खबरे वॉइस ऑफ़ एमपी न्यूज़ चैनल में विज्ञापन के लिए कॉल करे : 7999279600 BIG BREAKING : राहुल गांधी को पीएम बनाने की पैदल यात्रा में कौन भीड़ गया कांग्रेस नेता श्यामलाल जोकचंद से, अब वीडियो हो रहा है सोश्यल मीडिया पर वायरल, जाने किसे मांगनी पड़ी माफी, पढ़े खबर  KHABAR : राजस्थान के जालोर में हुई घटना को लेकर अजाक्स ने राष्ट्रपति एवं प्रधानमंत्री के नाम सौंपा ज्ञापन, एक करोड़ मुआवजा व सरकारी नौकरी कि करी माँग, पढ़े पीडी बैरागी की ख़बर KHABAR : दिगम्बर जैन सोश्यल ग्रुप जिनागम ने मनाई आजादी की 75 वीं वर्षगांठ, झण्डावंदन के बाद निकाली तिरंगा यात्रा, पढ़े खबर  वॉइस ऑफ़ एमपी न्यूज़ चैनल में विज्ञापन के लिए कॉल करे : 7999279600 KHABAR : बामनिया नगर विकास के लिए पहली बार किसी नव निर्वाचित युवा पंच ने उठाई आवाज, ग्राम सभा में 11 सूत्रीय मानगो लेकर दिया आवेदन, पढ़े आरिफ मंसूरी की ख़बर  NEWS : साध्वी डॉ. अर्पिता श्रीजी ने कहा- झूठे व्यक्ति पर लोग जल्दी से भरोसा नहीं करते, हिंसा आदि के समान ही माया मृषा भी बड़ा पाप है, पढ़े रेखा खाबिया की खबर  KHABAR : शहर के सरस्वती शिशु मंदिर में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर हुआ भव्य आयोजन, कार्यक्रम में छोटे-छोटे बच्चों ने बड़े ही उत्साह के साथ लिया भाग, पढ़े देवेंद्र सिंह राजपूत की खबर   NEWS : पूर्व मंत्री और मानव अधिकार एसोसिएशन के आवास पर जार पदाधिकारियों का स्वागत किया, पढ़े विशाल श्रीवास्तव की ख़बर NEWS : इस्कॉन मंदिर में हरिनाम कीर्तन के साथ मनाई जाएगी श्री कृष्ण जन्माष्टमी, विशेष श्रृंगार के साथ लगाएंगे भगवान को भोग, पढ़े रेखा खाबिया की खबर 

KHABAR : नवकार मंत्र आराधक अरुण मुनि महाराज ने कहा- जिनवाणी की यात्रा बिना आत्मा का सुधार नहीं हो सकता, पढ़े खबर 

Image not avalible

KHABAR : नवकार मंत्र आराधक अरुण मुनि महाराज ने कहा- जिनवाणी की यात्रा बिना आत्मा का सुधार नहीं हो सकता, पढ़े खबर 

नीमच :-

नीमच। शरीर में अस्पताल की यात्रा से सुधार आता है और आत्मा में सुधार जिनवाणी की यात्रा से आता है। सुख के दो प्रकार होते हैं भौतिक सुख एवं आध्यात्मिक सांसारिक कार्य वाला सुख भौतिक सुख है। सुख की 3 जातियां हैं। सुख ,महा सुख परम सुख ,।सुख आता है कुछ समय के लिए है और फिर वापस चला जाता है। महासूख आता है और दीर्घकाल तक टिकता है लेकिन वह भी वापस चला जाता है ।परम सुख या तो आता ही नहीं है और आ आए तो फिर जाता नहीं है। यह स्थाई होता है।
यह बात नवकार मंत्र आराधक अरुण मुनि महाराज ने कही। वे वर्धमान स्थानकवासी जैन श्रावक संघ नीमच छावनी द्वारा जैन कॉलोनी, वीर पार्क रोड स्थित जैन स्थानक भवन मेंआयोजित चातुर्मास धर्म सभा मैं बोल रहे थे ।उन्होंने कहा कि अतिथि कैसे चाहिए जो आए और जल्दी जल्दी चले जाए ।पहले अतिथि देवो भवमाना जाता था अब आतीथि यम देव भव माना जाता है मतलब शुभ तो हमें तीसरे नंबर वाला चाहिए और मेहमान पहले नंबर वाला पहला जो सुख है वह मानव जाति को मिलता है दूसरा महासुख देवलोक में देवताओं को मिलता  है।परमसुख मतलब मोक्ष जहां सुख है वहां दुख भी है। मानव जीवन में अनुकूल परिस्थिति बन जाए तो सुख की अनुभूति होती है और प्रतिकूल परिस्थिति में दुख कीअनुभूति होती है।संत की शरण में आने वाला व्यक्ति का उत्थान होता है।मैं अच्छे गुणों को ग्रहण करना चाहिए तभी हमारा जीवन पवित्र बन सकता है ।इस प्रकार तुमबिया नगरी के व्यक्ति तपस्या के प्रति श्रेणिक महाराज के सभी गुणों को आत्मसात करते थे। महाराज ने भी माता पिता की सेवा को ही उत्तम बताया था।
अरुण मुनि जी म. सा. ने भगवती सूत्र का वाचन किया। और श्रेणिक महाराज के पुण्य गुणों पर प्रकाश डाला । श्रैणिक महाराज इतने आदर्श तपस्वी थे कि उनके गुणगान भगवान ने भी किए थे।इस अवसर पर साध्वी शांता कुंवर जी म .सा. सुख विपाक सुत्र तथा साध्वी मंगल प्रभा श्री जी म. सा. ने भी विचार व्यक्त किए।


SHARE ON:-

image not found image not found

लोकप्रिय

© Copyright BABJI NETWORK PVT LTD 2020. Design and Developed By PIONEER TECHNOPLAYERS Pvt Ltd.