खबरे MANDSOUR UPDATE: जिलें में बाढ़ के बाद इस साल में सबसे अधिक मरीज पहुंचे जिला अस्पताल, पढें खबर WOW: जिलें में अब रिलायंस कंपनी व पटवारी मिलकर करेंगे फसलों की नुकसानी का सर्वे, पढें खबर BIG NEWS: ग्रीनबेल्ट की भूमि और तैलिया तालाब के हंगामें के बीच बीजेपी के बहुमत के आगे झुका सदन, पढें खबर NEWS: द्धारकाधीश मे 7 दिवसीय कथा का शुभारम्भ, धन की इच्छा से नही भागवत कथा सुनने से मिलता है धन, पं. अशोक भारद्धाज, पढें खबर NEWS: सरस्वती शिशु मंदिर चडोल में कक्षा प्रतिनिधियों के निर्वाचन संपन्न, पढें आजाद मंसूरी की खबर NEWS: परिवहन अधिकारी की अवैध वसूली से परेशान मोटर मालिकों व बस मालिकों की बैठक हुई संपन्न, लिया ये निर्णय, पढें उपेंद्र दुबे की खबर BIG REPORT: किशोरी को प्रेम जाल में फंसाया, फिर अश्लिल वीडियों बनाकर करनें लगा ब्‍लैकमेल, पुलिस ने किया प्रकरण दर्ज, जांच शुरू, पढें उपेंद्र दुबे की खबर BIG NEWS: महिला से दबंगई, बाल पकड़ कर घसीटा फिर डंडों से पीटा, वीडियो भी वायरल, पढें उपेंद्र दुबे की खबर NEWS: सरवानिया मे अध्यक्ष सहित कार्यकारणी का किया बहुमान, पढ़े दिनेश वीरवाल की खबर NEWS: किसनों ने मुख्‍यमंत्री के नाम जिला कलेक्‍टर को सौंपा ज्ञापन, पढें दिनेश वीरवाल की खबर NEWS: मध्‍य प्रदेश के पूर्व मुख्‍यमंत्री बाबूलाल गौर का निधन, पढें खबर COMMODITY MARKET: ये हैं आज के चर्चित शेयर, इन पर बनी रहे नजर BUSINESS: यहा क्लिक करेगें तो जानेगें नीमच सर्राफा भाव

TODAY HISTORY: 15 अगस्‍त का इतिहास, जानें इस दिन की अहम घटनाओं को

Image not avalible

TODAY HISTORY: 15 अगस्‍त का इतिहास, जानें इस दिन की अहम घटनाओं को

डेस्‍क :-

15 अगस्त का दिन पूरे भारत में स्वतंत्रता दिवस (independence day) के रूप में मनाया जाता है। सन् 1947 में इसी दिन भारत को ब्रिटिश शासन से आजादी मिली थी। हिन्दु्स्ता को आजादी दिलाने में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की अहम भूमिका रही थी। लेकिन आपको इस बात की जानकारी नहीं होगी कि जब भारत को आजादी मिली थी तो महात्मा गांधी इस जश्न में नहीं थे। तब वे दिल्ली से हजारों किलोमीटर दूर बंगाल के नोआखली में थे, जहां वे हिंदुओं और मुस्लिमों के बीच हो रही सांप्रदायिक हिंसा को रोकने के लिए अनशन कर रहे थे। आजादी की सालगिरह के मौके पर यहां जानें इस दिन से जुड़े कुछ ऐसी ही दिलचस्प तथ्य - 

1.  15 अगस्त 1947, को जब भारत को आजादी मिली थी तब राष्ट्रपिता महात्मा गांधी इस जश्न में शामिल नहीं हो सके थे, क्योंकि तब वे दिल्ली से हजारों किलोमीटर दूर बंगाल के नोआखली में थे, जहां वे हिंदुओं और मुस्लिमों के बीच हो रही सांप्रदायिक हिंसा को रोकने के लिए अनशन कर रहे थे। 

2. 14 अगस्त की मध्यरात्रि को जवाहर लाल नेहरू ने अपना ऐतिहासिक भाषण 'ट्रिस्ट विद डेस्टनी' दिया था। इस भाषण को पूरी दुनिया ने सुना था लेकिन महात्मा गांधी ने इसे नहीं सुना क्योंकि उस दिन वे जल्दी सोने चले गए थे।

3. हर साल स्वतंत्रता दिवस पर भारत के प्रधानमंत्री लाल किले से झंडा फहराते हैं, लेकिन 15 अगस्त, 1947 को ऐसा नहीं हुआ था। लोकसभा सचिवालय के एक शोध पत्र के मुताबिक नेहरू ने 16 अगस्त, 1947 को लाल किले से झंडा फहराया था।

4. 15 अगस्त तक भारत और पाकिस्तान के बीच सीमा रेखा का निर्धारण नहीं हुआ था। इसका फैसला 17 अगस्त को रेडक्लिफ लाइन की घोषणा से हुआ जोकि भारत और पाकिस्तान की सीमाअओं को निर्धारित करती थी।

5. भारत 15 अगस्त को आजाद जरूर हो गया लेकिन उस समय उसका अपना कोई राष्ट्र गान नहीं था। हालांकि रवींद्रनाथ टैगोर 'जन-गण-मन' 1911 में ही लिख चुके थे, लेकिन यह राष्ट्रगान 1950 में ही बन पाया।

6. 15 अगस्त की तारीख हो ही दक्षिण कोरिया, बहरीन और कांगो देश का भी स्वतंत्रता दिवस होता है। हांलाकि ये देश अलग-अलग वर्ष क्रमश: 1945, 1971 और 1960 को आजाद हुए थे।

7. यह लार्ड माउंटबेटन ही थे जिन्‍होंने निजी तौर पर भारत की स्‍वतंत्रता के लिए 15 अगस्‍त का दिन तय किया क्‍योंकि इस दिन को वह अपने कार्यकाल के लिए बेहद सौभाग्‍यशाली मानते थे। 

8. 15 अगस्त को भारत के अलावा तीन अन्य देशों का भी स्वतंत्रता दिवस होता है। दक्षिण कोरिया जापान से 15 अगस्त, 1945 को आज़ाद हुआ। ब्रिटेन से बहरीन 15 अगस्त, 1971 को और फ्रांस से कांगो 15 अगस्त, 1960 को आजाद हुआ था।

9. 15 अगस्त, 1947 को लॉर्ड माउंटबेटन ने अपने दफ़्तर में काम किया। दोपहर में नेहरू ने उन्हें अपने मंत्रिमंडल की सूची सौंपी और बाद में इंडिया गेट के पास प्रिसेंज गार्डेन में एक सभा को संबोधित किया।

10. 15 अगस्त 1947 को, 1 रुपया 1 डॉलर के बराबर था और सोने का भाव 88 रुपए 62 पैसे प्रति 10 ग्राम था।


SHARE ON:-

image not found image not found

© Copyright BABJI NEWS NETWORK 2017. Design and Developed By PIONEER TECHNOPLAYERS Pvt Ltd.