VIDEO: नीमच पुलिस की बडी कार्रवाही, अवैध हथियारों के साथ 07 आरोपी गिरफ्तार, 12 पिस्टल तथा 10 कारतुस जप्त, पढें खबर

नीमच :-


  पुलिस अधीक्षक श्री तुषारकान्त विद्यार्थी द्वारा जून 2017 से माद्क द्रव्य पदार्थो की तस्करी रोकने, अवैध हथियारोें की जप्ति तथा चोरी, नकबजनी के अपराधों एवं अन्य प्रकरणों में फरार आरोपियों को पकड़ने हेतु ‘‘आॅपरेशन शिकंजा‘‘ चलाया गया। इस अभियान के तहत प्रथम चरण में वर्ष 2017 में कुल 103 एवं जनवरी 2018 से वर्तमान तक कुल 80 फरार आरोपियों को गिरफ्तार किया गया।

पुलिस अधीक्षक तुषारकान्त विद्यार्थी के निर्देशन व अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक जितेन्द्र सिंह पंवार एवं नगर पुलिस अधीक्षक नरेन्द्र सौलंकी के मार्गदर्शन में अवैध मादक पदार्थो , हथियारों की धरपकड एवं फरार आरोपियों की गिरफ्तारी हेतु चलाये जा रहे अभियान आॅपरेशन शिकंजा के तहत् थाना प्रभारी थाना नीमच केंट जितेन्द्र सिंह सिसोदिया एवं थाना प्रभारी बघाना वी.डी.जोशी के नेतृत्व में पुलिस टीम द्वारा 07 आरोपियों को गिरफ्तार किया जाकर 12 पिस्टल एवं 10 जिन्दा कारतूस जप्त किये गये। 

थाना नीमच केंट पुलिस को मुखबीर सुचना प्राप्त हुई कि हेमन्त पिता बालुराम खटीक नि. कोटडी थाना अरनोद जिला प्रतापगढ बस स्टेंण्ड़ के पास स्थित मुक्तिधाम पर अवैध पिस्टल बैचनें की फिराक में घुम रहा है। सूचना से वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत कराकर थाना प्रभारी नीमच केंट जितेन्द्र सिंह सिसोदिया के नेतृत्व में विशेष टीम का गठन किया गया। टीम द्वारा मुखबीर सुचना पर बताये गये स्थान पर दबिश देकर हेमन्त पिता बालुराम खटीक नि. कोटडी थाना अरनोद जिला प्रतापगढ को 03 पिस्टल तथा 03 जिन्दा राउन्ड के साथ गिरफ्तार किया जाकर थाना नीमच केन्ट पर अप.क्र. 353/18 धारा 25,27 आम्र्स एक्ट का कायम किया गया। आरोपी हेमन्त पिता बालुराम से पुलिस पूछताछ में आरोपी हेमंत द्वारा चालाकी दिखाते हुए अवैध हथियारो के स्त्रोत के सम्बन्ध मे पुलिस को गुमराह करने तथा मुख्य आरोपी को बचाने के उद्वेश्य से मृत व्यक्ति का नाम बताया गया। टीम द्वारा कड़ी एवं सुक्षमता से पूछताछ करने पर आरोपी हेमंत द्वारा बताया गया कि उक्त अवैध हथियार वह अपने साथी श्यामलाल पिता बाबुलाल मीणा तथा कैलाश पिता कमल लाल मालवीय दोनो निवासी लसुडीया ईला थाना भावगढ़ जिला मंदसौर से लाना स्वीकार किया गया। जिस पर से टीम द्वारा दोनो आरोपीयो को भी गिरफ्तार किया जाकर दोनो के कब्जे से कुल 05 पिस्टल और बरामद की गई। प्रकरण में विवेचना जारी है।        

