NEWS ROUND: पढियें जिले की हर एक छोटी खबर सिर्फ 5 मिनट में

Image not avalible

NEWS ROUND: पढियें जिले की हर एक छोटी खबर सिर्फ 5 मिनट में

नीमच :-

अंहकार को ना आने दें - पुण्य दर्षना श्रीजी 
नीमच 14 सितम्बर 18 (केबीसी न्यूज)। अपने भीतर कभी भी अंहकार को ना आने दें जिसके भीतर अंहकार आ गया समझ लो वह प्रभुल भक्ति, धर्म, साधना से भी दुर हो गया । चार्तुमास तभी सार्थक है जब प्रवचन जीवन में परिवर्तन लाने वाला बनें  । क्षमापना प्रायष्चित का पर्व है पाप का प्रायष्चित करने वाला आराधक पद को  प्राप्त कर  वीतराज  बन सिद्ध बुद्ध मुक्त बन जाता है यह बात साध्वी पुण्य दर्षना श्रीजी मसा. ने कही वे नीमचसिटी राजेन्द्र सुरी सभागार में षुक्रवार को आयोजित चार्तुमास धर्मसभा में बोल रही थी उन्होंने कहा कि जितने प्राणी है सभी को सुख की चाह रखते है लेकिन मानव को चाहिये की वहां सुख को इतना भी गले ना लगाये कि दुख आने पर वह कमजोर हो जायें । 

पर्युशण पर्व के अंतिम दिन मनाया क्षमापना कार्यक्रम के  साथ सामूहिक पारणा -
नीमच 14 सितम्बर 18 (केबीसी न्यूज)। तपस्या के द्वारा आत्मा निर्मल बनती है जीवन में तप होना जरूरी है तभी कहते है कि 15 दिन में एक उपवास करना चाहिये ताकि षरीर के लिये भी अच्छा रहता है यह बात साध्वी उपेन्द्र यषा श्रीजी मसा. ने कही वे षुक्रवार सुबह जैन भवन में पर्युशण पर्व के अंतिम दिवस आयोजित धर्मसभा में बोल रही थी सचिव मनीश कोठारी ने बताया कि सभी तपस्वीयों का माणकलाल सोनी के द्वारा बहुमान किया गया व तपस्वीयों की सामूहिक पारणा के लाभ भी उन्होंने लिया । अटृाई  के तपस्वी 12 छटृ अटृम के तपस्वी 40 व तेला 50 तपस्वी की हुई । जिसमें समाजजनों ने बड़ी संख्या में तपस्या हुई दोपहर 1 बजे सिद्धि तप के तपस्वीयों की तरफ से चैबीसी का कार्यक्रम रखा गया था । आज 15 सितम्बर को चैबीसी का कार्यक्रम सिद्धी तप व अटृई की तपस्वीयों की तरफ से होगा  । 

गणेष चर्तुर्थी पर घर-घर गुंजा गणपति बप्पा-
नीमच 14 सितम्बर 18 (केबीसी न्यूज)। षहर सहित जिले भर में षुक्रवार को गणेष चर्तुर्थी पर्व श्रद्धा एवं उत्साह के साथ मनाया गया । इस मौके पर षहर के गणपति मंदिरों में सुबह से दिनभर विविध अनुश्ठान हुए । मंदिरों में तड़के से दर्षनार्थियों की कतारे लगने लगी । इधर, श्रद्धालु षुभ मुहूर्त में प्रथम पूज्य गजानन को घर लेकर आए ।  गणेष उत्सव के लिये षहर के कई स्थानों विजय टाॅकिज चैराहा, लायंस पार्क, फिरोजषाह पेट्रोल पम्प के पास, चुड़ी गली, पंचमुखी गणेष मंदिर अन्य मंदिरों पर गणपतिजी का आकर्शक श्रृगांर कर व पूजा अर्चना कर स्थापना की गई । गणेष उत्सव के लिये षहर के कई क्षेत्रों में विभिन्न संगठनों व मण्डलों ने गणेष प्रतिमाओं की स्थापना की । इससे पूर्व ढोल नगाडो के साथ गणेष प्रतिमाओं को जुलूस के रूप में लाया गया । गणेष चर्तुर्थी पर  सुबह  5.15 बजे गणपति का पंचामूत अभिशेक किया गया । बाद में 5.30 बजे मंगला आरती, 6 बजे से स्वर्ण आंगी का श्रृंगार किया गया । 10.15 बजे यज्ञ हवन के बाद  12.15 बजे ध्वजारोहण किया गया। दोपहर 12.30 बजे श्रृंगार आरती, षाम 7.30 बजे संध्या आरती व मध्यरात्रि 12.15 षयन आरती हुई । मंदिर में दर्षन के लिए अल सुबह से श्रद्धालुओं की कतारे लगने षुरू हो गयी जो देररात तक रही । 


SHARE ON:-

image not found image not found

© Copyright VOICEOFMP 2017. Design and Developed By Pioneer Technoplayers Pvt Ltd.