BIG BULLETIN: एमपी में पानी की कमी से चिंतित शिवराज, चलाया जाएगा अभियान, MP के वित्तमंत्री ने बताया क्यों है कैश की कमी, जनता से की अपील के साथ जाने आज की खबरे

Image not avalible

BIG BULLETIN: एमपी में पानी की कमी से चिंतित शिवराज, चलाया जाएगा अभियान, MP के वित्तमंत्री ने बताया क्यों है कैश की कमी, जनता से की अपील के साथ जाने आज की खबरे

नीमच :-

MP के वित्तमंत्री ने बताया क्यों है कैश की कमी, जनता से की अपील

मध्य प्रदेश के वित्तमंत्री जयंत मलैया ने ATM में कैश की किल्लत को लेकर सफाई दी है. वित्त मंत्री जयंत मलैया के मुताबिक देश में 15 लाख करोड़ रुपए की करेंसी में 7 लाख करोड़ के 2 हज़ार के नोट हैं. ऐसे में बैंकों से करेंसी कम आने से 2 हजार के नोट ज्यादा निकाले जा रहे हैं, जिससे किल्लत पैदा हो रही है वित्तमंत्री मलैया ने जनता से कैश ट्रांज़ेक्शन कम करने की अपील की है. मलैया का कहना है कि वो वीडियो कॉन्फ्रेंसिग करके अधिकारियों से कैश के किल्लत का फीडबैक लेंगे. केंद्र से भी राज्य सरकार लगातार संपर्क में है, और जल्दी ही समस्या का समाधान भी निकाल लिया जाएगा बताया जा रहा है कि एटीएम में सिर्फ 14 फीसदी 2000 रुपए के नोट बचे हैं. वित्त मंत्री जयंत मलैया ने प्रदेश के वित्त विभाग की बैठक भी बुलाई है. इससे पहले मध्य प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने शाजापुर में सभा के दौरान 2000 रुपए के नोट गायब होने को साज़िश करार दिया था. सीएम शिवराज ने कहा था कि सरकार को बदनाम करने के लिए षडयंत्र रचा जा रहा है

एमपी में पानी की कमी से चिंतित शिवराज, चलाया जाएगा अभियान

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में सूखे तालाब को बचाने के लिए ताल संरक्षण अभियान 2018 का शुभारंभ किया गया है. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने कार्यक्रम में कहा कि जल संरक्षण के लिए आगामी 1 मई से 15 मई तक प्रदेशभर में 'तालाब बचाओ' अभियान चलाया जाएगा. इस अवसर पर सीएम ने श्रमदान कर उपस्थित लोगों को पानी बचाने का संकल्प भी दिलाया मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भोपाल में ताल संरक्षण अभियान 2018 का शुभारंभ करते हुए कहा कि जल संरक्षण के लिए आगामी एक मई से प्रदेश भर में 'तालाब बचाओ' अभियान चलाया जाएगा. इस अवसर पर सीएम शिवराज ने श्रमदान कर उपस्थित जन समूह को पानी बचाने का संकल्प भी दिलाया

ग्वालियर से नौकरी तलाशने छतरपुर गई छात्रा का रेप, बंधक बनाया 

ग्वालियर। नौकरी की तलाश में छतरपुर गई बीएससी की 20 वर्षीय छात्रा को बंधक बना लिया गया। यहां मुश्ताक भाई नाम के बदमाश ने गन पाइंट पर लेकर उसका रेप किया। दूसरे दिन एक अन्य युवक आया। उसने छात्रा को मुक्त कराने की पेशकश की लेकिन बदले में उसने भी रेप किया। इसके बाद वो दरवाजे की कुंदी खुली छोड़कर चला गया। किसी तरह बचकन निकली छात्रा ने ग्वालियर आकर पुलिस से शिकायत की परंतु पुलिस ने मामला दर्ज करने से मना कर दिया। जब बात एसपी तक पहुंची तब मामला दर्ज हुआ जनकगंज स्थित गोल पहाड़िया इलाके में रहने वाली 20 वर्षीय सलोनी (परिवर्तित नाम) बीएससी की छात्रा है। कुछ दिन से घर की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं होने पर उसे नौकरी की जरूरत थी और वह कंसलटेंसी ऑफिस में चक्कर लगा रही थी। इसी दौरान उसे टैक्सी में एक महिला मिली। उसने एक मोबाइल नंबर देते हुए छतरपुर में 100 फीसदी नौकरी लगवाने का दावा किया। 10 अप्रैल को छात्रा ने कॉल किया तो किसी संतोषी तिवारी नामक महिला ने कॉल रिसीव किया

होम लोन का लालच देकर महिला का रेप, नशीली कॉफी पिलाकर वीडियो बनाया

इंदौर | देश भर में महिलाओं के प्रति यौन हिंसा का विरोध हो रहा है। बलात्कारियों को सजा ए मौत की मांग की जा रही है परंतु मप्र में रेप की घटनाएं थमने का नाम ही नहीं ले रहीं हैं। इंदौर में एक हाउसवाइफ को उसके परिचित युवक ने ही जाल में फंसा लिया। होमलोन का झांसा देकर अपने घर ले गया और नशीली कॉफ़ी पिलाकर रेप किया इसका वीडियो भी बनाया। इसके बाद शुरू हुई ब्लैकमेलिंग की दर्दनाक दास्तां। मामले का खुलासा तब हुआ जब पीड़िता ने परेशान होकर आत्महत्या करने के लिए हाथ की नस काट ली 

केजरीवाल सरकार को झटका, गृह मंत्रालय ने 9 सलाहकारों को हटाया

नई दिल्ली: केंद्र सरकार ने मंगलवार को केजरीवाल सरकार को बड़ा झटका देते हुए उनके 9 सलाहकारों को हटा दिया है. जिन लोगों को हटाया गया है उनमें मनीष सिसोदिया की शिक्षा सलाहकार आतिशी मर्लिना, वित्त सलाहकार राघव चड्ढा, मीडिया सलाहकार अरुणोदय प्रकाश के साथ-साथ अमरदीप तिवारी, रजत तिवारी, राम कुमार झा, समीर मल्होत्रा, प्रशांत सक्सेना और दिनकर अदीब जैसे नाम शामिल हैं. गौरतलब है कि राघव चड्ढा एक रुपये प्रति महीने के वेतन पर दिल्ली सरकार के उप-मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के सलाहकार थे. वहीं सलाहकारों को हटाए जाने को लेकर गृह मंत्रालय की तरफ से दलील दी गई है कि जिन पदों पर इन लोगों की नियुक्ति की गई थी वो मंज़ूर पद नहीं थे और इनकी मंज़ूरी केंद्र सरकार से नहीं ली गई थी साथ ही मंत्रालय ने कहा कि सर्विसेज विभाग केंद्र सरकार के तहत आता है इसलिए दिल्ली की चुनी हुई सरकार ये नियुक्ति नहीं कर सकती. लिहाज़ा इन सभी नियुक्ति को रद्द किया गया है. वहीं आप सूत्रों के मुताबिक आतिशी मर्लिना शिक्षा के क्षेत्र में अच्छा काम कर रही थी, इसलिए सिर्फ़ आतिशी को रोकने और शिक्षा के क्षेत्र में अच्छा काम ना हो इसलिए ही आतिशी मर्लिना समेत सभी सलाहकारों को हटाया गया है
 


SHARE ON:-

image not found image not found

© Copyright VOICEOFMP 2017. Design and Developed By Pioneer Technoplayers Pvt Ltd.