खबरे BIG REPORT: पंचायत चुनाव की बजी रणभेरी, ग्रामीण देखेंगे सरपंचों का रिपोर्ट कार्ड, मुद्दों पर होगी राजनीति या पार्टी को मिलेगा वोट, बता रहें है डेस्‍क इंचार्ज अभिषेक शर्मा WOW: MP में गायों की तस्करी रोकने के लिए ऑनलाइन एप बनेगा, कोई भी व्यक्ति कर सकेगा शिकायत, पढें खबर BIG NEWS: जिला कलेक्‍टर गंगवार ने प्रचार रथ को दिखाई हरि झंडी, रथ ग्रामीण ईलाकों में करेगा गांधी दर्शन का प्रचार-प्रसार, पढें बद्रीलाल गुर्जर की खबर NEWS: सरस्‍वती शिशु मंदिर में वार्षिकोत्‍सव कार्यक्रम सम्‍पन्‍न, विधार्थियों ने दी सांस्‍कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्‍तुतियां, पढें मेहबूब मेव की खबर NEWS: नगर में निःशुल्‍क आयुर्वेदिक शिविर का आयोजन, तहसीलदार ने किया अवलोकन, पढें कैलाश शर्मा की खबर BIG NEWS: सांवलियाजी दर्शन कर लौट रहा बाइक सवार युवक हुआ दुर्घटना का शिकार, हुई मौत, एक की हालत भी गंभीर, पढें कैलाश शर्मा की खबर WOW: समाज सेवी नागोरी की पहल, नगर के शासकीय प्राथमिक विधालय में लगवाया कार्पेट, विधार्थियों ने कही यें बात, पढें मेहबूब मेव की खबर VIDEO NEWS: देवास में बोहरा समाज ने महिलाओं को आत्मनिर्भर सशक्तिकरण व घरेलु काम के अलावा अपने हुनर से समाज के उत्थान को लेकर प्रेरित किया, देखे राजेश पंवार की विडियो न्‍युज VIDEO NEWS: सिंगरोली एमपी में छोटे-छोटे बच्चे विद्यालय में पढ़ाई के बजाये विद्यालय में बर्तन साफ करते नजर आ रहे हैं देखे उपेंद्र दुबे की विडियो न्‍युज BIG NEWS: पुलिस कप्‍तान दीपक भार्गव के थाना प्रभारियों से दो टूक बोल, तोड़बट्टा किसी हाल में नहीं होगा बर्दाश्त, पढें खबर BIG BREAKING: पिता ने बेटियों को नहर में दिया धक्का, स्वयं भी कूदा, एक बालिका की मौत, दूसरी की तलाश जारी, पुलिस और प्रशासनिक अमला मौके पर, पढें खबर BIG NEWS: इंदौर क्राइम ब्रांच की बडीं कार्रवाही, पैटर्न लॉक तोडनें और आईएमईआई नंबर बदल चोरी के मोबाइल का सौदा करने वालें गिरोह का पर्दाफाश, 124 मोबाइल और 2 लेपटॉप जब्‍त, आरोपी भी गिरफ्तार, पढें खबर WOW: MP पुलिस में भर्ती होंगे 8000 कॉन्स्टेबल, इस महीने में शुरू होगी प्रक्रिया, पढें खबर TOP NEWS: दिग्विजय सिंह ने PM नरेन्द्र मोदी को लिखी चिट्ठी, पूछा राम मंदिर ट्रस्ट में अपराधियों का क्या काम, पढें खबर

GADGETS: स्मार्टफोन यूजर्स को Paytm की चेतावनी, अकाउंट से पैसे चुरा सकते हैं ये ऐप

Image not avalible

GADGETS: स्मार्टफोन यूजर्स को Paytm की चेतावनी, अकाउंट से पैसे चुरा सकते हैं ये ऐप

