खबरे APRADH: नारकोटिक्स विंग मंदसौर द्वारा 01 किलोग्राम अफीम सहित एक आरोपी गिरफ्तार, पढें खबर NEWS: हिरालाल राव, मुकेश वैष्णव की भजन संध्या में आस्था का जनसैलाब उमडा, पढें आशीष बैरागी की खबर NEWS: मुख्‍यमंत्री स्‍वरोजगार योजना का लाभ उठकार आत्‍म निर्भर हुआ मनोहर (खुशियों की दास्‍तां), पढें खबर BIG NEWS: निकायों में चुनाव के निकाली गई आरक्षण लॉटरी, पढ़ें- कौनसा वार्ड किसके लिए आरक्षित? NEWS: कैबिनेट ने लिए दो बड़े फैसले! 11 लाख से ज्यादा लोगों पर होगा असर, पढें खबर NEWS: मनासा,रामपुरा की राशन दुकानों को आपदा पीड़‍ितों के लिए तीन सौ क्विंटल गेहूं आवंटित, पढें खबर WOW: नीमच मे खुशियों की दास्‍तां, आय का प्रमाण पत्र पाकर खुश हुआ विष्‍णुदेव, पढें खबर NEWS: नीमच जिले में अब तक 1605.3 मि.मी. औसत वर्षा दर्ज, पढें खबर NEWS: किसानों की चेतावनी एक महीने के अंदर दे हमें हमारी जमीन की राशि नही तो परिवार सहित कर देंगे आत्महत्या, पढें खबर VIDEO: चंबल के तांडव पर सुनिए आंखो देखा सच, किस तरह देवरान के गांव डुब गये कुछ घंटो में, बता रहे श्‍याम गुर्जर के साथ ग्रामीण, देखे विडियों न्‍यूज EXCLUSIVE VIDEO: नीमच/मंदसौर में कैसे आया सैलाब, चम्बल की तबाही का हुआ राज़ फाश, देखिए ये स्पेशल रिपोर्ट NEWS: शिवना नदी में बहे सागर नाम के युवक की लाश मिली, 24 घंटे से चल रहा था रेस्‍क्‍यू ऑपरेशन, पढें खबर WOW: अन्तर्राष्ट्रीय हिन्दू सेना जिला उपाध्यक्ष मोहित अहीर का जन्मदिवस आज मूक बधिर बच्चों के साथ मनाया गया, पढें खबर NEWS: पुरानी तस्‍वीर के साथ जाने गांधी सागर बांध की पूरी कहानी, जिससे मध्यप्रदेश में आई है 'तबाही', जानें कब और क्यों बना, पढें खबर

RELASHANSHIP: Dating न करने वाले टीनएजर्स में Depression का खतरा कम

Image not avalible

RELASHANSHIP: Dating न करने वाले टीनएजर्स में Depression का खतरा कम

डेस्‍क :-

इन दिनों डेटिंग ऐप्स की बढ़ती तादाद और कम उम्र में ही बच्चों के हाथ में स्मार्टफोन, सोशल मीडिया एक्सपोजर और इंटरनेट की वजह से टीनएजर्स भी डेटिंग करना शुरू कर देते हैं। लेकिन ऐसा करना इनके लिए अच्छा नहीं होता। एक रिसर्च में शोधकर्ताओं ने पाया कि वैसे टीनएजर्स जो कभी किसी रोमांटिक रिश्ते में नहीं रहे, उनमें डेटिंग करने वालों की तुलना में सामाजिक कौशल बेहतर होता है और डिप्रेशन भी कम होता है।

नॉन-डेटिंग बेहतर स्वास्थ्य के विकास का विकल्प
यानी कुल मिलाकर देखें तो डेटिंग करने वाले टीनएजर्स में डिप्रेशन का खतरा अधिक होता है। शोध में पाए गए नतीजे इस बात का खंडन करते हैं कि नॉन-डेटर्स या जो डेट नहीं करते हैं, वे परेशान रहते हैं। शोधकर्ताओं ने कहा कि जिन स्कूलों में स्वास्थ्य को बढ़ावा दिया जाता है वहां नॉन-डेटिंग को बेहतर स्वास्थ्य

दोनों ही स्वीकार्य और हेल्दी ऑप्शन्स
जॉर्जिया विश्वविद्यालय में हुई इस स्टडी के लीड ऑथर बु्रक डॉग्लस ने कहा, ‘अंत में स्कूल में स्वास्थ्य के बारे में बताने वाले शिक्षकों, मानसिक स्वास्थ्य के पेशेवरों और टीचर्स को उन सामाजिक मानदंडों की पुष्टि करनी चाहिए जो किशोर-किशोरियों के व्यक्तिगत स्वतंत्रता का समर्थन करें ताकि वह यह निश्चित कर सकें कि डेट किया जाना चाहिए या नहीं, क्योंकि दोनों ही स्वीकार्य और हेल्दी ऑप्शंस हैं।’

प्रश्नावली के जरिए की गई तुलना
इस अध्ययन को स्कूल हेल्थ पत्रिका में प्रकाशित किया गया जिसमें कक्षा 10 के 594 विद्यार्थियों को शामिल किया गया था। शोधकर्ताओं ने इन्हें चार श्रेणियों में बांट दिया था और टीचर रेटिंग्स व उन्हें दी गई प्रश्नावली का उपयोग कर उनकी तुलना की गई।


SHARE ON:-

image not found image not found

© Copyright BABJI NEWS NETWORK 2017. Design and Developed By PIONEER TECHNOPLAYERS Pvt Ltd.