BIG NEWS: 17 फरवरी को थम जाएंगे बसों के पहिय्ये, किराया बढ़ाने की मांग को लेकर नीमच में यात्री बसों की हड़ताल, पढ़े

Image not avalible

BIG NEWS: 17 फरवरी को थम जाएंगे बसों के पहिय्ये, किराया बढ़ाने की मांग को लेकर नीमच में यात्री बसों की हड़ताल, पढ़े

नीमच :-

नीमच। किराया बढ़ाने की मांग को लेकर नीमच सहित पूरे उज्जैन संभाग मे 4 हजार यात्री बसें 17 फरवरी को बंद रहेगी। इस दिन बसों के संचालन से जुडे़ लोग एक दिन की सांकेतिक हड़ताल पर रहेंगे। शासन की गलत नीतियों के कारण उज्जैन संभाग में लगभग 5 लाख यात्रियों को परेशानी झेलना पड़ सकती है। हड़ताल करने का निर्णय मध्यप्रदेश बस आॅनर्स एसोसिएशन के पदाधिकारियों की बैठक में लिया गया। नीमच जिला बस मालिक (अनुबंधित) एसोसिएशन के अध्यक्ष भगत वर्मा ने बताया कि उज्जैन संभाग के साथ-साथ इंदौर संभाग की बसें भी बंद रहेगी।

 

सांकेतिक हड़ताल के दौरान नीमच-मंदसौर-रतलाम सहित अन्य मार्गों पर चलने वाली बसों का संचालन भी पूर्णतः बंद रहेगा। सांकेतिक हड़ताल का मुख्य उद्देश्य शासन का ध्यान आकर्षित करना है। श्री वर्मा ने बताया कि एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने यह भी निर्णय लिया है कि यदि बस मालिकों की मांगें नहीं मानी गई तो प्रदेशभर की बसों को बंद करने की रणनीति तैयार करेंगे। इस हड़ताल में नीमच जिले के सभी बस मालिकों का समर्थन है। हड़ताल का मुख्य उद्देश्य बसों में किराया बढ़ाने के लिए किया जा रहा है।

किराया बढ़ाने के पीछे यह तर्क है-इसका मुख्य कारण यह है कि सन् 2013 में डीजल 50 रूपए लीटर था तब किराए का निर्धारण हुआ था जबकि वर्तमान समय में डीजल लगभग 70 रूपए लीटर है। ऐसे में किराया भी बढ़ना चाहिए। सन् 2013 में बस बनने की लागत 15 से 18 लाख रूपये थी लेकिन अब वह लागत 20 से 25 लाख रूपये हो गई है। उस समय बस का इन्श्योरेंस भी 30 से 32 हजार रूपये में होता था अब 72 से 75 हजार रूपए लगते हैं।

इन चार वर्षों में टोलटैक्स डबल हो गया है। टायर ट्यूब तथा पार्ट्स की कीमत भी अत्यधिक बढ़ चुकी है। चालक परिचालक व अन्य सहयोगियों का पारिश्रमिक भी बढ़ा है। बसों के रख रखाव का भी खर्च दो गुना हो गया है। किराया बढ़ाने के संबंध में मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चैहान तथा परिवहन मंत्री भूपेन्द्रसिंह को बस मालिकों द्वारा ज्ञापन भी प्रेषित किया जाएगा। 


SHARE ON:-

image not found image not found

© Copyright VOICEOFMP 2017. Design and Developed By Pioneer Technoplayers Pvt Ltd.