खबरे NEWS: नीमच कलेक्‍ट की प्रेसवार्ता आज शाम चार बजे, मीडिया कर्मी से होगें रूबरू, पढें खबर NEWS: सुलभ शोचालय में दो दिनों से लगे ताले, रहवासियों को हो रही परेशानी, जताया आक्रोश, पढें मुश्‍ताक अली शाह की खास खबर BIG BREAKING: फोर लाईन के समीप बोरे में मिली अज्ञात लाश, ईलाके में फैली सनसनी, पढें खबर NEWS: नगर में रक्‍तदान शिविर का आयोजन सम्‍पन्‍न, रेडक्रास सोसायटी के माध्‍यम से हुआ सम्‍पन्‍न, पढें बद्रीलाल गुर्जर की खबर NEWS: उन्‍हेंल मंडी में लोकायुक्‍त की कार्रवाही, व्‍यापारी के लायसेंस बनाने के लिए 12 हजार की रिश्‍वत लेते मंडी प्रभारी सचिव को रंगे हाथों पकडा, पढें खबर NEWS: संघ ने इस आधार पर तय किया लोकसभा चुनाव में बीजेपी के टिकट बांटने का पैमाना, पढें खबर NEWS: यहां, पाकिस्तान मुर्दाबाद बोलो और चिकन लेग पीस में 10 रुपये की छूट पाओं, पढें खबर NEWS: छोटे से गांव से निकला, टीवी शो पर चमकने वाला सितारा प्रवीण प्रजापति, 28 को पहुंचेंगे मुंबई OMG ! : मनासा का बहुचर्चित हत्‍याकांड मामला, सुप्रीम कोर्ट ने फांसी की सजा को उम्र कैद में बदला, पत्नि सहित पांच मासुम बच्‍चो को उतार दिया था आरोपी जगदीश ने मौत के घाट, पढें शब्‍बीर बोहरा की खबर NEWS: पुलिस कप्‍तान ने यातायात पुलिस को किया आदेशित, फिटनेस नहीं होने पर बसों पर की जाए कार्रवाही, यातायात पुलिस हुई मुस्‍तेद, शुरू की कार्रवाही, पढें अभिषेक शर्मा की खबर NEWS: मंदसौर-नीमच सहित प्रदेश के 12 जिलों में आज हो सकती है बारिश और ओलावृष्टि, मौसम विभाग का अनुमान, पढें खबर NEWS: सोमानी ने किया न्यायाधीश बनने पर श्रीमती किरण जाट का सम्‍मान, पढें खबर NEWS: कांग्रेस के कद्दावार नेता पठान की सडक दुर्घटना में मौत, पढें खबर

REPORT : नीमच में भगवान कृष्ण की माखन मटकी फोड़ लीलाओं ने मोहा श्रोताओं का मन के साथ जानिये शहर में आज क्या क्या हुए धार्मिक आयोजन

Image not avalible

REPORT : नीमच में भगवान कृष्ण की माखन मटकी फोड़ लीलाओं ने मोहा श्रोताओं का मन के साथ जानिये शहर में आज क्या क्या हुए धार्मिक आयोजन

