NEWS: शहर में खेल एवं खेल मैदानों को बचाने के लिए कृति ने कृति ने भरी हुंकार, सामाजिक संस्था कृति की अगुवाई में सभी खेल संगठनों ने किया धरना प्रदर्शन एवं ज्ञापन सौंपा

Image not avalible

NEWS: शहर में खेल एवं खेल मैदानों को बचाने के लिए कृति ने कृति ने भरी हुंकार, सामाजिक संस्था कृति की अगुवाई में सभी खेल संगठनों ने किया धरना प्रदर्शन एवं ज्ञापन सौंपा

नीमच :-

एक वक्त था जब नीमच को खेलों की नगरी के नाम से जाना जाता था,क्योंकि यहां कई खेल मैदान थे जहां राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय स्तर के खिलाड़ी तैयार होते थे।आबादी बढ़ने के साथ-साथ खेल मैदान खत्म होते गए और खेल भी कमजोर होते गए। नीमच में आज भी कई प्रतिभाशाली बच्चे हैं जो खेलों में अपना नगर का एवं देश का नाम राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय स्तर पर रोशन कर सकते हैं। इसकी मिसाल ये है कि अपने अभिभावकों एवं खेल प्रशिक्षकों के प्रयासों से बैडमिंटन, हाकी, तैराकी, जूडो कराटे, फुटबॉल बास्केटबॉल कुश्ती आदि के खेलों में नीमच के खिलाड़ियों ने समय-समय पर राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में इसकी मिसाल पेश की है।

कृति की अगुवाई में विभिन्न संस्थाओं द्वारा धरना एवं ज्ञापन
इसी रोशनी में शहर की अग्रणी सामाजिक संस्था कृति" की अगुवाई में आज राष्ट्रीय  खेल  दिवस पर सभी खेल संगठन फोर जीरो चौराहे पर सांय  4 से 6 बजे तक नीमच में खेल मैदानों को बचाने,व खेल सुविधाओं की मांग को लेकर धरना प्रदर्शन किया गया।इस आशय का ज्ञापन इस कार्यक्रम में उपस्थित नगरपालिका अध्यक्ष को दिया गया।इसके अलावा कृति द्वारा विधायक एवं मुख्यमंत्री आदि को भी ज्ञापन सौंपा जाएगा।

ज्ञापन में इन सभी संगठनों द्वारा जो मुख्य बिंदु तय किए गए वह इस प्रकार हैं।
1 डॉक्टर राजेंद्रप्रसाद स्टेडियम को वर्षभर खेलने लायक बनाया जाए एवं उसकी समुचित देखभाल की जाए।
2 शासकीय बालक उच्चतर माध्यमिक विद्यालय क्रमांक 2 के मैदान को पूर्व मुख्यमंत्री सुंदरलाल पटवा ने स्टेडियम बनाने की घोषणा की थी।व स्कूल के अतिरिक्त शेष मैदान खेल के लिए सुरक्षित रखने की घोषणा की थी।वहां पुर्ण स्टेडियम बनाकर स्वर्गीय मुख्यमंत्री जी की घोषणा पर अमल किया जाए।वर्तमान में वहां अन्य कार्यों के लिए बेतरतीब भवन निर्मित कर दिए गए हैं।इस तरह के निर्माण को रोका जाए।
3 पुरानी नगर पालिका स्थित बंगला नंबर 60 के मैदान को खेलों के लिए सुरक्षित किया जाए।वहां सभी तरह के खेलों के लिए जैसे हॉकी,जिमनास्टिक,कबड्डी,खो-खो,बास्केटबॉल, बैडमिंटन,कुश्ती,जूडो कराटे इत्यादि के लिए मैदान बनाया जाए। पूरा मैदान बाउंड्रीवाल लगाकर सुरक्षित किया जाए।
4 मिडिल स्कूल नीमच कैंट के खेल मैदान से अनाधिकृत रास्ता बना दिया गया है।वह बंद किया जाए,एवं उसे बाउंड्री वाल बनाकर सुरक्षित किया जाए।
5 नगरपालिका का स्विमिंग पूल जो वर्ष के कुछ माह ही चालू रहता है,उसे वर्षभर चालू रखा जाए।वहां तैराकी के प्रशिक्षण एवं सुरक्षा की पूर्ण व्यवस्था की जाए।
6 इंडोर खेलों के लिए इनडोर स्टेडियम बनाया जाए, जैसे बैडमिंटन,जुडो-कराटे,कुश्ती,टेबल टेनिस जिमनास्टिक आदि।
7 एथलेटिक्स खेलो के लिए ट्रैक का निर्माण किया जाए। इसके साथ हेयर थ्रो,शॉर्टपुट, पोल वाल वर्ल्ड आदि खेलों को भी प्रोत्साहन मिले ऐसे प्रयास किए जाएं।
8 नगरपालिका प्रतिवर्ष नीमच में प्रचलित खेलों की प्रतिस्पर्धा में आयोजित करें,एवं खेल सुविधाएं उपलब्ध कराएं।
9 नीमच कैंट,नीमच सिटी,बधाना एवं ग्वालटोली में जितने भी बचे हुए खेल मैदान हैं,उनकी सुरक्षा की जाए।वहां बाउंड्री वॉल बनाई जाए एवं उसकी देखभाल की समुचित व्यवस्था की जाए।
10 नीमच में राष्ट्रीय खेल विकास प्राधिकरण के माध्यम से सभी खेल सुविधाएं प्राप्त करने की दिशा में ठोस प्रयास किए जाएं।

