NEWS: एकात्म यात्रा के स्वागत के लिए गॉव-गॉव में उमड़ा जन सैलाब, भादवामाता में कलश यात्रा के साथ जनसंवाद सम्पन्न, पढें खबर

Image not avalible

NEWS: एकात्म यात्रा के स्वागत के लिए गॉव-गॉव में उमड़ा जन सैलाब, भादवामाता में कलश यात्रा के साथ जनसंवाद सम्पन्न, पढें खबर

नीमच :-

एकात्म यात्रा शुक्रवार को जिला मुख्यालय नीमच से रवाना हुई। यह यात्रा जमुनियाकला, भाटखेडा, हरर्कियाखाल भवंरासा, बोरदियाकला, मुण्डला, लसूडीतवंर, छायन, सीरखेडा, सावन, होते हुए भादवामाता पहुंची। एकात्म यात्रा के गॉव में पहुंचने पर ग्रामीणों महिलाओं और स्कूली छात्र-छात्राओं ने जगह-जगह पुष्प वर्षा कर आत्मीय स्वागत किया, तथा ध्वज, कलश एवं पादुका का पूजन भी किया गया। 

एकात्म यात्रा के नीमच से प्रस्थान कर जमुनियाकला, भाटखेडा, हरर्कियाखाल भवंरासा, बोरदियाकला, मुण्डला, लसूडीतवंर, छायन, सीरखेडा, सावन, होते हुए बैण्ड-बाजे एवं ढोल-ढमाको और धार्मिक भजनों की धुन के साथ भादवामाता मंदिर परिसर पहुँची महिलाओं ने गॉव में प्रवेश करते ही कलश के साथ एकात्म यात्रा का स्वागत किया। यह एकात्म यात्रा आस्था और विश्वास के साथ आध्यात्म, एकात्मवाद एवं अद्वैतवाद के प्रति आम लोगो को जोडते हुए नीमच जिले के विभिन्न गावों का भ्रमण कर भादवामाता पहुंची। जहां जन संवाद (धर्मसभा) का आयोजन हुआ।

इस धर्म सभा में एकात्म यात्रा के नेतृत्वकर्ता संत स्वामी संवित सोमगिरी जी महाराज बीकानेर,स्वामी भूमानंद सरस्वती जी महाराज, स्वामी उमानंद जी महाराज, महामण्डलेश्वर श्री सुरेशानंद जी शास्त्री, स्वामी नर्मदानंद जी महाराज, मंदसौर संसदीय क्षेत्र के सांसद श्री सुधीर गुप्ता, विधायक दिलीप सिंह परिहार, यात्रा के राज्यस्तर के सह समन्वयक एवं गो संवर्धन बोर्ड के उपाध्यक्ष श्री नारायण व्यास, जन अभियान परिषद के प्रदेश उपाध्यक्ष श्री प्रदीप पाण्डेय, जिला पंचायत अध्यक्षा श्रीमती अवंतिका मेहर सिंह जाट, यात्रा के जिला संयोजक श्री महेन्द्र भटनागर, श्री संतोष चौपडा, जनपद अध्यक्ष श्री जगदीश गुर्जर, श्री हेमंत हरित, जन अभियान परिषद के उपाध्यक्ष श्री अशोक जोशी, जन अभियान परिषद के संभाग समन्वयक श्री वरुण आचार्य, कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह, पुलिस अधीक्षक श्री टी.के. विद्यार्थी,  सहित अन्य जनप्रतिनिधि मंचासीन थे। 

भादवामाता में जनसंवाद (धर्मसभा) को संबोधित करते हुये संत श्री स्वामी संवित सोमगिरी जी महाराज ने कहा कि, बगैर कर्तव्य पालन के जीवन में एकाग्रता नहीं आ सकती। कर्तव्य से विमुख होने पर मन भटकने लगता है। एकाग्रता के लिये मन का शांत होना जरूरी है। एकात्म यात्रा घर-घर में शुरू होनी चाहीए। यह जो यात्रा चल रहीं है इसे 22 जनवरी तक ही सिमित न रखें इसे घर एवं अपने स्वयं के अन्दर निरन्तर चलने दे। एकात्म यात्रा में हम अकेले नहीं है पुरा भारत अपने से जुडा हुआ है, इसमें आप सभी भी आते है। आदि गुरू शंकराचार्य द्वारा ज्ञान को लेकर यात्रा प्रारम्भ की गई थी। उनकी यात्रा का उद्देश्य किसी मत को परिवर्तन करना नहीं था। बल्कि पूरे भारत को एक करना था। 

