खबरे COMMODITY MARKET: लंबा रखें नजरिया, शेयर में बनेगा ढेर सारा पैसा BUSINESS: यहा क्लिक करेगें तो जानेगें नीमच सर्राफा भाव AUTOMOBILE: MG Hector SUV कल होगी लॉन्च, जानें डीटेल GADGETS: Whatsapp पर आएगा नया फीचर, स्टेटस अपडेट नहीं करेंगे परेशान RELASHANSHIP: पत्नी या गर्लफ्रेंड को खुश रखने का ये है 'साइंटिफिक' तरीका HEALTH: लिवर को हेल्दी बनाए रखना है तो ये चीजें खाएं TODAY HISTORY: 27 जून का इतिहास, जानें इस दिन की अहम घटनाओं को TOTKE: विवाह का हर संकट दूर करेंगे गुरुवार के असरदार टोटके, जल्द होगी कुंवारों की शादी JYOTISH: 27 मई का राशिफल, मकर राशि के कारोबारियों को होगा बंपर धन लाभ NEWS DIGEST: 27 जून को शहर में होने वाले राजनीति आयोजन एक क्लिक पर जाने BIG REPORT: प्रदेश के तेज तर्राट आईएस अफसर संजय शुक्‍ल होंगे नीमच के प्रभारी सचिव, राज्‍य शासन ने जारी किए आदेश, पढें अभिषेक शर्मा की खास रिपोर्ट OMG ! चूरू में दलित युवक से दरिंदगी, बेरहमी से पीटकर खींच ली जुबान, पढें खबर WOW: राजस्थान का कालू है देश का नंबर 1 पुलिस स्टेशन, ये हैं टॉप 10, पढें खबर

OMG ! एमपी में जानलेवा हुआ स्वाइन फ्लू, सवा दो महीने में 44 मौतें

Image not avalible

OMG ! एमपी में जानलेवा हुआ स्वाइन फ्लू, सवा दो महीने में 44 मौतें

नीमच :-

मध्य प्रदेश में इस साल एक जुलाई से लेकर अब तक स्वाइन फ्लू से 44 लोगों की मौत हुई है. स्वाइन फ्लू का प्रकोप सबसे ज्यादा प्रदेश के भोपाल, जबलपुर, इंदौर एवं सागर जिले में है. इसके अलावा, यह प्रदेश के कई अन्य जिलों में भी फैला हुआ है.

स्वास्थ्य संचालक डॉ. के एल साहू ने बताया, एक जुलाई से लेकर सात सितंबर तक प्रदेश में स्वाइन फ्लू ने 44 लोगों की जान ली है.

उन्होंने कहा, प्रदेश में एक जुलाई से लेकर अब तक जिन संदिग्ध मरीजों के नमूने जांच के लिए प्रयोगशालाओं में भेजे गये थे, उनमें से 226 की रिपोर्ट एच1-एन1 एन्फ्लूएंजा वायरस के लिए पॉजिटिव आई है.

स्वास्थ्य संचालक ने कहा कि स्वाइन फ्लू से सबसे ज्यादा भोपाल एवं इंदौर जिलों में पांच-पांच मौते हुई हैं, जबकि जबलपुर एवं सागर जिलों में तीन-तीन और शहडोल एवं सीहोर जिले में इस बीमारी से दो-दो लोगों की मरने की सूचना मिली है.

साहू ने बताया कि वहीं, जिन 226 मरीजों की रिपोर्ट स्वाइन फ्लू के लिए पॉजिटिव आई है, उनमें भोपाल जिले के 45 मरीज, जबलपुर जिले के 36, इंदौर जिले के 17, सागर जिले के 15, उज्जैन जिले के 13, सागर जिले के आठ तथा शहडोल एवं दमोह जिलों के सात-सात मरीज शामिल हैं.

उन्होंने कहा कि यह कहना बहुत मुश्किल है कि कब तक इस बीमारी पर पूरी तरह से काबू पा लिया जाएगा, क्योंकि गुजरात एवं महाराष्ट्र सहित अन्य कुछ राज्यों में भी यह बीमारी फैली हुई है. हालांकि, मध्य प्रदेश सरकार इसके रोकथाम एवं उचित उपचार के लिए भरसक प्रयास कर रही है.

इस बीच, मध्य प्रदेश लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री रुस्तम सिंह ने स्वाइन फ्लू की समीक्षा करते हुए प्रदेश में स्वाइन फ्लू जांच लैब प्रदेश के सभी प्रमुख शहरों में खोलने के निर्देश दिए हैं.

सिंह ने कहा है कि इससे जांच में विलंब नहीं होगा और तत्काल इलाज शुरू किया जा सकेगा. अभी यह लैब जबलपुर, ग्वालियर और एम्स भोपाल में है.


SHARE ON:-

image not found image not found

© Copyright BABJI NEWS NETWORK 2017. Design and Developed By PIONEER TECHNOPLAYERS Pvt Ltd.