाना हुई। बस में मौजूद यात्रियों के अनुसार ड्राइवर पूरी तरह नशे में धुत्त होकर लहराते हुए तेज़ गाड़ी चला रहा था। यात्रियों के मना करने के बावजूद वो नही माना। आखिरकार रात क़रीब 11.30 बजे राजस्थान बॉर्डर के समीप उसने बस का ट्रक से आमने सामने एक्सीडेंट कर दिया। शुक्र रहा कि इसमें यात्रियों को हल्की -फुल्की चोंटे आयी। मगर यात्रियों के मना करने एवं बस रोकने के अनुरोध के बावजूद वो इसी तरह बस चलाता रहा नतीजतन सुबह लगभग 4 बजे दूसरी बार हिम्मतनगर के आसपास पुनः एक्सीडेंट कर दिया। इस बार नशे में धुत्त ड्राइवर ने जब बस को डिवाइडर से ठोका तो कई यात्रियों को चोंटे आयी।एवं उनका लगेज भी डेमेज हो गया।चोटिल यात्री चीख़ पुकार मचाते रहे।मगर सुनसान में सुनने वाला कोई नहीं था।क्लीनर घबराकर बस छोड़कर भाग खड़ा हुआ।ऐसे में यात्रियों ने उस रोड से जो बसें गुज़र रही थी उन्हें रुकवाकर उनमे बैठकर जैसे तैसे अहमदाबाद पहुँचकर अपनी जान बचाईएवं अपने स्तर पर इलाज करवाया।

नशे में धुत्त ड्राइवर की दादागिरी
बस में मौजूद यात्रियों के अनुसार जब पहली बार बस का ट्रक से एक्सीडेंट हुआएवं बस का अगला हिस्सा काफी डेमेज हो गया तब यात्रियों ने उस बस में आगे जाने से इनकार करते हुए दूसरी बस एवं ड्राइवर मंगाने हेतु कहा एवं बस मालिक को फ़ोन भी लगाया तथा ड्राइवर की शिकायत की गई।तब उदयपुर से दूसरी बस का इंतज़ाम करने का आश्वासन दिया गया।लेकिन उदयपुर पहुंचकर ड्राइवर नशे में यात्रियों से बदतमीज़ी करने लगा एवं कहने लगा कि दूसरी गाड़ी नही आएगी।जिसको जो करना है कर लो।डरे सहमे हुए यात्री वापिस मजबूर होकर बस में बैठकर सफर करने लगे जिसका नतीजा ये हुआ कि सुबह 4 बजे पुनः गाड़ी ठोककर बची खुची कसर भी पूरी कर दी।

बस संचालकों की मनमानी के चलते गई है कई जानें
इन निजी बस संचालकों की मनमानी के चलते आये दिन हादसे हो रहे हैं।यात्रियों की जान से खिलवाड़ किया जा रहा है। मगर कोई पुरसाने हाल नही है। अभी कुछ ही दिन पहले चार्टर्ड बस चालक ने अंधाधुंध चलाते हुए लोगों को रौंद दिया था।कब तक ऐसे निर्दोष लोगों की जान से खिलवाड़ का सिलसिला यूँ चलता रहेगा।सम्बंधित अधिकारियों परिवहन विभाग एवं ट्रॉफिक विभाग को वक़्त रहते इन निरंकुशों पर लगाम कसते हुए कुछ ठोस कार्यवाही अंजाम देनी होगी वर्ना ये हादसों का सिलसिला यूँ ही निरंतर चलता रहेगा।


SHARE ON:-

image not found image not found

© Copyright VOICEOFMP 2017. Design and Developed By Pioneer Technoplayers Pvt Ltd.