खबरे WOW: मध्‍यप्रदेश के इस शहर के स्मार्ट मीटर प्रोजेक्‍ट की दुनिया हुई दीवानी, खासियत जानने जर्मनी का दल पहुंचा, पढें खबर OMG ! कांग्रेस के लिए 'मुसीबत' बने दिग्‍विजय के MLA भाई, CM कमलनाथ को लेकर कही ये बात, पढें खबर NEWS: निर्वाचक नामावली का संशोधित विशेष संक्षिप्त परीक्षा कार्यक्रम जारी, पढें खबर NEWS: जनपद पंचायत जावद की आवश्‍यक बैठक 14 नवंबर को, पढें खबर BIG NEWS: मध्‍य भारत अध्‍यक्ष देवेंद्र प्रतापसिंह तोमर का नीमच प्रवास बुधवार को, हॉकी खिलाडियों से करेंगे मुलाकात, पढें खबर OMG ! स्कूल के रास्ते से बच्ची को कंबल में छिपा कर ले जा रहा था बदमाश, लोगों ने पकड़ा तो हुआ चौंकाने वाला खुलासा, पुसिल को सौंपा, पढें दिलीप सौराष्‍ट्रीय की खबर WOW: जब कप्तान विराट कोहली की सहजता ने जीत लिया इंदौर के बच्चों का दिल, पढें खबर OMG ! कोचिंग सेंटर संचालक ने छात्रों के साथ की धोखाधडी, रूपए लेकर हुआ फरार, छात्र पहुंचे एसपी के पास, की शिकायत, पढें खबर BIG NEWS: सभापति 23 करोड़ के पार, सुमित के पास संपति के नाम पर सिर्फ पांच हजार, पढें खबर BIG NEWS: साध्वी श्री ऋतुम्भरा जी के नीमच आगमन का कार्यक्रम एवं दौरा स्‍थगित, पढें खबर OMG ! अगर आपकों भी कोई अनजान शख्‍स थमा रहा है 200 का नोट, तो हो जाए सावधान, नहीं तो हो सकता है बडा नुकसान, पढें ये खबर BIG NEWS: प्रशासन सख्त रद्द होगी मान्यता, स्कूल संचालक पर एफआईआर के आदेश, पढें खबर WOW: शिक्षक राजा भैया जो अपनी छात्राओं की रोज करता है पूजा, आखिरकार क्‍यों, पढें खबर और जाने BIG REPORT: बाइक सवार ने आरक्षक को रौंदा, जिस थाने में थे तैनात वहीं मिली अंतिम सलामी, पढें खबर

BIG NEWS: सांवलियाजी मंदिर के पुजारी को क्यो मिला नोटिस, मंदिर से बाहर क्यों नहीं जा पाएगा बाल स्वरूप, पढें खबर

Image not avalible

BIG NEWS: सांवलियाजी मंदिर के पुजारी को क्यो मिला नोटिस, मंदिर से बाहर क्यों नहीं जा पाएगा बाल स्वरूप, पढें खबर

चित्तौडग़ढ़़ :-

चित्तौडग़ढ़/भदेसर. मेवाड़ के प्रख्यात कृष्ण धाम सांवलियाजी मंदिर में विराजित भगवान सांवलिया सेठ के बालस्वरूप का देवउठनी एकादशी पर इंदौर में एक भक्त द्वारा राधा की प्रतिमा के साथ अनूठे विवाह आयोजन को लेकर मंदिर मंडल के मुख्य कार्यकारी अधिकारी मुकेश कलाल ने एक पुजारी कमलेशदास पुत्र द्वारकादास को नोटिस देकर तीन दिन में स्पष्टीकरण मांगा है। मंदिर के शेष सभी पुजारियों को भी भगवान के बाल स्वरूप को बिना स्वीकृति के बाहर किसी कार्यक्रम में नहीं ले जाने के निर्देश जारी किए है।

पुजारी कमलेशदास को दिए गए नोटिस में कहा गया कि इंदौर में सांवलिया सेठ का राधा की प्रतिमा संग विवाह के कार्यक्रम के समाचार मीडिया व सोशल मीडिया में आए है। इस कार्यक्रम को मंदिर परम्परा के विरूद्ध बिना मंदिर मण्डल की स्वीकृति के निर्धारित किया गया। इस कृत्य से मंदिर की छवि धुमिल हुई है। इंदौर में आयोजित होने वाले भगवान सांवलिया सेठ के विवाह समारोह की मंदिर प्रशासन ने स्वीकृति नहीं दी है।

मंदिर मण्डल सीईओ के अनुसार भगवान सांवलिया सेठ की मुर्ति, शालीग्राम व लड्डु गोपाल आदि को निज मंदिर से बाहर के प्रान्तो व शहरों में ले जाकर वहां से प्राप्त भेंट, दान व चढावा राशि लेकर मंदिर कोष को नुकसान पहुंचाने के साथ श्रद्धालुओं की आस्था से भी खिलवाड किया जा रहा है।

उन्होंने इस पर तत्काल रोक लगाते हुए बिना सक्षम स्वीकृति से भगवान के बाल स्वरूप लड्डु गोपाल, शालीग्राम आदि को बाहर नहीं निकालने के निर्देश दिए है। ऐसा करने वालों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई व सेवा पुजन से निष्कासन की कार्रवाई की चेतावनी भ्ी दी गई है।

नहीं मिली तुलसी विवाह के लिए भी स्वीकृति-

इंदौर में सांवलियाजी के बाल स्वरूप के विवाह आयोजन के लिए मंदिर प्रशासन की स्वीकृति नहीं मिल पाई हैं, जबकि भक्तों ने इसके लिए प्रार्थना पत्र मंदिर मंडल को दिया था। इसमें बताया गया कि भगवान सांवलिया सेठ का इंदौर में तुलसी के संग विवाह समारोह आयोजित होना था। इंदौर निवासी आयोजक नकुल दगदी पुत्र जगदीश चंद्र दगदी ने बताया कि वह हर वर्ष तुलसी विवाह कराने का आयोजन करता है लेकिन राधा के संग सांवलिया सेठ का विवाह कराने की कोई योजना नहीं है ।

शपथ पत्र में तुलसी विवाह आयोजन की स्वीकृति की मांग की मंदिर के प्रशासनिक अधिकारी कैलाश चंद्र दाधीच ने बताया कि मंदिर प्रशासन ने इस तरह की कोई स्वीकृति नहीं जारी की है। मंदिर के ओसरा पूजारी ने पहले ही इस कार्यक्रम मे जाने से मना कर दिया, वंही प्रशासन ने भी इसकी अनुमति नहीं दी है, ऐसी स्थिति में ओसरा के बाहर वाले पूजारी इस कार्यक्रम मे जाते हैं तो मुख्य मंदिर के बालगोपाल नहीं ले जा सकते हैं।

मंदिर की परम्पराओं व मर्यादाओं को कायम रखा जाएगा-

सांवलियाजी मंदिर की परम्पराओं व मर्यादाओं को कायम रखा जाएगा। भगवान के बाल स्वरूप को पुजारी बिना अनुमति विवाह समारोह या कहीं भी नहीं ले जा सकते है। कोई भी पुजारी ऐसा करता है तो उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी।- मुकेश कलाल, मुख्य कार्यकारी अधिकारी, सांवलियाजी मंदिर मंडल


SHARE ON:-

image not found image not found

© Copyright BABJI NEWS NETWORK 2017. Design and Developed By PIONEER TECHNOPLAYERS Pvt Ltd.