खबरे EXCLUSIVE: क्रिक्रेट के बुक्‍की ले रहें है शहर के युवाओं की जान, जितनें का जुनून कर रहा है जिंदगी बर्बाद, क्रिक्रेट सट्टें की काली दुनिया का सच बताती डेस्‍क बताती डेस्‍क इंचार्ज अभिषेक शर्मा की स्‍पेशल रिपोर्ट WOW: पन्ना टाइगर रिजर्व के इस डॉक्टर ने 7 मिनट में बाघिन को किया बेहोश, अब तक 62... पढें खबर TOP NEWS: कमलनाथ सरकार का बड़ा ऐलान, MP में लागू नहीं होगा NPR, पढें खबर BIG NEWS: बस की चपेट में आया युवक, हुई दर्दनाक मौत, नहीं हुई शिनाख्‍त, पुलिस जांच में जुटी, पढें खबर BIG NEWS: विधानसभा स्‍तरीय कांग्रेस कार्यकर्ताओं के सम्‍मेलन का आयोजन रतनगढ में, कांग्रेस नेता राजकुमार अहीर करेंगे शिरकत, पढें मेहबूब मेव की खबर VIDEO: #शिवराज की मौजूदगी में #VD ने संभाली प्रदेश #भाजपा की कमान, #RSS ने दिखाया दम, देखे जर्नलिस्ट मुस्तफा हुसैन की ये रिपोर्ट WOW: लायंस इंटरनेशनल की डिस्ट्रिक्ट चेयरपर्सन तथा लायंस क्लब जावरा की पहल, उन जरूरी दिनों के लिए, अब 5 रुपए में सेनेटरी पेड, पढें खबर BIG NEWS: तैराकियों के हित में जल्‍द से जल्‍द शुरू हो नगर पालिका का स्विमिंग पुल, नीमच के 20 तैराक खिलाड़ी हुए प्रशिक्षित, स्विमिंग पूल लाईफ़ गार्ड का लिया प्रशिक्षण, पढें खबर BIG REPORT: आधुनिकता के दौर में आदिवासी क्षेत्रों में समाज विरोधी परंपराएं, जात से कर दिया बाहर, वापस आने पर देने होंगे 7 लाख रुपए, पढें खबर OMG ! शहर में दिनों-दिन बढती जा रही चोरी की वारदातें, रिद्धी-सिद्धी कॉलोनी के सूने मकान में बदमाशों ने बोला धावा, पुलिस के हाथ अब भी खाली, पढें खबर BIG NEWS: राज्य सरकार युवाओं को उद्योग लगाने में मदद कर रोजगार सृजन का लक्ष्य हाथ में लिया है, सहाकारिता मंत्री आंजना, पढें खबर BIG NEWS: एसबीआई एटीएम से निकालें 20 हजार रूपए, 500-500 के निकलें नोट- सभी में लगी दीमक, जुडें कागज, पढें खबर NEWS: ग्राम धोलापानी में 2 दिवसीय सत्रांत शैक्षिक संगोष्ठी कार्यक्रम का आयोजन सम्‍पन्‍न, समाज के विकास में शिक्षक की भुमिका महत्वपूर्ण, सहकारिता मंत्री आंजना, पढें कैलाश शर्मा की खबर BIG NEWS: खाद्य एवं औषधी प्रशासन विभाग की कार्रवाही से मंडी व्‍यापारी संघ में आक्रोश, किया मंडी बंद का ऐलान, मंगलवार को नहीं चलेगी कृषि उपज मंडी, पढें खबर

NEWS: नयी सरकार को ज़ोर से लग सकता है पुरानी बिजली का नया झटका, पढें खबर

Image not avalible

NEWS: नयी सरकार को ज़ोर से लग सकता है पुरानी बिजली का नया झटका, पढें खबर

नीमच :-

मध्य प्रदेश की नव निर्वाचित कमलनाथ सरकार को बहुत जल्द बिजली का झटका लग सकता है. प्रदेश की तीन विद्युत वितरण कंपनियों की हज़ारों करोड़ रुपए की बकाया सब्सिडी का पैसा सरकार को देना है. ये उसी योजना की सब्सिडी राशि है जो पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मुख्यमंत्री सरल बिजली बिल और बिजली बिल बकाया माफी योजना के तहत लागू की थी. शिवराज सरकार तो चली गई लेकिन सब्सिडी राशि का बड़ा भारी बोझ कमलनाथ सरकार पर आ टूटा है.

15 साल के वनवास के बाद सत्ता मे आई कांग्रेस सरकार पर 1.81 लाख करोड़ से अधिक का कर्ज़ और अपनी बड़ी घोषणाओं पर अमल का दबाव है. मुख्यमंत्री कमलनाथ ने शपथ लेने के चंद घंटे बाद ही किसानों के कर्ज माफी की फाइल पर दस्तखत भी कर दिए. लेकिन पैसा आएगा कहां से ये सबसे बड़ा सवाल है. बहराहल इसी बीच एक नई देनदारी भी सरकार पर मुंह बाए खड़ी है.

प्रदेश मे बढ़े हुए बिजली बिलों ने गरीब तबके के लोगों के बीच हाय तौबा मचा दी थी. ऐसे मे शिवराज सरकार ने आनन फानन में मुख्यमंत्री सरल बिजली बिल एवं बकाया बिजली बिल माफी योजना लागू कर दी थी.
ये है योजना 

- गरीब परिवार को बकाया बिजली बिल पूर्ण माफ
- हर माह सिर्फ 200 रुपए बिल
- शेष सब्सिडी सरकार देगी.

योजना लागू हो गई. लाखों लोगों ने रजिस्ट्रेशन भी करा लिया और उन्हें बिजली बिल माफी के सर्टिफिकेट भी दे दिए गए.लेकिन सरकार ने बिना एडवांस राशि दिए ही योजना के नाम पर इतिश्री कर दी. विद्युत कंपनियों ने भी इस पर कोई ऐतराज़ नहीं जताया. लेकिन अब जो आंकड़ा सामने आया है उसने बिजली कंपनियों के बल्कि सरकार के भी होश उड़ा दिए हैं.

आंकड़े बताते हैं कि
- पूर्व क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी को सरल बिजली बिल योजना के तहत 194 करोड़ (नवंबर माह तक) की सब्सिडी सरकार से लेना है.
- मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के 223.06 करोड़ (नवंबर माह तक)
- पश्चिम क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के 273.65 करोड़ की सब्सिडी सरकार पर बकाया है.
बकाया बिजली बिल माफी योजना के तहत
- पूर्व क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी को 517.08 करोड़ (नवंबर माह तक) की सब्सिडी राशि सरकार से लेना है.
- मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी को 1184.08 करोड़
- पश्चिम क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के 500.94 करोड़ रुपए सरकार पर बकाया है.

नवंबर माह तक के आंकड़े बताते हैं कि करीब 2892 करोड़ से ज्यादा पैसा इन तीनों विद्युत वितरण कंपनी को सरकार से लेना हैं. लेकिन सरकार ने अब तक सिर्फ 130 करोड़ रुपए की किश्त ही दी है. हर महीने ये आंकड़ा बढ़ता जाएगा.

नयी सरकार को बिजली का झटका लगने पर सियासत भी तेज़ हो रही है. भाजपा का कहना है जब किसानों का हज़ारों करोड़ रुपए कांग्रेस माफ कर सकती है तो ये राशि तो उससे कम है.


SHARE ON:-

image not found image not found

© Copyright BABJI NEWS NETWORK 2017. Design and Developed By PIONEER TECHNOPLAYERS Pvt Ltd.