कार्यवाही में योगदान -

उक्त सराहनीय कार्यवाही में थाना प्रभारी नीमच केंट जितेन्द्र सिंह सिसौदिया , उनि. शब्बी मेव, सउनि कैलाश राठौड, सउनि भीम सिह, आरक्षक अजीतसिंह, आरक्षक श्रीपालसिंह, आरक्षक 261 राजमल पाटीदार एवं आरक्षक लक्की शुक्ला की महत्वपूर्ण भूमिका रही।

पुलिस थाना बघाना - 

थाना बघाना पुलिस को मुखबीर सुचना प्राप्त हुई कि अमावली महल बालाजी मंदिर के पास पाली निवासी प्रकाश पिता मांगीलाल चैधरी अवैध हथियार पिस्टल लेकर घुम रहा है। उक्त सूचना पर से थाना प्रभारी बघाना उनि  वी.डी.जोशी द्वारा वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत कराकर टीम का गठन कर मुखबिर द्वारा बताये स्थान पर दबिश देकर प्रकाश पिता मांगीलाल चैधरी निवासी माताजी सुपर मार्केट वैष्णव काॅलोनी पाली को गिरफ्तार कर उसके कब्जे से एक देशी पिस्टल मय 01 जिंदा राउण्ड के जप्त किया गया। आरोपी से अवैध पिस्टल स्त्रोत के संबंध में पुछताछ करते उक्त पिस्टल खरगोन में सिग्नोर से सिकलीगर सरदार से लाना बताया तथा पूर्व में भी आरोपी प्रकाश चैधरी द्वारा सिकलीगर सरदार से 03 पिस्टल खरीदी जाकर अश्विन पिता अनिल पाटीदार निवासी राबडिया, मोनु पिता राजेन्द्रसिंह यादव निवासी सुवाखेडा तथा गोपाल पिता भेरूलाल तेली निवासी कराडिया महाराज को बैंचना बताया। उक्त जानकारी पर से पुलिस टीम द्वारा तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से एक-एक पिस्टल तथा दो-दो कारतूस जप्त किये गये। आरोपी प्रकाश चैधरी ने वर्ष 2015-16 में सगराना के सम्राट होटल के सुशांतसिंह के यहाॅ काम किया तथा वर्तमान में सगराना में ओमशिव ढाबे पर काम कर रहा था। पुछताछ में पता चला कि आरोपी प्रकाश चैधरी देशी कटटे व पिस्टल खरगोन जिले में सिग्नोर से खरीदकर नीमच के आस-पास स्थानीय लोगो को बेचता है।

आरोपी प्रकाश चैधरी का आपराधिक रिकार्ड - 

1. आरोपी प्रकाश चैधरी को वर्ष 2009 में पूणे में हवेली थाना में दो पिस्टल के साथ गिरफ्तार किया गया था जिसका प्रकरण पूणे में विचाराधीन है।

2. आरोपी प्रकाश चैधरी पूणे से वर्ष 2010 में ए.टी.एस. माॅर्डन काॅलोनी शिवाजी नगर ब्रांच ने एक पिस्टल बरामद की थी।

3. आरोपी प्रकाश चैधरी ने पूणे में ही 15 जूलाई 2010 में अखिल भारतीय सेना के अरूण गवली गैंग के शेखर वाघमरे का मर्डर किया था, जिसका प्रकरण शिवाजी नगर पुलिस स्टेशन में दर्ज होकर आरोपी वर्तमान में जमानत पर है।

कार्यवाही में योगदान -

उक्त सराहनीय कार्यवाही में थाना प्रभारी बघाना उनि वी.डी.जोशी, उनि निलेश सौलंकी, आर. विजय सिंह, आर. अनिरूद्व राठौर एवं आर. अनिल पाटीदार की महत्वपूर्ण भूमिका रही।


SHARE ON:-

image not found image not found

लोकप्रिय

© Copyright VOICEOFMP 2017. Design and Developed By Pioneer Technoplayers Pvt Ltd.