खबरे BIG NEWS: युवाओं में बढ़ रहा हार्ट अटैक, यह है बडी वजह, बचने के लिए करें पांच उपाय, पढें खबर और जानें BIG NEWS: निजी बैंक की असिस्टेंट मैनेजर ने डिप्टी मैनेजर पर लगाया दुष्कर्म का आरोप, पुलिस ने किया प्रकरण दर्ज, पढें खबर ELECTION 2019: एमपी की इस लोकसभा सीट पर नहीं चलता कोई EXIT POLL, क्या होगा इस बार, पढे़ं और जानें ELECTION 2019: मंदसौर संसदीय क्षेत्र का रिकॉर्ड, 77.70 प्रतिशत हुआ मतदान, 13 लाख से ज्‍यादा मतदाताओं ने किया मतदान, पढें खबर LIVE BIG STORY : तेंदुए के आतंक से थर्राया मालवा का ये हिस्सा, किसान, पत्रकार और पुलिस पर किया हमला, देखे रवि पोरवाल की विडियों न्‍यूज BIG NEWS: कांग्रेस सरकार को गिरानें में तैयारी में भाजपा, नेता प्रतिपक्ष भार्गव लिख रहे राज्‍यपाल को पत्र, पढें खबर ELECTION 2019: जिलें में सबसें छोटे कद का मतदाता, पिता के साथ साइकल पर बैठ पहुंचा मतदान केंद्र, किया मतदान, पढें बद्रीलाल गुर्जर की खास खबर OMG ! पुलिस और ग्रामीणों पर तेंदूआ पडा भारी, गए थे पकडनें, किया हमला, कई ग्रामीण व पुलिसकर्मी घायल, पढें रवि पोरवाल की खास खबर ELECTION 2019: सभी मतदान कर्मियों के लिए 20 मई का शासकीय अवकाश घोषित, पढें खबर ELECTION 2019: सरवानिया महाराज में रविवार को 79 प्रतिशत मतदान सम्‍पन्‍न, कुल 4012 मतदाताओं ने किया मतदान, पढें दिनेश वीरवाल की खबर BIG BREAKING: गांव में घुसें तेंदूए को रेस्‍क्‍यूं कर ग्रामीणों ने पीटा, हुई मौत, पढें खबर RAMZAN: खुदा की ऐसी इबादत की 10 साल की उम्र में रखा पहला रोजा, फिर मामू ने ईस्‍तकबाल कर रोजा खुलवाया, पढें आजाद मंसूरी की यें खास खबर OMG: मंदसौर के नारायणगढ़ गांव में घुसे दो तेंदुए, एक महीला घायल, गांव में अफरा तफरी का माहौल, पढें रवि पोरवाल की खबर

BIG NEWS: समझौते के पैसे नहीं देने पर बुजुर्ग को घेरा, जान बचाने डायल 100 में घुसा, पुलिसकर्मी थाने लेकर पहुंचे, पढें खबर

Image not avalible

BIG NEWS: समझौते के पैसे नहीं देने पर बुजुर्ग को घेरा, जान बचाने डायल 100 में घुसा, पुलिसकर्मी थाने लेकर पहुंचे, पढें खबर

डेस्‍क :-

झाबुआ, देवझिरी में अपने रिश्तेदार की अस्थि विसर्जन में गए पीलियाखदान के नानसिंह पिता राणा मेड़ा को उसके बेटे जेवियर के ससुराल वालों ने घेर लिया। दर्जनों लोगों द्वारा हमला करने पर नानसिंह जान बचाने पास खड़ी डायल 100 में घुस गया। इसमें बैठे पुलिस वाले कुछ समझ पाते, तब तक कई लोगों ने पुलिस वैन को घेर लिया। वो नानसिंह को बाहर निकालने की मांग करने लगे।

