खबरे OMG ! झालावाड़ की छात्रा बड़ौद में गुमशुदा, ढूंढने निकले पिता का शव ट्रैक पर मिला, परिजनों ने लगाया इस व्‍यक्ति पर शक, जानकर हैरान रह जाएंगे आप, पढें खबर OMG ! रेप पीड़िता ने की खुदकुशी, सरकारी स्कूल में जली हुई मिली लाश, ऐसी पूरे दिन की 8 बड़ी खबरें पढ़ें यहां NEWS: भाई भरत जैसा, मित्र हो तो सुदामा जैसा, भागवत कथा के दौरान हुआ ठाकुरजी का विवाह, पढें खबर WOW: निजी दुकानों से यूरिया खरीद पर नहीं दिया जाते बिल उर्वरक विक्रेताओं को विभाग की कड़ी हिदायत, पढें खबर NEWS: मानवाधिकार संरक्षण संस्‍थान की और से कार्यक्रम का आयोजन, की चर्चा, पढें खबर BIG NEWS: जिले में कई मार्गों पर रोडवेज बसें बंद, यात्र‍ियों को हो रही परेशानी, क्‍या है कारण, पढें और जाने POLITICS: राजस्थान भाजपा में अब जिलाध्यक्ष बनने की होड़, जयपुर से जल्द होगी नए नामों की घोषणा, नाम बढ़ाने को लेकर नेता साध रहे सम्पर्क, पढें खबर BIG NEWS: उम्र के सवाल पर नवनिर्वाचित भाजपा जिलाध्यक्ष ने ऐसे दिया जवाब, पढें खबर WOW: अब हर मुश्किल का एक ही इमरजेंसी नंबर, डायल करना होगा '112', पढें खबर OMG ! ऐसे पुलिस के हत्थे चढ़ा गैंगस्टर 'रावण', जिसकी गर्लफ्रेंड थी 'मंदोदरी', पढें खबर VIDEO NEWS: खाद्य विभाग अधिकारी पहुंचे डोमीनोज, खाद्य सामग्रियों के लिए सेंपल, जांच के लिए पहुंचाए भोपाल, देखें दीपक खताबिया की विडियों न्‍यूज VIDEO: प्‍याज के दाम में तेजी, किसानों के चेहरे खिले, आगे भी ऐसे ही भाव मिलने की उम्‍मीद, देखे विडियों न्‍यूज BIG NEWS: इसी माह से रेलवे के कार्मिक विभाग को इंजीनियरिंग विभाग में करेंगे मर्ज, पढें खबर NEWS: नगर पालिका का चलित चिकित्‍सालय मंगलवार को ग्‍वालटोली में आयोजित, रहवासियों ने कराया उपचार, पढें खबर

OMG ! मध्‍यप्रदेश के इस शहर में क्‍यों हो रहीं है इतनी बारिश, आखिरकार क्‍या है कारण, पढें और जानें

Image not avalible

OMG ! मध्‍यप्रदेश के इस शहर में क्‍यों हो रहीं है इतनी बारिश, आखिरकार क्‍या है कारण, पढें और जानें

डेस्‍क :-

भोपाल. भोपाल(bhopal) के लोग बेहाल हैं. ऐसी बारिश (rain)की कामना और उम्मीद किसी ने हरगिज़ नहीं की थी. मॉनसून (monsoon)आने में देर हुई तो सबने बारिश के लिए दुआ शुरू कर दी, लेकिन बारिश ने तो देर आए दुरुस्त आए की तर्ज़ पर ऐसी एंट्री मारी कि अब वापस ही नहीं जा रही. मौसम विभाग ने फिर 35 ज़िलों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की है. भोपाल के लिए ऑरेंज अलर्ट(orange alert) जारी हुआ है

सितंबर में मॉनसून की विदाई का इंतज़ार कर रहे भोपाल के लोग अब उठे ठेलने में लगे हैं. सब कह रहे हैं कि अब बस भी करो इंद्रदेव.बहुत हुआ. अगस्त में शुरू हुई बारिश सितंबर में तो क़हर ढा रही है. राजधानी में बाढ़ के हालात हैं. शहर की लाइफ लाइन बड़ा तालाब और कोलार डैम ने अपने गेट ऐसे खोले कि बंद होने का नाम ही नहीं ले रहे

