NEWS: मंदसौर गोलीकांड, एक ही बात कह रहे गवाह-गोली की आवाज सुनी, किसने चलाई नहीं देखा, दो दिन कैंप में 27 ने दी गवाही, अब तक 184 के हुए बयान, पढें खबर

Image not avalible

NEWS: मंदसौर गोलीकांड, एक ही बात कह रहे गवाह-गोली की आवाज सुनी, किसने चलाई नहीं देखा, दो दिन कैंप में 27 ने दी गवाही, अब तक 184 के हुए बयान, पढें खबर

मंदसौर :-

मंदसौर।जून 17 में हुए किसान आंदोलन में 5 किसानों की मौत की जांच कर रहे एकल सदस्यीय न्यायिक जांच आयोग के सांतवें कैंप में शुक्रवार को 12 लोगों ने गवाही दी। लगभग सभी गवाहों के एक समान बयान रहे। सभी एक ही बात पर टिके हैं कि गोली चलने की आवाज सुनी पर किसने चलाई नहीं देखी। लोगों की भीड़ ट्रकों में आग लगा रही थी और तोड़-फोड़ कर रही थी। गुरुवार को भी 15 प्रत्यक्षदर्शियों ने गवाही दी थी। जांच आयोग में अब तक 184 लोगों की गवाही हो चुकी है। अब अगला एक दिवसीय कैंप 30 जनवरी को लगेगा।

न्यायिक जांच आयोग के अध्यक्ष जस्टिस जेके जैन मामले में सुनवाई कर रहे हैं। 18 एवं 19 जनवरी को आयोजित हुए दो दिनी कै•प में 27 प्रत्यक्षदर्शियों के बयान हुए। इससे पहले 157 लोगों के बयान हो चुके थे। शुक्रवार को 12 गवाहों के बयान हुए। इस तरह अब तक कुल 184 की गवाही जांच आयोग में हो चुकी है। 
जिसमें किसान मानसिंह पिता भेरूलाल निवासी काचरिया चंद्रावत ने बताया कि 6 जून 17 को दोपहर 12 बजे गांव से मंदसौर तरफ आ रहा था। महू-नीमच राजमार्ग पर बही फंटे पर भीड़ थी। भीड़ में शामिल लोगों ने मुंह पर कपड़ा बांध रखा था। वे वाहनों को रोक रहे थे। ट्रकों का सामान भी लूट रहे थे। उनके पास देशी कट्टे और तलवारें भी थी। इसी दौरान गोली चलने की आवाज सुनकर मैं गांव की तरफ भाग गया। पिपलियामंडी के राकेश, मुकेश पिता मांगीलाल एवं संजय ने भी इसी तरह के बयान दिए। न्यायिक जांच आयोग का अगला कैंप 30 जनवरी को लगेगा। इसमें पूर्व में गवाही दे चुके 6-7 गवाहों से क्रॉस शासन द्वारा नियुक्त अभिभाषक करेंगे।


SHARE ON:-

image not found image not found

लोकप्रिय

© Copyright VOICEOFMP 2017. Design and Developed By Pioneer Technoplayers Pvt Ltd.