डायल 100 के स्टाफ ने सूझबूझ दिखाई और गाड़ी में कैमरे लगे होना बताकर हमलावरों को दूर किया। फिर ड्राइवर ने तेजी से गाड़ी को झाबुआ की ओर दौड़ा दिया। हमलावर उनका बाइक से पीछा करने लगे। आधे रास्ते में एक पिकअप वाहन और पीछे लग गया। पुलिसकर्मी डायल 100 को सीधे झाबुआ थाने ले गए और मानसिंह को थाने में सुरक्षित बिठाया। पीछे से दूसरे पक्ष के लोग भी आ गए।

पुलिस ने इनमें से चार लोगों को हिरासत में लेकर मामला दर्ज कर लिया। रास्ते में डायल 100 वालों ने सेट पर सूचना दी तो उसे कवर करने थाने के वाहन के साथ एएसपी और एसडीओपी भी पहुंच गए। दोनों पक्षों में विवाद जेवियर की पत्नी की मौत के बाद पंचायत द्वारा तय साढ़े 6 लाख का मुआवजा नहीं देने को लेकर है। 
वायरलेस सेट पर खबर मिली तो एडिशनल एसपी विजय डावर, एसडीओपी इडला मोर्य और कालीदेवी टीआई कुंवरसिंह रावत पहुंच गए। थाने पर नानसिंह को सुरक्षित बिठाया गया और पीछा करने वालों में से चार को पकड़ लिया गया। पिकअप वाहन भी जब्त कर लिया। पकड़े गए लोगों में सुरती का पिता पूना और उसके तीन बेटे बदिया, दीनू और मोनू हैं। पूना की पत्नी काना को भी हिरासत में लिया गया। एसडीओपी ने बताया, मामला दर्ज कर लिया है। 

यह मामला- 

गांव गडवाड़ा के पूना पिता दलसिंह की बेटी सूरती की शादी दो साल पहले पीलिया खदान के नानसिंह के बेटे जेवियर से हुई थी। सूरती की 16 सितंबर 2018 को अचानक मौत हो गई। परिवार वालों ने आत्महत्या का आरोप लगाया। कालीदेवी पुलिस ने पति के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने का मामला दर्ज किया। इसके अलावा भील पंचायत में दोनों पक्षों में समझौता हुआ। पूना के अनुसार साढ़े 6 लाख में समझाैता हुआ, लेकिन नानसिंह के परिवार ने एक रुपया नहीं दिया। पुलिस प्रकरण में भी उसे आरोपी नहीं बनाया गया। बेटी की मौत के लिए ससुराल के सभी पक्ष जिम्मेदार हैं। शुक्रवार को नानसिंह अपने एक रिश्तेदार की अस्थि विसर्जन के लिए देवझिरी मंदिर पहुंचा। सूरती के पिता पूना और दूसरे रिश्तेदार यहां पहुंच गए। यहां दोनों पक्षों में विवाद शुरू हो गया। पूना और दूसरे लोग नानिसंह को मारने दौड़े तो वो डायल 100 में जाकर छिप गया। 

पिता बोले, बेटी की अस्थियां तक नहीं दी : सुरती के पिता पूना दलसिंह ने बताया, बेटी की मौत के बाद अभी तक ससुराल वालों ने उसकी अस्थियां तक विसर्जित नहीं की। उसके पहले पति और ससुर दूसरे व्यक्ति की मौत में बाल देने और अस्थियां देने आ गए। हमने कहा, या तो हमें अस्थियां दे दो या कार्यक्रम करके उन्हें ठंडी कर दो। हमें तो ये भी पता चला है कि उन्होंने अस्थियां फेंक दी। दूसरी ओर नानसिंह का कहना है, मेरा ट्रेक्टर और कल्टीवेटर तक सुरती के पिता ने रख लिया। फिर भी पैसों के लिए दबाव बनाया जा रहा है।


SHARE ON:-

image not found image not found

© Copyright BABJI NEWS NETWORK 2017. Design and Developed By PIONEER TECHNOPLAYERS Pvt Ltd.