NEWS: क्षमापना पर्व ले संकल्प व्यवहार में कोमलता, हद्रय में स्निग्धता और मन में निरहंकार का भाव लायेगें - साध्वी गुणरंजना श्रीजी

Image not avalible

NEWS: क्षमापना पर्व ले संकल्प व्यवहार में कोमलता, हद्रय में स्निग्धता और मन में निरहंकार का भाव लायेगें - साध्वी गुणरंजना श्रीजी

नीमच :-

नीमच 14 सितम्बर 18 (केबीसी न्यूज)। ष्वेताम्बर समाज के पर्युशण पर्व के आखरी दिन षुक्रवार को क्षमायाचना दिवस पर सभी  श्रावक-श्राविकाओं ने एक दुसरे से मिच्छामी दुक्क्ड़म कहा । संवत्सरी  के साथ पर्युशण महापर्व का समापन हुआ । महावीर जिनालय, विकास नगर में आयोजित धर्मसभा में साध्वी गुणरंजना श्रीजी मसा. ने कहां कि क्षमापना पर्व पर जीवन में तीन गुणों को विकसित करना आवष्यक है व्यवहार में कोमलता, हद्रय में स्निग्धता और मन में निरहंकार का भाव लाना चाहिये । जब ध्यान में होते है तो ना ही उपवास ना ही सामयिक  की जरूरत होती है भगवान  महावीर के दिये गये ज्ञान में विष्व का पूरा दर्षन समाहित है महा संवत्सरी पर्व क्षमायाचना और जीव दया का दिन है जाने-अनजाने में जो भूल या गलतियां हुई है उन पर आत्म चिंतन करने का दिन है । 


SHARE ON:-

image not found image not found

© Copyright VOICEOFMP 2017. Design and Developed By Pioneer Technoplayers Pvt Ltd.