इस मौके पर राज्य मंत्री दर्जा प्राप्त यात्रा के प्रदेश सह संयोजक श्री नारायण व्यास ने एकात्म यात्रा के आयोजन के उद्देश्यों पर प्रकाश डालते हुए कहा कि, विश्व कल्याण के उद्देश्य से यह यात्रा प्रारंभ की गई है। यह यात्रा न केवल मध्यप्रदेश में बल्कि संपूर्ण भारत देश में एक अनुकरणीय उदाहरण बन रही है। धर्म आस्था, विश्वास एवं एकता का प्रतिक यह यात्रा संपूर्ण देश भी अपनायेगा। 

विधायक दिलीप सिंह परिहार ने अपने स्वागत उद्बोधन में कहा कि, आदि गुरू शंकराचार्य द्वारा प्रदेश की धरती पर आज से 12 सौ वर्ष पूर्व चरण रखे गये और उन्होने सबको एकजुट रखने के लिये 4 मठों की स्थापना की इसी तारतम्य में यह यात्रा 19 दिसम्बर 2017 से प्रारम्भ होकर 21 जनवरी 2018 को ओंकारेश्वर में पूर्ण होगी। इस यात्रा में बडी संख्या में लोगो ने सहभागिता दी है। इस सहभागिता से ही ओंकारेश्वर में 108 फीट ऊंची आदि गुरू शंकराचार्य जी की प्रतिमा स्थापित होगी। 

कार्यक्रम को सांसद श्री सुधीर गुप्ता ने सम्बोधित किया। यात्रा के दौरान गॉवों में विधायक श्री परिहार ने  एकात्म यात्रा कलश को अपने सिर पर उठाकर ग्राम भ्रमण किया। वहीं श्री महेन्द्र भटनागर यात्रा के ध्वज थामे हुए चल रहे थे। 

भादवामाता में एकात्म यात्रा के दौरान आयोजित जन संवाद में महिला एवं बाल विकास द्वारा महिला सशक्तिकरण एवं नारी सम्मान पर आधारित चित्र प्रदर्शन लगाई गई। आबकारी विभाग द्वारा मद्य निषेध प्रदर्शनी लगाई गई। जिसका बडी संख्या में लोगों ने अवलोकन किया। प्रारम्भ में आदि गुरू शंकराचार्यजी की तस्वीर पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्जवलित कर पूजन अर्चन किया गया। तदपश्चात् ग्रामीणों, जनप्रतिनिधियों, मंचासीन अतिथियों और साधु-संतो का स्वागत् किया। 

जनसंवाद में महिला एवं बाल विकास की ओर से नारी सशक्तिकरण, नशा मुक्ति, पर आधारित सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए गए है। वैदिक विद्यालय के विद्यार्थियों ने मॉ नर्मदा की स्तुति एवं मंगलाचरण का गायन किया। 

भादवामाता जनसंवाद के बाद एकात्म यात्रा जवासा, बोरखेडी, रेवली-देवली, गिरदौडा, जेतपुरा, जावद फंटा, सगराना, केसरपुरा होते हुए जावद क्षेत्र के नयागॉव पहुंची, इन गॉवों में भी बैण्ड बाजों और कलश यात्रा के साथ महिलाओं, ग्रामीणों ने इस यात्रा का आत्मीय स्वागत् किया। नयागॉव में विधायक श्री ओमप्रकाश सकलेचा एवं स्थानीय जनप्रतिनिधियों ने एकात्म यात्रा का आत्मीय स्वागत् किया।


SHARE ON:-

image not found image not found

© Copyright VOICEOFMP 2017. Design and Developed By Pioneer Technoplayers Pvt Ltd.