नीमच :-

नटखट पर नंदलाल की मनमोहन लीलाओं का सूनकर श्रद्धालुओं का मन श्री कृश्ण के चरणों  में रम रहा था यह दृष्य रहा अम्बेडकर कालोनी स्थित नारायणगिरी बाबा मंदिर प्रांगण में चल रही भागवत ज्ञान गंगा का जहां माखन मटकी फोड़ की बाल लीलाओं को सुनकर कृश्ण भक्त उत्साह के साथ भक्ति रस में खुब डूबे । षुक्रवार पंचम दिवस को पं. पंकजकृश्ण षास्त्री महाराज ने भगवान कृश्ण की माखन चोरी मटकी फोड की कथा सुनाने के साथ कृश्ण द्वारा गोपियों के आग्रह पर माखन चोरी का वृंतात सुनाया । भागवत कथा अनमोल है महाराज श्री ने बताया कि भगवान श्रीकृश्ण ने जब यषोदा माॅं को माटी खाने के बहाने  मुख में ब्रमाण्ड का दर्षन कराया । उसके बाद यषोदा को अहसास हो गया कि उनका लल्ला कोई साधारण नहीं ये परम ब्रहम का अवतार है भगवान श्रीकृश्ण ने गोर्वधन को इन्द्र देवता के कोप से बचाया एवं इन्द्र के अंहकार को नश्ट किया । उन्होंने कहां कि परमात्मा एक बार जिसको पकड़ लेते है फिर उसका कल्याण के साथ मोक्ष करके ही छोड़ते है कृश्णाकी माखन लीला वात्सल्य का प्रेम ग्रंथ है भजन करते समय बैराग्य का भाव धारण करना चाहिये । मनुश्य अपने परिवार व पड़ौसी के प्रति राग, द्वेश नहीं रखें इससे अपना ही नुकसान होता है । कृश्णा की माखन लीला मनोरंजन का साधन नहीं प्रेरणा का माध्यम है भागवत सदकर्म की प्रेरणा देती है धर्म की रक्षा बिना राश्ट्र का विकास नहीं यषोदा का अंहकार था तो कृश्ण नहीं बधे प्रेम से श्रीकृश्ण भक्तों के बधन में बंध जाते है जनप्रतिनिधि नदी में प्रदुशण होने से बचाने के लिए प्रयास करें । कर्मो का फल 100 जन्म बाद  भी मिलता है इसलिए मनुश्य को पुण कर्म करना चाहिए ऐसा कर्म करो जो सद्गुरू भगवान को अर्पण होता है भागवत का मूल्य नहीं करना चाहिए कथा के दौरान जैसे बालकृश्ण का प्रवेष हुआ तो मेरा दिल दिवाना हो गया वृन्दावन की गलियों में....जय जय राधे राधे ष्याम जय जय वृन्दावनधाम...श्री गोवर्धन महाराज तेरे माथे मुकुट बिराज रहियो....ऐसे कोई धार्मिक भजनों की प्रस्तुति दी । और पुरी श्रद्धा के साथ खुब नृत्य किया । भक्ति भागवत पांडाल श्रद्धालुओं से खचाखच भरा नजर आया उन्होंने सुकदेवमुनि, मधुमंगल, ग्वालपाल, श्रीधामा, कंसवध, वृन्दावन, मथुरा, ग्वालपाल, गाये, यमुना, सांप, पाप, ब्रहमा, कार्तिक, गोपश्टमी पर्व, गोकुल, दाऊ बलराम, पुतना वध, नंदबाबा, यषोदा, चंदा मामा, अगस्त ऋशी, धेनुकासुर, अकासूर, बगासूर, इन्द्रदेव, गिरीराज पर्वत, मानसी गंगा, मटकी फोड़, माखन रास लीला, भलाई, घुंघट, लाज षर्म, आदि धार्मिक प्रंसगों का वर्तमान परिप्रेक्ष्य में महत्व प्रतिपादित किया । भागवत कथा आरती पौथी पूजन में पप्पू समीर, सोनु खुंआर, महेष भंरग, ष्याम कैथवास, रज्जोबाई, राधेष्याम मालखेड़ा वाले, अषोक पंवार, प्रमोद कौषल, षांतिबाई सोंलकी, राधाबाई पंवार, षोभाबाई कौषल, कमलाबाई, सुमित्राबाई, मिश्रीलाल बघाना, अवतार पंवार सहित बड़ी संख्या में श्रद्धालु भक्त उपस्थित थे ।
 
छप्पन भोग एवं गिरिराज पर्वत महोत्सव बना आर्कशण का केंद्र  

भागवत के मध्य जब भागवताचार्य पं. पंकजकृश्ण षास्त्री ने गिरिराज पर्वत पूजा महोत्सव का प्रसंग बताया तो जय-जय श्रीकृश्ण की जयघोश होने लगी इसके साथ ही इस अवसर पर श्रद्धालु भक्तों द्वारा छप्पन भोग लगाकर झांकी श्रृंगारित की गयी। और नन्हे बालक देव पुत्र ललिता अवतार पंवार ने श्रीकृश्ण का आर्कशक अभिनय प्रस्तुत किया । जो श्रद्धालुओं के आस्था का केन्द्र बना सभी ने गिरिराज पर्वत की पूजा अर्चना कर सुख-समृधि के लिये प्रार्थना की । इस अवसर पर मे तो गोर्वधन को जाऊ न माने मेरो मनवा राधे ही विराज रही......एक बार वंदावन आकर देखों सांवरे को दिल में बसाकर देखों.....मेरा भी बना दो छोटा सा काम रे.....कजरारे कजरारे मोटे-मोटे तेरे नेन गौरी नजर ना लग जायें......ताही अहीर की छोरिया छछिया पर छाछ पर नाच नचावें.......आदि भजनों की प्रस्तुत पर श्रद्धालु झुम उठें । साथ ही गोपी कृश्ण मिलन, महारास की नृत्य नाटिका प्रस्तुत की गयी ।  

