खबरे COMMODITY MARKET: चुनाव नतीजे आते ही ऊपर चढ़े तेल के दाम BUSINESS: यहा क्लिक करेगें तो जानेगें नीमच सर्राफा भाव GADGETS: OnePlus 7 Pro बना ऐमजॉन पर सबसे तेजी से बिकने वाला अल्ट्रा प्रीमियम स्मार्टफोन AUTOMOBILE: Renault Triber से 19 जून को उठेगा पर्दा, जानें खास बातें RELASHANSHIP: Sex के दौरान अपनी पार्टनर से ये सब करवाना चाहते हैं पुरुष! HEALTH: बेली फैट कम करने में मददगार है वीरभद्रासन TODAY HISTORY: 24 मई का इतिहास, जानें इस दिन की अहम घटनाओं को TOTKE: सावधान ! भूल से भी इन 3 देवी-देवता की मूर्ति, घर के मंदिर में न रखे खड़ी, वरना.. JYOTISH: 24 मई का राशिफल, मिथुन राशि के लिए आज का कल्याणकारी उपाय NEWS DIGEST: 24 मई को शहर में होने वाले राजनीति आयोजन एक क्लिक पर जाने OMG ! एमपी की हाई प्रोफाइल सीट नीमच-मंदसौर, सबसें तेज रूझान वॉईस ऑफ एमपी पर, नीमच-मंदसौर ससंदीय क्षेत्र में मिनाक्षी नटराजन को 4 लाख 68 हजार 764 वोट प्राप्‍त, पढें खबर ELECTION UPDATE: एमपी की हाई प्रोफाइल सीट नीमच-मंदसौर संसदीय क्षेत्र, वॉईस ऑफ एमपी का मतगणना अपडेंट लगातार जारी, चौकिदार सुधीर गुप्‍ता को 8 लाख 42 हजार 887 वोट प्राप्‍त, पढें खबर ELECTION 2019: भारतीय जनता पार्टी की प्रचंड जीत पर नगर में आतिशबाजी, निकाला भव्य जुलूस, पढें आशिष बैरागी की खबर

TOTKE: सावधान ! भूल से भी न करे ये 12 पाप, वरना सारी जिंदगी बने रहेंगे कंगाल

Image not avalible

TOTKE: सावधान ! भूल से भी न करे ये 12 पाप, वरना सारी जिंदगी बने रहेंगे कंगाल

डेस्‍क :-

ज्योतिष शास्त्र, वास्तु शास्त्र, सामुद्रिक शास्त्र, ऐसी ही कुछ विधाएं हैं जिनके प्रयोग से हम जीवन में आ रहे संकटों के रुख मोड़ सकते हैं। तकलीफ होने पर लोग इन शास्त्रीय उपायों का प्रयोग करते हैं, लेकिन आज जो हम आपको बताने जा रहे उसे जानने के बाद आप भी इन कामो को करने से पहले हज़ार बार सोचेंगे और कभी करने  के बारे में सोचेंगे भी नहीं  क्योंकी अगर ये काम आप करने का सोचे भी तो एक बार जरुर सोच ले आपके साथ क्या हो सकता है,.

भगवान शिव को औघड़ और भोलेनाथ भी कहा जाता है, लेकिन शिव जितने भोले और आसानी से प्रसन्न होने वाले हैं, उनका गुस्सा भी उतना ही प्रलयंकारी है. कहते हैं कि जिस दिन शिव ने अपनी तीसरी आंख खोल दी, उसी दिन दुनिया का अंत निश्चित है. शिव पुराण में कार्य, बात-व्यवहार और सोच द्वारा किए गए 12 पाप वर्णित हैं जिसे भगवान शिव कभी क्षमा नहीं करते. ऐसा व्यक्ति हमेशा ही शिव के कोप का भाजन होगा और कभी भी सुखी जीवन व्यतीत नहीं कर सकता.

