खबरे NEWS: वरिष्ठ पत्रकार श्रवण गर्ग का भव्य स्वागत किया, पढें खबर MAGNIFICENT MP: 900 उद्योगपति करेंगे शिरकत, जुडेंगे मुकेश अंबानी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से, पढें खबर OMG ! एक हम्‍माल ने दूसरें हम्‍माल से मांगा मांगी तंबाकु, नहीं दी तो मारा चाकू, गंभीर घायल, पुलिस ने किया नामजद प्रकरण दर्ज, जांच शुरू, पढें खबर OMG ! एक की सांप ने डसनें से तो एक की जलनें से हुई मौत, पुलिस ने किया मर्ग कायम, जांच शुरू, पढें खबर BIG NEWS: पहलें हुआ मामूली विवाद, फिर हुई हाथापाई, और फिर लगा डाली बाइक में आग, पुलिस ने किया प्रकरण दर्ज, जांच शुरू, पढें खबर NEWS: लाट्री द्वारा आतिशबाजी की दुकानों का आवंटन शुक्रवार को, पढें खबर NEWS: नगर पालिका का चलित चिकित्‍सालय लगातार जारी, गुरूवार को मुलचंद मार्ग पर हुआ आयोजित, मरीजों ने कराया उपचार, पढें खबर WOW: भारतीय ओलंपिक संघ के सदस्‍य पहुंचे मध्‍यप्रदेश के इस शहर में, अब हनुमान ताल में शुरू होंगे वॉटर स्पोर्ट्स, पढें खबर BIG NEWS: बंगाली डॉक्टर की हत्या के आरोपी डॉक्टर पर पुलिस ने किया 10 हजार का इनाम घोषित, पढें खबर NEWS: रबी सीजन में गेहूं फसल पर कृषि विभाग का दांव, पढें खबर WOW: धर्म गुरू के संदेश के बाद बोहरा समाजजनों की पहल, जरूरतमंदों को कराया भोजन, पढें खबर OMG ! अज्ञात बदमाशों ने चलती बस के कांच फोडे, पुलिस ने किया प्रकरण दर्ज, पढें बद्रीलाल गुर्जर की खबर BIG NEWS: पुलिस ने दबिश देकर जुआ खेलतें 6 आरोपियों को किया गिरफ्तार, नगदी भी जब्‍त, पढें बद्रीलाल गुर्जर की खबर JAIL: मिलावटी रंग वाला अवमानक धनिया बेचने वाले आरोपी की जमानत खारीज, भेजा जेल, पढें खबर BIG NEWS: घर में घुसकर साली के साथ मारपीट करने वाले जीजा को 9 माह का कठोर कारावास, जुर्माना भी, पढें खबर

OMG: हसीन हसीनाओं के हुस्न पर ढेर हो गए नेता और अफसर, वीडियो सामने आने पर खुली सबकी नींद

Image not avalible

OMG: हसीन हसीनाओं के हुस्न पर ढेर हो गए नेता और अफसर, वीडियो सामने आने पर खुली सबकी नींद

डेस्‍क :-

भोपाल/ मध्यप्रदेश में हसीन हसीनाओं के दीवाने नेता से लेकर अफसर तक थे। इनकी हुस्न की जाल में फंस जिस्म पर ढेर हुए नेता-अफसर इन सुंदरियों के गुलाम हो जाते थे। फिर ये अपने उंगलियों पर उन्हें नचाती थी और जो तैयार नहीं होते उनका वीडियो बाजार में आ जाता। मध्यप्रदेश की एटीएस ने एक ऐसे हनीट्रैप गिरोह का खुलासा किया है, जो खूबसूरत हसीनाओं का गैंग है।

मध्यप्रदेश एटीएस ने इस गैंग की छह सदस्यों को गिरफ्तार किया है। जिनके शानो-शौकत को देख अच्छे-अच्छे लोग चक्करा जाएं। वीडियो के जरिए ये महिलाएं नेता से लेकर अफसर तक को ब्लैकमेल कर करोड़ों रुपये की वसूली करती थीं। उन पैसों का इस्तेमाल रईशी दिखाने के लिए करतीं। इनके दरवाजे की शोभा मर्सिडिज और ऑडी जैसी गाड़ियां बढ़ाती हैं। सत्ता के गलियारे से लेकर ब्यूरोक्रेसी तक में इनकी हनक थी।

