खबरे VIDEO NEWS: पूर्व सांसद रघुनंदन शर्मा का बडा बयान, बोले माई के लाल जैसे शब्‍दो का इस्‍तेमाल नही होता तो बढ जाती प्रदेश में भाजपा की सीटे, पढें खबर APRADH: नीमच न्‍यायालय का फैसला, ससुराल जाकर पत्नि से मारपीट करने वाले पति के रिश्तेदारों को सजा व जुर्माना, पढें खबर NEWS: एकदम सटीक होती है इनकी चुनावी भविष्यवाणी, इस बार इनका पलड़ा भारी कांग्रेस को मिलेगी सत्ता, पढें खबर NEWS: नतीजों से पहले संविदा कर्मियों का सर्वे वायरल, इस पार्टी को मिल रहा बहुमत, पढें खबर VIDEO: मंदसौर में वीडियो वायरल निजी यात्री बस ओवर लोड होने पर बस यात्रियों से बदसलूकी करना पुलिसकर्मियों को महंगा पड़ा, पढें खबर VIDEO: हम लाते है खबर सबसे पहले, विधानसभा चुनाव के सबसे तेज नतीजे 11 दिसंबर को दिन भर सिर्फ वॉईस ऑफ एमपी पर, देखे विडियों BIG NEWS: मतगणना से पहले बढ़ी मंत्री की मुश्किलें, चेक बाउंस मामले में वारंट जारी, पढें खबर APRADH: बालिग युवती को नाबालिग बताकर चालान बनाने के लिए यातायात एएसआई ने की बदसलूकी, युवती ने शिकायत कर की कार्रवाई की मांग, पढें खबर NEWS: मध्य प्रदेश में ये 30 बागी बिगाड़ सकते हैं बीजेपी और कांग्रेस का खेल BUSINESS: यहा क्लिक करेगें तो जानेगें नीमच सर्राफा भाव COMMODITY MARKET: कमोडिटी का ट्रेडिंग टाइम बढ़ा

BIG BULLETIN: पटवारी भर्ती घोटाला: 77 उम्मीदवारों के खिलाफ FIR के आदेश,जस्टिस कुरियन जोसेफ बोले- न्याय और न्यापालिका के हित में उठाई आवाज़ के साथ जाने आज की खबरे

Image not avalible

BIG BULLETIN: पटवारी भर्ती घोटाला: 77 उम्मीदवारों के खिलाफ FIR के आदेश,जस्टिस कुरियन जोसेफ बोले- न्याय और न्यापालिका के हित में उठाई आवाज़ के साथ जाने आज की खबरे

नीमच :-

जस्टिस कुरियन जोसेफ बोले- न्याय और न्यापालिका के हित में उठाई आवाज़

सुप्रीम कोर्ट के चार सबसे सीनियर जजों में शामिल जस्टिस कुरियन जोसेफ ने भरोसा जताया कि उन्होंने जो मुद्दे उठाए हैं उनका जल्द समाधान हो जाएगा. जस्टिस जोसेफ सहित तीन अन्य न्यायाधीशों के प्रेस कॉन्फ्रेंस के एक दिन बाद उन्होंने कहा कि उन्होंने न्याय और न्यायपालिका के हित में काम किया.बता दें कि मुकदमों के चुनिंदा तरीके से आवंटन और कुछ न्यायिक फैसलों को लेकर देश के प्रधान न्यायाधीश के खिलाफ चार वरिष्‍ठ जजों ने प्रेस कांफ्रेंस कर विरोध दर्ज कराया था गौरतलब है कि देश के लोकतंत्र के इतिहास में पहली बार सुप्रीम कोर्ट के चार जजों ने खुलेआम मुख्य न्यायाधीश के खिलाफ विद्रोह का संकेत दे दिया. चार जजों ने सीजेआई के खिलाफ असंतोष को उजागर करने के लिए प्रेस कांफ्रेंस बुलाई. वहां उन्होंने जाहिर कर दिया कि केसों के बंटवारे और सीजेआई की कार्यशैली से उनमें गहरे मतभेद हैं.