डेस्‍क :-

स्मार्टफोन यूजर्स के लिए Paytm ने चेतावनी जारी करते हुए यूजर्स से अकाउंट की KYC कराते वक्त सतर्क रहने को कहा है। पेटीएम ने एक नोटिफिकेशन जारी कर यूजर्स को केवाइसी के लिए ऐनीडेस्क या क्विकसपॉर्ट जैसे ऐप ना डाउनलोड करने की सलाह दी है। नोटिफिकेशन में कहा गया है कि इन ऐप्स के जरिए जालसाज यूजर के अकाउंट से पैसों की चोरी कर सकते हैं।

बैंक भी दे चुके हैं चेतावनी
हाल के दिनों में रिमोट ऐप जैसे ऐनीडेस्क और टीमव्यूअर से की जाने वाली धोखाधड़ी के काफी मामले सामने आए हैं। साल कि शुरुआत में रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने भी वॉर्निंग जारी कर लोगों को इन ऐप्स के सावधान रहने को कहा था। इतना ही नहीं मामले की गंभीरता को देखते हुए देश के कुछ बैंक जैसे एचडीएफसी, आईसीआईसीआई और ऐक्सिस ने भी ग्राहकों को इन ऐप्स को डाउनलोड ना करने की सलाह दी थी।

आईटी प्रफेशनल्स के लिए जरूरी ऐप
ये रिमोट ऐप्स ना तो मलीशस हैं और ना हीं ये यूजर की डीटेल को लीक करते हैं। आईटी सेक्टर के लिए ये दोनों ऐप काफी काम के हैं। इनके जरिए टेक प्रफेशनल काम के लिए कही भी बैठकर इंटरनेट के जरिए दूसरी लोकेशन पर मौजूद डिवाइस को ऑपरेट कर सकते हैं। रिमोट ऐप्स को आसान भाषा में स्क्रीन शेयरिंग ऐप भी कहा जा सकता है।

जालसाज करते हैं गलत इस्तेमाल
जालसाज अपने शिकार को एक फर्जी बैंक एग्जिक्यूटिव बनकर फोन करते हैं। फोन पर बातचीत के दौरान यह ग्राहक को बैंक अकाउंट से जुड़ी किसी दिक्कत के बारे में बताते हैं। इतना ही नहीं वे कहते हैं कि उनके द्वारा बताए गए स्टेप्स को फॉलो ना करने पर नेट बैंकिंग की सुविधा ब्लॉक हो सकती है। ब्लॉक होने की बात सुनते ही ज्यादातर ग्राहक इन जालसाजों के चंगुल में फंस जाते हैं।

ऐप इंस्टॉल करने के लिए करते हैं मजबूर
ग्राहक को अपने झांसे में लेने के बाद ये ठग रिमोट ऐप (ऐनी डेस्क या टीमव्यूअर) इंस्टॉल करने को कहते हैं। ऐप के इंस्टॉल होने के बाद वे अपने शिकार से वेरिफिकेशन के लिए आए 9 अंक वाले कोड की मांग करते हैं। यही वह कोड है जिसके सहारे ये जालसाज अपने शिकार के डिवाइस का फुल ऐक्सेस पा जाते हैं। इसके बात वे डिवाइस की स्क्रीन को लगातार मॉनिटर करते हैं।

चुरा लेते हैं बैंकिंग डीटेल
ये जालसाज स्क्रीन की हर ऐक्टिविटी हो अपने पास रिकॉर्ड कर के रख लेते हैं। ऐप के डाउनलोड करने के बाद जब भी ग्राहक मोबाइल बैंकिंग, पेटीएम या UPI से पेमेंट करते हैं तो उनके लॉगइन डीटेल को ये जालसाज बड़ी आसानी के चुरा लेते हैं।


SHARE ON:-

image not found image not found

© Copyright BABJI NEWS NETWORK 2017. Design and Developed By PIONEER TECHNOPLAYERS Pvt Ltd.