NEWS: किसानों को रूलाने वाला प्‍याज अब रूलायेगा आम जनता कों, 100 से 450 रु. क्विंटल का प्याज 2000 रु. पर पहुंचा, पढें खबर

Image not avalible

NEWS: किसानों को रूलाने वाला प्‍याज अब रूलायेगा आम जनता कों, 100 से 450 रु. क्विंटल का प्याज 2000 रु. पर पहुंचा, पढें खबर

नीमच :-

कृषि उपज मंडी में पूरे सीजन 100 से 450 रुपए प्रति क्विंटल बिकने वाला प्याज अब 2000 रुपए क्विंटल के आसपास बिक रहा है। सीजन की आखिरी खेप का प्याज अब जाकर किसानों की पैदावार की लागत निकाल रहा है। 4 माह से हालत खराब थी और मुद्दे पर सरकारी खरीदी तक करना पड़ी थी। अब किसानों को करीब चार से पांच गुना तक बढ़ाकर भाव मिल रहे हैं। इस बीच व्यापारी जमकर मुनाफा कमा रहे हैं और बाजार में प्याज 30 से 35 रुपए किलो में लोगों को मिल रहा है। 

मंदसौर मंडी में सोमवार को प्याज की आवक 1000 कट्‌टे रही और भाव प्रति क्विंटल 100 से 2052 रुपए तक रहे। 15 दिन से मंडी में प्याज की आवक रोज 600 से 1000 कट्‌टे के बीच चल रही है और अधिकतम भाव 2000 रुपए तक मिलने से किसानों की लागत निकल रही है। प्रतिकिलो के मान से औसत 20 से 25 रुपए किलो का यह प्याज बाजार में पहुंचते-पहुंचते 30 से 32 रुपए किलो में बिक रहा है। ऐसे में स्पष्ट है कि सरकारी खरीदी व उससे पहले व बाद में व्यापारी प्याज में अच्छा मुनाफा कमा गए हैं जबकि किसानों को अब अंतिम दिनों में लागत निकलने जैसे भाव मिल रहे हैं। मंदसौर मंडी के सचिव एम.एस. मुनिया ने बताया अब तुलनात्मक किसानों को प्याज के उचित भाव मिल रहे हैं। 

दलौदा मंडी में सोमवार से प्याज का बीज बिकने की शुरुआत हुई। मंडी में दो महीने पहले प्याज बिकने आ रहा था, उसे लोग नहीं खरीद रहे थे, अब प्याज के बीज की ट्रक आई और उसे लेने के लिए किसान उमड़े। मंडी परिसर में महाराष्ट्र के नासिक से प्याज के चौप (बीज) लेने के लिए किसान उमड़े। भाव 18 रुपए किलो तक में बिका है। किसान अगर बीज से प्याज तैयार करते हैं तो उनको 120 दिन लगेंगे, पानी कम हाेने की स्थिति में किसान को लहसुन से ज्यादा आकर्षण अब प्याज में दिख रहा है और लहसुन के बजाय अब कई किसान प्याज की बुवाई में लग गए हैं। पूरे भारत में बीज से प्याज तैयार होता पर नासिक में नर्सरी इस प्याज को तैयार कर बेचती है। इस बारे में सोमवार को सूचना के बाद दलौदा के व्यापारियों ने नासिक से प्याज का बीज मंगाया और मंडी में बिक्री शुरू हुई। मंडी व्यापारी संघ के अध्यक्ष नितिन जैन ने बताया 2 माह पहले प्याज नहीं बिक रहा था, अब प्याज की चौप आने पर लोग उमड़े। दलौदा लहसुन की मंडी के लिए फेमस है लेकिन प्याज का चौप खूब बिका। इसकी आवक अब शुरू हो गई है। 


SHARE ON:-

image not found image not found

लोकप्रिय

© Copyright VOICEOFMP 2017. Design and Developed By Pioneer Technoplayers Pvt Ltd.