खबरे NEWS : सिंगोली कस्बे के पास कुएँ में गिरी नीलगायए, रेस्क्यू के बाद हुई मौत, पढें मेहबूब मेव की खबर BREAKING NEWS : महिला सम्मान के नाम पर शिवराज जी की नौटंकी, अभिनय की सर्वोच्च अनुभूति प्राप्त करते नौटंकी बाज शिवराज जी...-बोले जिला कांग्रेस प्रवक्ता बृजेश मित्तल, पढ़े खबर OMG! पुलिस के प्रति लोगों में गुस्सा, आरोपी की मौत को बता रहे पाप की सजा, आम लोगों का टूटा भरोसा, पढें खबर HEALTHY DIET IN FAST: व्रत में रखें डाइट का ध्यान, रहेंगे फिट, जबलपुर के जानकारों ने बताई बेहद जरूरी बातें, पढें खबर POLITICS: राजनीति में नेताओं की संवेदनहीनता, मौत पर भी हो रहे हैं भाषण तो कोई महिला मंत्री को कह रहा आइटम, पढें खबर OMG : इमरतीदेवी का 'आइटम ' वाले बयान में पलटवार, कलंकनाथ हैं कमलनाथ... मानती हूं राक्षस, पढ़े खबर REPORT: 115 अधिकारी-कर्मचारियों को निलंबन एवं सख्त वैधानिक कार्रवाई के नोटिस, जिला निर्वाचन अधिकारी ने इनके खिलाफ लोकप्रतिनिधित्व, पढें खबर NEWS : ह्यूमन राइट्स एंड क्राइम कंट्रोल ऑर्गेनाइजेशन ने प्रेमी युगल की शादी कराई, पढ़े रमेश्वर नागदा की खबर REPORT: राष्ट्रीय मींस कम मेरिट छात्रवृत्ति योजना पर लापरवाही का साया, स्कॉलरशिप पोर्टल खुलने के बाद भी रजिस्ट्रेशन हुए न नोडल अधिकारी की तैनाती, पढें खबर NEWS : अवैध शराब को लेकर पुलिस की दबिश जारी, करीब 150 केन लहान और शराब फिर बरामद, पढ़े बद्रीलाल गुर्जर की खबर POLITICS: शिवराज जी शब्दों का अनर्थ करने से भी आप चुनाव नहीं जीत सकते-कमलनाथ, आप और मैं, हम सभी आइटम हैं, पढें खबर MOUSAM: दो साल बाद अक्टूबर में ऐसी उमस, दिन में पारा 35 डिग्री पार, रात में बूंदाबांदी, पढें खबर NEWS : फरार अपराधियों की गिरफ्तार हेतु नीमच पुलिस का विषेष अभियान, पढ़े खबर BIG NEWS: अपराध के चढ़ते ग्राफ का विरोध करते कांग्रेसियों को पुलिस ने रोका, पढें खबर GOLD & SILVER RATE: नवरात्रि में फिर से सोना-चांदी की कीमतों में आई भारी गिरावट, सराफा बाजर में लग रही भीड़, जानिए क्या है आज का रेट, पढें खबर REPORT: कोरोना के साथ बढ़ा डेंगू-मलेरिया का प्रकोप, लोग हो रहे बीमार, कलेक्टोरेट में हुई स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा बैठक, दिए निर्देश, पढें खबर VIDEO NEWS : कही चुनाव आये और कई नेताजी भी, लेकिन इनके घर तक नही पहुंचा पीने का पानी, ये पोल खोलती नपा के सरकारी सिस्टम के साथ नेता की, देखे दीपक खताबिया की रिपोर्ट