मंत्रालय में था सीधे एंट्री
गिरोह की मुखिया की हनक ऐसी थी कि मंत्रालय तक में सीधी एंट्री थी। अफसरों की महफिल तक की ये महिलाएं शोभा बढ़ाती थीं। और एक बार जो इनकी हुस्न की जाल में फंस जाता, उससे पैसा तो वसूलती ही थी और न जाने उन अफसरों से कई उल्टे-सीधे काम निकलवाती थीं। इनकी हिमाकत भी ऐसी-वैसी नहीं थी, पिछले दिनों जब इनकी मांग को एक वरिष्ठ आईएएस अफसर ने पूरा नहीं किया तो उसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया।

इन छह महिलाओं को पुलिस ने किया है गिरफ्तार
इस गैंग की सरगना आरती दयाल है। वह सागर की रहने वाली है और खुद को सरकारी ठेकेदार बताती है। दूसरी मोनिका है, जो लोग को फंसाती है और पैसे वसूलती है। श्वेता जैन, यह एनजीओ संचालिका है और इसी हैसियत से अफसरों से मिलती थी। एक और श्वेता है जो भोपाल के रेवेरा टाउनशिप में रहती है। वह आरती की दोस्त है। इसके साथ ही बरखा सोनी है, उसका पति कांग्रेस के आईटी सेल में था। जिसे पार्टी ने कुछ दिन पहले ही निकाल दिया है।

12 जिलों में है नेटवर्क
हनीट्रैप गिरोह की मुख्य किरदार श्वेता स्वप्निल जैन है। उसका जाल 12 जिलों में है। उससे अठारह महिलाएं जुड़ी हैं। भोपाल-इंदौर में कलेक्टर रह चुके आईएएस ने इऩ्हें काफी बढ़ाया। इन्हीं के जरिए अफसरों से पहचान हुई। पति स्वप्निल का पूरा सहयोग था। श्वेता विजय जैन नेताओं के ज्यादा करीब थी। उसे एक पूर्व सीएम ने मिनाल में घर दिलाने में सहयोग किया था। दोनों ही एक साथ शिकार तलाश करती थीं। इन्होंने आरती, बरखा और मोनिका को भी जोड़ लिया।

ऐसे काम करता था गिरोह
हनीट्रैप गिरोह एक सोची-समझी साजिश के तहत अफसरों और नेताओं का शिकार करती थी। पहले मुख्य सरगना महिला रसूखदार और बड़े ओहदे वाले अफसरों से संपर्क साधती। खुद को सरकारी ठेकेदार बताक काम के बहाने दोस्ती करती। फिर फोन और वॉट्सऐप के जरिए बात बढ़ाते और निजी अंतरंग बातें की जाती। जैसे ही अफसर या जाल में फंसा व्यक्ति भी बात करने में रुचि दिखाता तो उसे मिलने के लिए दबाव बनाया जाता। छोटी मुलाकात के दौरान भी अंतरंग बातें कर उसे अपने जाल में फंसाया जाता। होटल में मिलने के दौरान उसके साथ अंतरंग पल बिताते। इसी दौरान कहीं स्पॉय कैमरे से तो कहीं खुद ही मोबाइल लेकर वीडियो बना लिया जाता। फिर कुछ दिन तक मिलने और वीडियो बनाने का सिलसिला जारी रहता। इन वीडियो को दिखाकर ब्लैकमेलिंग शुरू की जाती। जैसे अफसर या प्रभावी व्यक्ति होता, उस हिसाब से रुपये की डिमांड की जाती।
वीडियो आने पर खुलती नींद
हनीट्रैप में फंसे नेता हो या अफसर किसी को इस बात की भनक तक नहीं होती थी कि उनका वीडियो बनाया जा रहा है। जब ये महिलाएं उनके वॉट्सऐप पर वीडियो भेजतीं तब जाकर उनकी नींद खुलती। बदनामी की डर से नेता और अफसर इन महिलाओं की मांगें मानते। लेकिन इंदौर के इंजीनियर ने हिम्मत कर इस गैंग के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई तो जाकर मामले का खुलासा हुआ।


SHARE ON:-

image not found image not found

© Copyright BABJI NEWS NETWORK 2017. Design and Developed By PIONEER TECHNOPLAYERS Pvt Ltd.