खबरे WOW: मध्‍यप्रदेश के इस शहर के स्मार्ट मीटर प्रोजेक्‍ट की दुनिया हुई दीवानी, खासियत जानने जर्मनी का दल पहुंचा, पढें खबर OMG ! कांग्रेस के लिए 'मुसीबत' बने दिग्‍विजय के MLA भाई, CM कमलनाथ को लेकर कही ये बात, पढें खबर NEWS: निर्वाचक नामावली का संशोधित विशेष संक्षिप्त परीक्षा कार्यक्रम जारी, पढें खबर NEWS: जनपद पंचायत जावद की आवश्‍यक बैठक 14 नवंबर को, पढें खबर BIG NEWS: मध्‍य भारत अध्‍यक्ष देवेंद्र प्रतापसिंह तोमर का नीमच प्रवास बुधवार को, हॉकी खिलाडियों से करेंगे मुलाकात, पढें खबर OMG ! स्कूल के रास्ते से बच्ची को कंबल में छिपा कर ले जा रहा था बदमाश, लोगों ने पकड़ा तो हुआ चौंकाने वाला खुलासा, पुसिल को सौंपा, पढें दिलीप सौराष्‍ट्रीय की खबर WOW: जब कप्तान विराट कोहली की सहजता ने जीत लिया इंदौर के बच्चों का दिल, पढें खबर OMG ! कोचिंग सेंटर संचालक ने छात्रों के साथ की धोखाधडी, रूपए लेकर हुआ फरार, छात्र पहुंचे एसपी के पास, की शिकायत, पढें खबर BIG NEWS: सभापति 23 करोड़ के पार, सुमित के पास संपति के नाम पर सिर्फ पांच हजार, पढें खबर BIG NEWS: साध्वी श्री ऋतुम्भरा जी के नीमच आगमन का कार्यक्रम एवं दौरा स्‍थगित, पढें खबर OMG ! अगर आपकों भी कोई अनजान शख्‍स थमा रहा है 200 का नोट, तो हो जाए सावधान, नहीं तो हो सकता है बडा नुकसान, पढें ये खबर BIG NEWS: प्रशासन सख्त रद्द होगी मान्यता, स्कूल संचालक पर एफआईआर के आदेश, पढें खबर WOW: शिक्षक राजा भैया जो अपनी छात्राओं की रोज करता है पूजा, आखिरकार क्‍यों, पढें खबर और जाने BIG REPORT: बाइक सवार ने आरक्षक को रौंदा, जिस थाने में थे तैनात वहीं मिली अंतिम सलामी, पढें खबर

NEWS: ग्राम भारती का तहसील स्तरीय दीपावली मिलन समारोह सम्पन्न, स.शि.मं के आचार्य परिवार संस्कारवान पीढ़ी के निर्माणकर्ता, राठौर, पढें खबर

Image not avalible

NEWS: ग्राम भारती का तहसील स्तरीय दीपावली मिलन समारोह सम्पन्न, स.शि.मं के आचार्य परिवार संस्कारवान पीढ़ी के निर्माणकर्ता, राठौर, पढें खबर

नीमच :-

नीमच, सरस्वती शिशु मंदिर योजना सिर्फ भैया, बहिनों का सर्वागींण विकास ही नही करती है वरन आचार्य परिवार, संयोजक मण्डल एवं समस्त ग्राम विकास के लिये कार्य कर रही है। भैया,बहिनों को सर्वागींण विकास के लिये शारीरिक, मानसिक, आध्यात्मिक एवं सांस्कृतिक शिक्षा देने का काम सरस्वती शिशु मंदिर में किया जाता है। शिशु मन्दिर का आचार्य परिवार सम्पूर्ण ग्राम के विकास का चिंतन करता है ग्राम के सभी ग्रामीणजन के सभी दुख दर्द में हमेशा सहयोग के लिये तत्पर रहता है। 