सोच से किए जाने वाले पाप-

आपने सुना होगा कि ऊपरवाले से कुछ छुपा नहीं होता. यहां तक कि आप अपने मस्तिष्क में जो सोच रहे होते हैं, वह भी भगवान से छुपा नहीं है. इसलिए भले ही बात और व्यवहार में आपने किसी को नुकसान ना पहुंचाया हो, लेकिन अगर मन में किसी के प्रति कोई दुर्भावना है या आपने किसी का अहित सोचा हो, तो यह भी पाप की श्रेणी में आता है.

दूसरों के पति या पत्नी पर बुरी नजर रखना, या उसे पाने की इच्छा करना भी पाप की श्रेणी में रखा गया है.

दूसरों का धन अपना बनाने की चाह रखना भी भगवान शिव की नजर में अक्षम्य अपराध और पाप है.

किसी भोलेभाले और निरपराध इंसान को कष्ट देना, उसे नुकसान पहुंचाने, या धन-संपत्ति लूटने, उसके लिए बाधाएं पैदा करने की योजना बनाना या ऐसी सोच रखना भगवान शिव की नजरों में हर हाल में माफी ना देने योग्य पाप है.

अच्छी बातें भूलकर बुरी राह को स्वयं चुनने वाले के पाप अक्षम्य होते हैं.

# बोली के द्वारा किए जाने वाले अक्षम्य पाप-
शिव पुराण के अनुसार जिस प्रकार आप किसी का बुरा नहीं करने के बावजूद, उसके लिए बुरी सोच रखने के कारण भी पाप के हकदार और दंड की श्रेणी में आ जाते हैं, उसी प्रकार भले ही आपने अपने कार्य से किसी का बुरा ना किया हो, लेकिन आपकी बोली अक्षम्य पापों का हकदार भी बना सकती है. खासतौर से इन तीन हालातों में:

किसी गर्भवती महिला या मासिक के दौरान किसी महिला को कटु वचन कहना या अपनी बातों से उनका दिल दुखाना शिव की नजरों में अक्षम्य अपराध और पाप है.

किसी के सम्मान को हानि पहुंचने की नीयत से झूठ बोलना ‘छल’ की श्रेणी में आता है और अक्षम्य पाप का भागीदार बनाता है.

# समाज में किसी के मान-सम्मान को हानि पहुंचाने की नीयत से या उसकी पीठ पीछे बातें करना या अफवाह फैलाना भी एक अक्षम्य पाप है.

शिव के लिए अक्षम्य पाप कार्य-
आपकी सोच और बातों के अलावा आपके द्वारा जीवन में किए गए ये 5 कार्य भी आपको ऐसे ही पापों का भागी बना सकता है:

धर्म अनुसार मना की गई चीजें खाना या धर्म के विपरीत कार्य करना किसी हाल में व्यक्त के लिए स्वीकार्य नहीं होना चाहिए, वरना आप भगवान शिव की नजरों में हमेशा ही अपराधी रहेंगे.

बच्चों, महिलाओं या किसी भी कमजोर जीव के खिलाफ हिंसा और असामाजिक कार्यों में लिप्तता मनुष्य को पाप का दोषी बनाता है.

गलत तरीके से दूसरे की संपत्ति हड़पना, ब्राह्मण या मंदिर की चीजें चुराना या गलत तरीके से हथियाना भी आपको इस श्रेणी में लाता है.

गुरु, माता-पिता, पत्नी या पूर्वजों का अपमान भी आपको भूलकर भी नहीं करनी चाहिए.

शराब पीना, गुरु की पत्नी के साथ संबंध बनाना, दान की हुई चीजें या धन वापस लेना महापाप माने जाते हैं जिसे भगवान शिव कभी भी क्षमा नहीं करते.


SHARE ON:-

image not found image not found

© Copyright BABJI NEWS NETWORK 2017. Design and Developed By PIONEER TECHNOPLAYERS Pvt Ltd.