NEWS: बाणदा बाँध संघर्ष समिति ने सौंपा मुख्यमन्त्री के नाम ज्ञापन, मांग पूरी नहीं हुई तो करेंगे आंदोलन, पढें मेहबूब मेव की खबर

Image not avalible

NEWS: बाणदा बाँध संघर्ष समिति ने सौंपा मुख्यमन्त्री के नाम ज्ञापन, मांग पूरी नहीं हुई तो करेंगे आंदोलन, पढें मेहबूब मेव की खबर

नीमच :-

सिंगोली। भूत पूर्व मुख्यमन्त्री स्व. वीरेंद्र कुमार सखलेचा के मुख्यमंत्रीत्व काल से ही रतनगढ़ घाट क्षेत्र और सिंगोली के आसपास के ग्रामीण किसानों की माँग बाणदा बाँध को लेकर चली आ रही है।

बाणदा बाँध के निर्माण से कई गाँवों में पानी की समस्या  समाप्त हो जाएगी तथा सालभर के फसल उत्पादन के लिए पानी का बहुत बड़ा सहारा मिल जाएगा। साथ ही किसानों की आर्थिक स्थिति में भी सुधार होगा लेकिन उक्त बाँध की माँग को आज दिन तक सरकार ने गम्भीरता से नही लिया। भूतपूर्व मुख्यमन्त्री स्व. वीरेंद्र कुमार सखलेचा ने इस क्षेत्र के किसानों से बाणदा बाँध बनवाने का वादा किया था वह आज भी अधूरा ही है।

2002 में पूर्व मुख्यमन्त्री दिग्विजय सिंह ने बाणदा बाँध की नींव रखकर शिलान्यास किया था।जब 2003 में जावद विधान सभा से भाजपा उम्मीदवार के रूप में वर्तमान विधायक ओमप्रकाश सखलेचा ने चुनाव लड़ा था तब श्री सखलेचा ने भी इस क्षेत्र के किसानों से बाणदा बाँध बनवाने का वादा किया था लेकिन श्री सखलेचा के तीन कार्यकाल लगभग 15 साल पूरे होने को है फिर भी जमीनी स्तर पर ढाक के तीन पात ही है।

बाणदा बाँध की मांग के सम्बन्ध में सिंगोली क्षेत्र के कई किसान और पूर्व विधायक दुलीचन्द जैन दिनांक 02/09/2015 को  मुख्यमन्त्री शिवराज सिंह चौहान और सम्बंधित मंत्री व् उच्च अधिकारियों से भोपाल में मिलकर भी आए लेकिन बाँध के निर्माण के सम्बन्ध में कोई उचित कार्यवाही शासन प्रशासन की ओर से आज दिन तक नही की गई। क्षेत्र के किसान शायद आंदोलन की राह पकड़ने को मजबूर हो गए है, आंदोलन का संकेत देते हुए किसानों ने बाणदा बाँध संघर्ष समिति के बैनर तले बुधवार को मुख्यमन्त्री के नाम ज्ञापन देकर कर दी है।

बाणदा बाँध संघर्ष समिति के राधेश्याम धाकड़ ने बताया कि आज सिंगोली तहसील के धोगवां, पटियाल, जराड़, बोहड़ा, ताल, परलाई, पिपलिखेड़ा, कछाला, कबरीया, चल्दु, जोधाकुण्डल, हरिपुरा, टोकरा आदि गाँवों के किसान इकट्ठा होकर यहां आए है और यदि बाँध बनवाने के सम्बन्ध में शासन प्रशासन द्वारा कोई उचित कदम जल्दी नही उठाया गया तो आज से 15 दिन बाद बाणदा बाँध संघर्ष समिति जिला मुख्यालय पर हर प्रकार का आंदोलन करने के लिये तैयार रहेगी।इस मौके पर संघर्ष समिति के छीतर धाकड़, भेरूलाल धाकड़, छोगालाल धाकड़, सजंय नागोरी, ओंकारलाल धाकड़, मोहन पण्डित, बद्रीलाल धाकड़, मोहन धाकड़ आदि किसान उपस्थित थे।

ज्ञापन का वाचन  राधेश्याम धाकड़ ने किया और तेहसीलदार राजेश पाटीदार के प्रतिनिधि  राजाराम पानिया को ज्ञापन सौंपकर जल्द से जल्द बाणदा बाँध का निर्माण करवाने हेतु उचित कार्यवाही की मांग की।


SHARE ON:-

image not found image not found

© Copyright VOICEOFMP 2017. Design and Developed By Pioneer Technoplayers Pvt Ltd.