MP: भारत माता की जय बोलने पर स्कूल ने 20 छात्रों को निकाला

मध्य प्रदेश में रतलाम के एक स्कूल में भारत माता की जय बोलने पर 20 छात्रों को स्कूल से बाहर कर दिया गया और उन्हें प्रीबोर्ड की परीक्षा देने से रोक दिया गया. जानकारी मिलने पर गुस्साए परिजन स्कूल के खिलाफ थाने पहुंच गए.मामला जिले के नामली कस्बे के एक कॉन्वेंट स्कूल की है, जहां शुक्रवार को नौवीं कक्षा के छात्रों पर कॉन्वेंट स्कूल प्रबंधन ने यह कार्रवाई की थी. इसके खिलाफ परिजन थाने पर पहुंच गए. हालाकि वहां मामले को शांत करने की कोशिश की गई. लेकिन बताया जा रहा है कि बच्चों के भविष्य के डर से परिजनों का गुस्सा ठंडा पड़ गया.वहीं इस मामले स्कूल प्रबंधन ने चुप्पी साध रखी है जबकि प्रशासन के आला अधिकारी जांच की बात कह रहे हैं.यह भी बताया जा रहा है कि माइनॉरिटी का स्कूल होने की वजह से कॉन्वेंट स्कूल प्रबंधन ना तो शिक्षा विभाग के नियमों का पालन करता है और ना ही जिला प्रशासन के आदेशों का पालन करता है.

इंदौर हादसा: मीडिया के सामने फिर फूटा परिजनों का गुस्सा

मध्य प्रदेश में इंदौर के डीपीएस बस हादसे के शिकार बच्चों के परिजनों का गुस्सा फिर फूटा है. परिजन अब मीडिया के सामने आकर अपनी बातें रख रहे हैं.परिजनों का आरोप है कि दिल्ली पब्लिक स्कूल के प्रबंधक उन्हें सीधे-सीधे तौर पर धमका रहे हैं और उनके बच्चों का भविष्य खराब करने की बात कह रहे हैं.कई परिजनों का आरोप है कि इंसाफ यदि मिलना होता तो प्रबंधक पर पहले ही कार्रवाई की जा चुकी होती लेकिन प्रबंधक पर अभी तक किसी प्रकार की कार्रवाई नहीं हुई है.उनका कहना है कि स्कूल में यदि बच्चे किसी बात को बता रहे तो स्कूल प्रबंधक उसे दबा रहा है. हादसे के एक चश्मदीद गवाह ने जब यह जानकारी मीडिया को दी कि इसमें ड्राइवर की गलती नहीं थी लेकिन उसके बाद भी ड्राइवर को पहले आरोपी बना दिया गया. उन्होंने कहा कि स्कूल प्रबंधक ने बच्चे को धमकाते हुए कहा कि तुम वीडियो में आना चाहते हो.

मुंडन के बाद गुस्साए अध्यापक, सरकार बैकफुट पर 

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में अध्यापकों के मुंडन कराए जाने के बाद हालात बदल गए हैं। प्रदेश भर के अध्यापकों में गुस्सा नजर आ रहा है। अध्यापकों के आंदोलन को कुचलने में 5 साल से लगातार सफल हो रही शिवराज सिंह सरकार अब बैकफुट पर नजर आ रही है। आजाद अध्यापक संघ की प्रांताध्यक्ष शिल्पी शिवान सहित कई अध्यापकों ने आज मुंडन कराया और सरकार के प्रति अपना विरोध प्रकट किया। अध्यापक शिक्षा विभाग में संविलियन की मांग कर रहे हैं। 

पटवारी भर्ती घोटाला: 77 उम्मीदवारों के खिलाफ FIR के आदेश

श्योपुर। साल 2006 में हुई पटवारी चयन परीक्षा का मामला अभी भी ग्वालियर हाईकोर्ट में चल रहा है। कोर्ट ने अभी कोई फैसला नहीं दिया लेकिन, राजस्व विभाग के प्रमुख सचिव अस्र्ण पाण्डेय ने 2006 की पटवारी परीक्षा को निरस्त कर दिया है। इतना ही नहीं इस परीक्षा में चयन हुए 77 पटवारियों पर एफआईआर के लिए श्योपुर प्रशासन को पत्र भेजा है। पीएस पाण्डेय ने चयनित पटवारियों पर एफआई का जिम्मा कलेक्टर पीएल सोलंकी व एसपी डॉ. शिवदयाल सिंह को दिया है। गौरतलब है कि पटवारी परीक्षा का यह मामला सुप्रीम कोर्ट तक चला गया था। सुप्रीम कोर्ट ने सरकार की सभी दलीलेें खारिज करते हुए दिसंबर 2014 में चयनित पटवारियों के पक्ष में फैसला देते हुए मप्र शासन को आदेश दिए थे कि वह पटवारियों को ज्वाइनिंग दें लेकिन, राजस्व विभाग ने सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर भी चयनित उम्मीदवारों को ज्वाइनिंग नहीं दी।
 


SHARE ON:-

image not found image not found

© Copyright BABJI NEWS NETWORK 2017. Design and Developed By PIONEER TECHNOPLAYERS Pvt Ltd.