भागवत में आज कृश्ण-रूकमणी विवाह 
भागवताचार्य पं. पंकजकृश्ण षास्त्री के श्रीमुख से अम्बेड़कर कालोनी स्थित नारायणगिरी बाबा मंदिर प्रांगण में आज 08 दिसम्बर षनिवार को श्रीकृश्ण-रूकमणी विवाह प्रंसग का श्रद्धालुओं को वर्णन सुनाया जायेंगा । साथ ही मनमोहक झांकी के माध्यम से भी कृश्ण-रूकमणी प्रंसग की प्रस्तुती होगी कथा प्रतिदिन दोपहर 1 से सांय 5 बजे तक प्रवाहित हो रही है । 

विष्वषांतिकर षांतिस्नात्र महापूजा प्रतिश्ठा महोत्सव, संतों का मंगल प्रवेष 10 को
श्री जैन ष्वेताम्बर मूर्तिपूजक संघ व श्री चंद्रप्रभु स्वामी जैन ष्वेताम्बर मंदिर ट्रस्ट चीताखेड़ा, नीमच द्वारा आचार्यजितेन्द्र सूरीष्वर महाराज, के. षिश्यरत्न पू.आ श्री निपुणरत्न सूरी राजरत्न विजय साध्वी पुण्य रेखा, की षिश्या कीर्ति रेखा, अर्हद रेखा, दृश्टि रेखा, दर्ष रेखा, क्रियांषील रेखा, पुण्यांगीरेखा श्रीजी मसा. आदि के सानिध्य में समीपवर्ती ग्राम चीताखेड़ा नवपद मंदिर प्रांगण में नवनिर्मित आचार्य जितेन्द्र सूरीष्वर आराधना भवन उद्घाटन के उपलक्ष्य में सोमवार 10 दिसम्बर सुबह 9 बजे श्रीसंघ की नवकारसी के बाद साधु-साध्वी वृन्दों का मंगल प्रवेष कार्यक्रम आयोजित होगा । ट्रस्ट सचिव षांतिलाल सगरावत एवं अषोक कुमार कोठारी ने बताया कि साधु साध्वियों के अमृत प्रवचन, कलष स्थापना, अखण्ड ज्योत स्थापना, ज्वारा रोपण, अश्टमंगल, नवग्रह, दष दिगपाल, नंषावर्त, पाटला पूजन की बोली, स्वामीवात्सल्य एवं विजय मुर्हुत में पाटला पूजन दोपहर 1 बजे चोबिसी षाम को स्वामीवात्सल्य पष्चात महाआरती, मेहन्दी वितरण भक्ति संध्या, रात्रि 8 बजे गुरूमुर्ति पर नाम देने, वरघोडे आदि की बोलिया लगाई जायेगी । विधिकारक नागेष्वर जैन, रियावन संगीतकार संावरिया बैण्ड दीपक भाई, चीताखेड़ा होंगे ।
 
प्रतिश्ठा महोत्सव में भव्य वरघोड़ा भक्ति संध्या 11 को 
महोत्सव की श्रृंखला में मंगलवार 11 दिसम्बर को सुबह 6 से 7 बजे प्रभातिया, भक्तामर पाठ, प्रातः 8.30 बजे हाथी घोड़ा बैण्ड बाजे एवं प्रभुजी का रथ के साथ भव्य वरघोड़ा निकलेगा, साथ ही साधु संतो के अमृत प्रवचन ज्ञान गंगा, 18 अभिशेक की बोली, स्वामीवात्सल्य, दोप. 2 बजे 18 अभिशेक, षाम को स्वामीवात्सल्य के बाद कुमारपाल महाराजा बनकर 108 दीपक की महाआरती रात्रि को प्रतिश्ठादि के चढ़ावे की बोलिया व भक्ति संध्या आयोजित होगी । महोत्सव की श्रृंखला में बुधवार 12 दिसम्बर सुबह 6 से 7 बजे तक प्रभातिया, नवकारसी के बाद तोरण का वरघोडा, प्रातः षुभ मुर्हत में भव्य प्रतिश्ठा, प्रवचन, जीवदया टीप व स्वामीवात्सल्य, दोप 1 बजे विष्वषांतिकर षांतिस्नात्र महापूजन, षाम को महाआरती, रात्रि को भक्ति संध्या, प्रभु अंगरचना सहित विविध धार्मिक अनुश्ठान आयोजित होंगे ।
                                

