खबरे CORONA FIGHT: कोरोना वायरस से जंग, हम्‍माल मोहल्‍ला और हिंगोरिया गुर्जर बस्‍ती निवासियों के चेहरे पर दिखी खुशी, दोनों क्षेत्र कन्‍टेनमेंट से हुए मुक्‍त, पढें खबर NEWS: जीवन के रंग कोरोना के संग, इनरव्हील क्‍लब द्वारा चित्रकला प्रतियोगिता का आयोजन, पढें खबर NEWS: भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस बिग्रेड की नवीन कार्यकारिणी का गठन, नलवाया अध्यक्ष और साहू उपाध्यक्ष नियुक्‍त, पढें कैलाश शर्मा की खबर OMG ! लॉक डाउन में मध्‍यमवर्गीय परिवारों के हालात, कुल्फी वाले ने कहा, क्या खाऊं साहब, 2 महिने से आमदनी नहीं, कैसे निकालूंगा पूरा साल, पढें मेहबूब मेव की ये खास खबर CORONA FIGHT: कोरोना वायरस से जंग, पॉकेट मनी से श्रमिकों और आमजनों को वितरित किए 6 हजार मास्‍क, पढें कैलाश शर्मा की खबर BIG REPORT: नंगे पैर सड़कों में घूम रहा ये पूर्व मंत्री, कहा, जनता के लिए किया त्याग, उपचुनाव का भी भांप रहे मूड, पढें खबर BIG NEWS: लॉक डाउन, इंसानियत की मिसाल बनें प्रकाश बैरागी, कई दुकानों का 2 माह का किराया किया माफ, पढें दशरथ नागदा की खबर NEWS: नगर में पिछलें तीन दिनों से नहीं हुई पानी की सप्‍लाई, रहवासी परेशान, विभागीय अधिकारी नहीं दे रहें ध्‍यान, पढें शब्‍बीर बोहरा की खबर NEWS: प्रशासन की बड़ी कार्रवाही, पिपलियामंडी में एक्‍सपायरी डेट की 700 लीटर कोल्ड्रिंग की नष्‍ट, पढें खबर BIG REPORT : नीमच का लॉर्ड्स, राख के ढेर मेँ रोटी तलाशते बच्चे और कोरोना का खौफ, पढ़िए बात दिल की है, पढ़े जर्नलिस्ट मुस्तफा हुसैन की फेसबुक वॉल से OMG ! मध्‍यप्रदेश के इस शहर में तस्‍करी का आरोपी निकला कोरोना पॉजिटिव, कई पुलिस कर्मियों को किया क्‍वॉरेंटीन, पढें खबर BIG NEWS: सुवासरा थाना प्रभारी समरथ सिनम पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने लगाए गंभीर आरोप, की पुलिस कप्‍तान को शिकायत, पढें खबर BIG NEWS: लॉक डाउन, राजस्‍व अधिकारी रोजाना पहुंच रहें बाजारो में, कर रहें दुकानों का निरीक्षण, पढें कमलेश चौहान की खबर VIDEO: लॉकडाउन में 21 हजार दीपक से जगमगाया ख्वाजा गरीब नवाज का दरबार, महामारी को लेकर की सभी के लिए दुआएं, देखे ये खास तस्वीरें BIG NEWS: दुकानों से किसी भी प्रकार का पुराना अथवा हानिकारक खाद्य पदार्थ विक्रय ना हो, सभी राजस्व अधिकारी करे भृमण, जिला कलेक्‍टर पुष्प ने दिए निर्देश, पढें कमलेश चौहान की खबर

NEWS: प्रदूषण की रोकथाम और भूमि की उर्वरा शक्ति बनाये रखने हेतु नरवाई नहीं जलाएं किसान, पढें खबर

Image not avalible

NEWS: प्रदूषण की रोकथाम और भूमि की उर्वरा शक्ति बनाये रखने हेतु नरवाई नहीं जलाएं किसान, पढें खबर