पूरा भोपाल तरबतर है. रोज घने बादल छा जाते हैं और अचानक ऐसी मूसलाधार बारिश होती है मानो नॉर्थ-ईस्ट का कोई शहर हो. मंगलवार को भी डेढ़ घंटे में 33 मिमी पानी बरस गया. भोपाल के बुज़ुर्ग बताते हैं कि ऐसी बारिश उन्होंने पहले कभी नहीं देखी. सिंतबर में रिकॉर्ड तोड़ बारिश हो चुकी है

भोपाल में भारी बारिश की वजह-

मौसम विज्ञानी बता रहे हैं कि वो क्या वजह है जिसके कारण इस बार भोपाल में इतनी बारिश हो रही है. उनका कहना है मध्य प्रदेश के ऊपर से शियर ज़ोन गुजर रहा है. वैसे ये हमेशा दक्षिण भारत में रहता है. लेकिन इस बार भोपाल और उसके आसपास से गुजर रहा है. इसलिए ये भोपाल और पड़ोसी जि़लों होशंगाबाद, बैतूल, रायसेन, विदिशा सहित अन्य जिलों में भारी बारिश कर रहा है

क्या है शियर ज़ोन-

शियर जोन वो क्षेत्र होता है जहां पूर्व-पश्चिमी मॉनसूनी हवाएं मिलती हैं.हवाएं आपस में टकराती हैं और बारिश करती हैं. इसी सिस्टम के कारण पूरे प्रदेश में 23सितंबर तक लगातार बारिश होती रहेगी. शियर जोन समुद्र तल से 1.5 से 5.8 किमी ऊपर होता है. लेकिन इस बार ये1.5 किमी नीचे है. शियर ज़ोन रतलाम, उज्जैन, भोपाल, इंदौर, देवास, सागर,दमोह के ऊपर से गुजर रहा है और पानी बरसाता जा रहा है

बाढ़ के हालात-

लगातार मूसलाधार बारिश के कारण भोपाल में बाढ़ के हालात हैं.सड़कों से लेकर निचली बस्तियों तक में पानी भरा हुआ है. घरों में पानी भर गया है. ऐसा मंजर है मानो बाढ़ आ गई है.घरों में दो से तीन फीट पानी भरने से सामान खराब हो गया है

पानी में बही सड़क-

भोपाल के कई इलाके जलमग्न हो गए हैं.कोलार ब्रिज के पास सर्वधर्म बी सेक्टर दामखेड़ा की निचली बस्तियों में पानी ही पानी नजर आ रहा है..कलियासोत नदी के पास ही स्थित झुग्गियां बस्तियां पानी की चपेट में हैं.नदी से सटे घरों में दो से तीन फीट पानी भर गया है..कुछ घर पानी में आधे डूब चुके हैं. किसी का छज्जा बह गया है और किसी की दीवार ढह रही है. समरधा,कोलार रोड,चूनाभट्टी रोड,लिंक रोड,पर पानी भर गया है.सेकंड नंबर स्टॉप पर दो फीट पानी भरने के कारण सड़क अब नदी में तब्दील हो गयी है. कोलार से 10 किलोमीटर दूर गोल गांव में बारिश अपने साथ सड़क बहा ले गयी है

रिकॉर्ड  टूटा-

इस बार भोपाल में जैसी बारिश हुई वैसी 72 साल में कभी नहीं हुई. खुद मौसम विज्ञानी कह रहे हैं कि 4 दशक में  भोपाल में इतनी बारिश होते नहीं देखी. ख़ासतौर से सितंबर में तो कभी इतनी बारिश नहीं हुई. अगर दस साल के आंकड़े देखें तो 2009 में 126.9 मिमी बारिश हुई थी. लेकिन इस साल ये अब तक 271.1 मिमी हो चुकी है

राजधानी के सारे डेम लबालब- 

भोपाल में भदभदा,कोलार,कलियासोत और केरवा के साथ ही बड़ा तालाब लबालब है.भदभदा डेम के गेट करीब 15 बार खोले जा चुके हैं. केरवा और कलियासोत डैम के गेट भी खोले गए.कोलार डेम के गेट 1984के बाद चौथी बार खोले गए


SHARE ON:-

image not found image not found

© Copyright BABJI NEWS NETWORK 2017. Design and Developed By PIONEER TECHNOPLAYERS Pvt Ltd.