आइये देखते हैं क्या कहती हैं इस संबंध में इससे जुड़ी हस्तियां।
कृति अध्यक्ष किशोर जवेरिया का कहना है कि हम पूर्व में भी विधायक महोदय एवं नगरपालिका अध्यक्ष को इस संबंध में ज्ञापन सौंप चुके हैं कई बार इसके लिए रैली एवं धरना आंदोलन भी कर चुके हैं परंतु अफसोस है कि आज दिनांक तक उस पर कोई ध्यान नहीं दिया गया आज पुनः विभिन्न खेल संगठनों के पदाधिकारी एवं Khiladi नीमच की सामाजिक संस्था कृति के माध्यम से या ज्ञापन सौपकर मांग करते हैं कि हमारी इन सभी बातों पर और कर इस संबंध में अतिशीघ्र उचित कार्यवाही की जाए।

नपाध्यक्ष राकेश पप्पू जैन का कहना है कि आज शहर की अग्रणी सामाजिक संस्था कृति ने विभिन्न  खेल संगठनों के साथ मिलकर जो ज्ञापन सौंपा है,उस पर शीघ्र विचार किया जाएगा।इनमें से कुछ चीजों को तो हमने पूर्ण कर दिया है,बाकी बचे बिंदुओं पर भी शीघ्र विचार कर,इस हेतु बातचीत कर उनका निराकरण करने का प्रयास किया जाएगा।

पार्षद साबिर मंसूदी के अनुसार मैं भी नगर पालिका की 11 सदस्य स्टेडियम समिति का सदस्य हूं।जबसे नगर पालिका परिषद बनी है,तब से आज तक कोई भी अखिल भारतीय फुटबाल टूर्नामेंट नहीं हुआ है। बस सभी मंच पर ही घोषणा करके खुश हो जाते हैं।स्टेडियम में जो पवेलियन बन रहा है उस में बैठने के लिए 3500000 (35 लाख)रुपए खर्च किए जा रहे हैं।इससे अच्छा होता यदि यह पैसे खिलाड़ियों के लिए ग्राउंड सही करने में एवं तैराकों के लिए स्विमिंग पूल सही करने में खर्च किए जाते।अब जब नपा ने यह पैसे इसमें खपा दिए हैं,तो अब और निधि की व्यवस्था कर उन पैसों से खिलाड़ियों के लिए ग्राउंड आदि की अनुकूल व्यवस्था की जानी चाहिए।

ये रहे मौजूद
इस अवसर पर कृति की अगुवाई में जिला फुटबॉल संघ, जिला हॉकी संघ, जिला बैडमिंटन एसोसिएशन, जूडो-कराटे संगठन, जिला बास्केटबॉल एसोसिएशन, जिला टेबल टेनिस एसोसिएशन,जिला एथलेटिक्स एसोसिएशन, बास्केटबॉल क्लब,सुभाष सेना, वरिष्ठ नागरिक महासंघ, आम आदमी पार्टी आदि के सभी वरिष्ठ पदाधिकारी एवं सदस्यगण मौजूद थे


SHARE ON:-

image not found image not found

© Copyright VOICEOFMP 2017. Design and Developed By Pioneer Technoplayers Pvt Ltd.