नीमच :-

मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने किसानों से अपील की है कि प्रदूषण की रोकथाम,प्रदेश की आबोहवा को सुरक्षित रखने और भूमि की उर्वरा शक्ति को बनाए रखने के लिये पराली (नरवाई)नहीं जलाएं। उन्होंने कहा कि नरवाई जलाने पर भूमि की उर्वरा शक्ति को बनाये रखने में सहायक कृषि-सहयोगी सूक्ष्म जीवाणु तथा जीव भी नष्ट हो जाते हैं।श्री कमल नाथ ने किसानों से कहा है कि आप हरियाली के जनक हैं, आबोहवा के पहरेदार हैं। इसलिये नरवाई को जलाने की बजाए उसका अन्य उपयोग करें, जिससे उन्नत खेती, पशु-चारे की उपलब्धता और सभी को स्वच्छ प्राण वायु मिल सके। साथ ही, अन्य प्रदेशों में हवा में फैल रहे जहर से हम अपने प्रदेश को समय रहते बचाये रख सकें।

मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने किसानों से कहा है कि अति-वृष्टि से उनकी फसलों को हुए नुकसान से राज्य सरकार चिंतित है तथा इसकी भरपाई के लिये निरंतर प्रयास किये जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि हमने केन्द्र सरकार से इसके लिये मदद भी माँगी है। श्री कमल नाथ ने कहा कि किसानों के नुकसान की भरपाई के लिये राज्य सरकार वचनबद्ध है। उन्होंने कहा कि नरवाई को जलाने की बजाय उसे भूसे और पशुचारे में तब्दील करना ज्यादा उपयोगी है। विशेषज्ञों का भी सुझाव है कि नरवाई का उपयोग ऊर्जा उत्पादन तथा कार्ड-बोर्ड और कागज बनाने में किया जा सकता है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कृषि विशेषज्ञों के अनुसार नरवाई को जलाए बिना उसी के साथ गेहूँ की बुआई की जाये। ऐसा करने पर सिंचाई के साथ जब नरवाई सड़ेगी, तो अपने आप खाद में बदल जाएगी और उसका पोषक तत्व मिट्टी में मिलकर गेहूँ की फसल को अतिरिक्त लाभ देगा। उन्होंने कहा कि अब तो ऐसे यंत्र भी उपलब्ध हैं, जो आसानी से ट्रेक्टर में लगाकर खड़े डंठलों को काटकर इकट्ठा कर सकते हैं और उन्हीं में बुआई भी की जा सकती है। मुख्यमंत्री ने कहा कि दोनों ही विकल्प किसानों के लिये फायदेमंद हैं।

मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने किसानों को बताया कि अभी उनकी समस्याओं के समाधान के साथ-साथ सबसे ज्यादा चिंता पर्यावरण संरक्षण की है। मुख्यमंत्री ने बताया कि सर्वोच्च न्यायालय ने भी कहा है कि साफ हवा में सांस लेने का हक सबको है। श्री कमल नाथ ने बताया कि नरवाई जलाने से वातावरण को चौतरफा नुकसान होता है और जमीन के पोषक तत्वों के नुकसान के साथ प्रदूषण भी फैलता है। ग्रीन हाउस गैसें पैदा होती हैं, जो वातावरण को बहुत अधिक नुकसान पहुँचाती हैं।

मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने कहा कि नरवाई जलाने से अधजला कार्बन, कार्बन मोनो ऑक्साइड, कार्बन डाई ऑक्साइड, सल्फर डाई ऑक्साइड तथा राख और अन्य विषैले पदार्थ तथा जहरीली गैसें पैदा होती हैं, जो पूरे वातावरण में गैसीय प्रदूषण के साथ धूल के कणों की मात्रा में भी वृद्धि करती हैं। मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने किसानों से आग्रह किया है कि समय की जरूरत का विशेष ध्यान रखें और प्रदेश की आबोहवा को प्रदूषण से बचाने में अपना महत्वपूर्ण सहयोग प्रदान करें।


SHARE ON:-

image not found image not found

© Copyright BABJI NEWS NETWORK 2017. Design and Developed By PIONEER TECHNOPLAYERS Pvt Ltd.