निषुल्क आयुर्वेद न्यूरों थैरेपी चिकित्सा षिविर आज व कल  
सिद्धि विनायक आयुर्वेद न्यूरो थैरेपी सेन्टर द्वारा आज 8 व 9 दिसम्बर को सुबह 10 से सांय 5 बजे तक नीमचसिटी प्रताप चैक के समीप गली में पानी की टंकी के पास, षंातिनगर में निःषुल्क आयुर्वेद न्यूरो थैरेपी चिकित्सा षिविर आयोजित किया जायेगा । प्रदीप राव मराठा एवं दुर्गा विष्व कर्मा ने बताया कि षिविर में कमर, साईटिका, गर्दन, कंधे घुटना, हाथ-पैर, माईग्रेन फैषन, पेरेलेसीस, स्लिपडिस्क, फ्रोजन, षोल्डर, सर्वाईकल, स्पोन्डलाइसीस, एड़ी दर्द से सम्बंधित सभी रोगों का चिकित्सा परीक्षण कर थैरेपी चिकित्सा से उपचार किया जायेगा । 
                    

साध्वी गुणरंजना श्रीजी मसा. का विहार 
साध्वी गुणरंजना श्रीजी मसा. बही पाष्र्वनाथ तीर्थ प्रवास के बाद आज षनिवार सुबह 8 बजे श्रावक अषोक कुमार दुग्गड़ के निवास से मल्हारगढ़ के लिए विहार करेंगे । वे दोपहर 12 बजे तक मल्हारगढ़ पहूॅचेगे जहां से स्वास्थ्य अनुकुल रहा तो साध्वी श्रीजी वहाॅ से रविवार सुबह 8 बजे मल्हारगढ़ से नीमच की ओर विहार करने की संभावना है । 


महावीर इंटरनेषनल ने 100 बेबीकीट वितरण कर नवजात बच्चों को जन्म देने वाली माताओं का किया सम्मान 
बेबीकीट वितरण मानव सेवा का पर्याय है पीड़ित मानवता की सेवा ही ईष्वर की सच्ची सेवा है यह मानव का प्रथम कर्तव्य भी है हमें इसका पालन करना चाहिये तभी हमारा पुण्य, फल मजबूत होगा । असहाय को सेवा की नहीं आत्म सम्बल की आवष्यकता है नवजात बच्चों को जन्म देने वाली माताऐं का सम्मान देवी के सम्मान योग्य है क्योंकि वह स्वयं भी दो परिवारों को आगे बढ़ाती है और आने वाली संतान भी दो परिवारों का विकास करती है । यह दुगना उत्साह समाज में नई ऊर्जा का संचार करेगा यह बात जैन कान्फ्रेस के राश्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य एवं महावीर इंटरनेषनल के झोन सेक्रेटरी मनोहरलाल बम्ब (षम्भु) ने कही वे सामाजिक संस्था महावीर इंटरनेषनल केन्द्र एवं प्रियदर्षनी के संयुक्त तत्वाधान में 7 दिसम्बर षुक्रवार षाम 5 बजे जिला चिकित्सालय में जन्में 100 नवजात बच्चों की मााताओं का सम्मान के दौरान बोल रहे थे । उन्होने कहा कि समाजसेवी संगठन बच्चों एवं उनके परिवार के विकास के लिए कृत संकल्पित और बेटे-बेटी की षिक्षा के लिए षिक्षण साम्रगी का वितरण भी किया जाता है इससे पूर्व में महावीर इंटरनेषनल से जुड़े समाजजनों ने जिला चिकित्सालय में जच्चा बच्चा वार्ड पहूंचकर नवजात संतान को जन्म देने वाली 100 माताओं का महावीर इंटरनेषनल की ओर से गणवेष (बेबीकीट) प्रदान कर सम्मानित किया गया । बेबीकीट वितरण के लाभार्थी मनोहरलाल बम्ब (षंभु) थे । इस अवसर पर महावीर इंटरनेषनल के राश्ट्रीय गवर्निग कौंषिल के सदस्य सूरजमल अग्रवाल, झोनल अध्यक्ष के.के. जैन, महावीर इंटरनेषनल केन्द्र नीमच के अध्यक्ष मदनलाल वीरवाल एवं सचिव विनोद राणावत, जिला जैन कान्फ्रेस नीमच महामंत्री ज्ञानचंद्र बम्ब, ललित कुमार बम्ब, सुरेन्द्र बम्ब, प्रकाष जैन, विमल नागौरी, प्रियदर्षनी अध्यक्ष आषा संाभर, सचिव जूही जैन, अनिता राठौर एवं दीपा जैन सहित बड़ी संख्या में गणमान्य लोग उपस्थित थे ।  


SHARE ON:-

image not found image not found

© Copyright BABJI NEWS NETWORK 2017. Design and Developed By PIONEER TECHNOPLAYERS Pvt Ltd.