न्यूनतम मानदेय में उच्चतम शिक्षा देने का मुख्य ध्येय लेकर आचार्य परिवार कार्य करता है। विकट से विकट परिस्थितियों में आचार्य परिवार संस्कारवान पीढ़ी के निर्माण के लिये कृतसंकल्पित है। शारीरिक शिक्षा में बालक बलवान बने, बलिष्ठ बने, अच्छा खिलाड़ी बने, उसकी शारीरिक क्षमताओं का विकास हो, ऐसा बालक ही देश और धर्म की रक्षा कर सकेगा। योग शिक्षा प्राचीन विद्या है विश्व भर में इसको अपनाया जा रहा है विद्या भारती का प्रयत्न है कि हमारे सभी बालक-बालिकाएं योग अभ्यासी बनें। 

योग के अभ्यास से शारीरिक, मानसिक, बौद्धिक और आध्यात्मिक विकास उत्तम रीति से होता है। संस्कृत सिर्फ भाषा की ही नहीं विश्व कि अधिकांश भाषाओँ की जननी है संस्कृत साहित्य में भारतीय संस्कृति एवं भारत के प्राचीन ज्ञान-विज्ञान की निधि भरी पड़ी है संस्कृत भाषा के ज्ञान के बिना उससे हमारे छात्र अपरिचित रहेंगे। संस्कृत भारत की राष्ट्रीय एकता का सूत्र भी है। संगीत शिक्षण वह कला है जो प्राणी के हृदय के अंतरतम तारों को झंकृत कर देती है 

उदात्त भावनाओं के जागरण एवं संस्कार प्रक्रिया के माध्यम के रूप में संगीत का शिक्षण विद्या भारती के सभी विद्यालयों में सारे देश में चलता है। नैतिक एवं आध्यात्मिक शिक्षा का शिक्षण प्राप्त बालक देश के भावी कर्णधार हैं। उनके चरित्र बल पर ही देश कि प्रतिष्ठा एवं विकास आधारित है। नैतिकता, राष्ट्रभक्ति आदि मूल्यों की शिक्षा और जीवन के आध्यात्मिक दृष्टिकोण का विकास करने हेतु विद्या भारती ने यह पाठ्यक्रम बनाया है। यह समस्त शिक्षा प्रक्रिया का आधार विषय है। 

भारतीय संस्कृति, धर्म एवं जीवन आदर्शों के अनुरूप बालकों के चरित्र का निर्माण करना विद्या भारती की शिक्षा प्रणाली का मुख्य लक्ष्य है उक्त विचार विद्या भारती द्वारा मार्गदर्शित नीमच जिला ग्राम विकास शिक्षण समिति द्वारा संचालित नीमच तहसील के सरस्वती शिशु मंदिर के आचार्य परिवार का नीलकंठ महादेव मंदिर बोरखेड़ी पानेरी में दीपावली मिलन समारोह सह आचार्य परिवार सम्मेलन में बतौर मुख्य वक्ता ग्राम भारती शिक्षा समिति मालवा के संभाग प्रभारी मदनलाल राठौर ने व्यक्त किए। तहसील स्तरीय सम्मेलन में ग्राम भारती नीमच जिलाध्यक्ष नाथूसिंह चौहान, जिला कोषाध्यक्ष केशव उपाध्याय, जिला प्रमुख सत्यनारायण मालवीय मंचासीन थे। सम्मेलन का विधिवत शुभारंभ अतिथि द्वारा मां सरस्वती, ॐ, भारतमाता के चित्र पर माल्यार्पण, दीप प्रज्ज्वलन एवं सामूहिक वन्दना के साथ हुआ। 

सम्मेलन में श्री चौहान, श्री उपाध्याय, श्री मालवीय ने भी विद्यालय में उत्तरोत्तर उन्नति के संदर्भ में सम्बोधित किया। सम्मेलन में 15 विद्यालय से 76 आचार्य, दीदी, प्रधानाचार्य, संकुल प्रमुख, सह संकुल प्रमुख उपस्थित थे। सम्मेलन में विशेष रूप से जावद तहसील प्रमुख विष्णु पाटीदार, जीरन संकुल प्रमुख कैलाश नागदा उपस्थित थे। सम्मेलन में कार्यक्रम का संचालन जीरन सह संकुल प्रमुख दशरथ पाटीदार ने किया और आभार सावन संकुल प्रमुख नन्दकिशोर सोनी ने माना।


SHARE ON:-

image not found image not found

© Copyright BABJI NEWS NETWORK 2017. Design and Developed By PIONEER TECHNOPLAYERS Pvt Ltd.