NEWS: संसार परिवर्तनशील है परिवर्तन हमारे अंदर आया है, साध्वी गुणरंजना, पढें खबर

Image not avalible

NEWS: संसार परिवर्तनशील है परिवर्तन हमारे अंदर आया है, साध्वी गुणरंजना, पढें खबर

नीमच :-

नीमच, संसार परिवर्तनशील है चांद सितारे, नदिया वही है हमारे अंदर परिवर्तन आया है व आम इंसान की वृत्ति में है हमारे अंदर वृत्ति नहीं सुधरेगी तो परिवर्तन नहीं होगा । यह तीन ग्रह हमारे अंदर से नहीं निकलेगें हमारे में परिवर्तन नहीं आयेगा। जिस परमात्मा ने हमें पृथ्वी पर हाथ भरकर भेजा है फिर भी हम उसके दरबार में खाली हाथ चले जाते है जीवन में हर जन्म में हमने खलनायक का रोल किया है हमें लायक बनना है ना कि खलनायक बनना है हमने पांचों इन्द्रियों को मृत कर दिया है हमारी अन्तर आत्मा अन्तकरण तक जायेगी । ओम शांति जरूरी है क्योंकि कालसर्प मंडराता रहता है 

विश्वामित्र ने जिसकी परीक्षा ली थी उसने सपने वापस कर दिये थे आज दुनिया में सत्य चला गया है कितनी ही दौलत हो, सत्ता हो, हमें घमंड नहीं करना चाहिये हमें गौरव होना चाहिये अपने आप पर आज देश में क्या-क्या घटित हो रहा है हम महावीर स्वामी के वंश के है यह बात साध्वी गुणरंजना श्रीजी मसा ने कही वे शनिवार सुबह बघाना 
 

शक्तिनगर स्थित श्री शंखेश्वर पाश्र्व पदमावती धाम आराधना भवन में आयोजित चार्तुमास धर्मसभा में बोल रही थी । उन्होंने कहा कि प्रभु की कुपा से आपके हाथ भरे हुए है वह प्रभु पास के पास खाली हाथ लेकर जाना उचित नहीं है पाप शक्ति से अधिक तरे हो और धर्म शक्ति के अनुरूप भी करते हो जरा सोचो उस आत्मा का क्या होगा । दुश्मन को बढ़ाने का कार्य आदि सम्पति करती है अधिक आकर्षण किसमें है सम्पति बढ़ती रहे इसमे या सम्पति रिक्त रहे इसमें जो राग, द्वेष से रहित हो, धर्म के बारे में बराबर विचार करके दोषों को त्यागने वाला हो, वह मध्यस्थ भाव व्यक्ति कहलाता है । जो गुण का संग्रह करे और दोषों का विसर्जन करे वो भहस्थ है गुण ग्रहण करने के लिए तीन चीजें छोड़े पूर्वाग्रह किसी के प्रति दुगति छोडत्रेगे तो पूर्वा ग्रह टूटेगा । कदाग्रह किसी के प्रति विचार छोड़ेगे तो कदाग्रह टूटेगा । हटाग्रह वस्तु की आसक्ति छोड़ेगे तो हटाग्रह टूटेगा । नौ ग्रह की शांति के लिए उसकी आराधना करते हों पर पहले ये तीन ग्रह को तोड़ो। 

आप जिस को सुख मानकर बैठे हो वो सुख सही रहता तो भगवान वो छोड़ने की गलती नहीं करते । जिस को दोष के प्रति तिस्कार और दोषित के प्रति मैत्री है वो अस्याल जगत में जीत गये । दोष नाश के लिए मेहनत करने के बजाय दोष दृष्टि के नाश के लिए प्रयास करे । चार कारणों की उपस्थिति हमारी आत्मा को अध्यात्म के मार्ग पर आगे बढ़ा सकती है अपेक्षा करण मानव शरीर की अपेक्षा है, निमित्त कारण धर्म सामग्री का निमित्त भी चाहिए, उपादान कारण योग्यता भी चाहिए । असाधारण कारण सतपुणवार्थी भी चाहिए । पहले दो कारण कर्म सत्ता के अधीन है और अंतिम दो कारण स्वयं के अधीन है प्रवचन का निमित्त मिला हो उसका आपको आनंन्द है परन्तु प्रवचन छुट जाए उसका दुख हो तो प्रवचन का सच्चा आनंद है ।
 


SHARE ON:-

image not found image not found

© Copyright BABJI NEWS NETWORK 2017. Design and Developed By PIONEER TECHNOPLAYERS Pvt Ltd.