VIDEO: नीमच में महिला स्‍वयं सहायता समुह संघ का कलेक्‍ट्रेट में हल्‍लाबोल, बेलर व थाली बंजाकर जताया विरोध, पढें खबर

नीमच :-

हमेश हर रोज प्रदेश सरकार के खिलाफ नये नये तरीके से प्रदर्शन अधिकारी कर्मचारीयों द्वारा किया जा रहा है कभी कोई बाल काट विरोध जता रहा है तो कभी कोई पकोडे तल अपना विरोध दर्ज करा रहें है 

आज ऐसा ही एक मामला नीमच में दिखने को मिला है महिला स्‍वयं सहायता समुह संघ जिला नीमच की महिलाएं जिला कलेक्‍ट्रेट पहुंची जहां अपने हाथों में रोटी बनाने का बैलन व थाली बजाकर अपना विरोध दर्ज कराया इस मौके पर बडी संख्‍या में महिलाएं मौजूद रही जिन्‍होने जमकर नारेबाजी की 

महिला स्‍वयं सहायता समुह संघ जिला नीमच की महिलाओं का कहना है कि शासन द्वारा चलाई जा रही है अतिमहात्‍वाकाक्षी योजन एमडीएम शा प्रा वि मा वि व आंगनवाडीयों में समूहों द्वारा संचालित की जा रही है जिसमें योजना को सुचारू रूप से संचालित करने में समूहो को बहुत आर्थिक कठिनाइयों का सामना करना पड रहा है 

ये है मांगे
* समूहों को खाना पकाने की लागत राशि का भुगतान रोजाना उपस्थित छात्रों के मान से समय पर भुगतान किया जावें ताकि समुहो को आर्थिक रूप से परेशानियों का सामना नही करना पडे जो कि वर्तमान में माह अगस्‍त 2017 से ऑनलाईन भुगतान समुहो को 65 प्रतिशत के मान से किया जा रहा है जबकि रोजाना की उपस्‍थति 80 से 90 प्रतिशत रहती है 

* मध्‍याहन भोजन का ख्‍याध्‍यान उठज्ञव पत्रक का आंवटन शाला में दर्ज संख्‍या के मान से हो एंव प्रति माह समुहो को समय पर खाध्‍यान दिया जावें

* आंगनवाडी पोषण आहार की राशि व खाध्‍यान केंद्र पर दर्ज संख्‍या के मान से प्रतिमाह दिया जावें जोकि खाध्‍यान वर्तमान में त्रैमास दिया जाता है वो भी दो माह बितने के बाद 

* मंहगाई को देखने हुवें रसोइया का पारिश्रमिक भुगतान 5 हजार रूपये प्रतिमाह किया जावें क्‍योकि वर्तमान में 33 रू प्रतिदिन देकर उनके मानव अधिकारों का हनन किया जा रहा है 

* आंगनवाडियों एंव विधालयों में मंगल दिवस के दिन भुगतान अलग से किया जावें क्‍योकि उस दिन विशेष भोजन दिया जाता है जिसकी लागत बहुत ज्‍यादा आती है 

* आंगनवाडियों में कार्यरत रसोइयां का मानदेय बढाया जायें 


SHARE ON:-

image not found image not found

© Copyright VOICEOFMP 2017. Design and Developed By Pioneer Technoplayers Pvt Ltd.