BREAKING NEWS
KHABAR : आगामी त्योहारों को देखते हुए मनासा के.. <<     वॉइस ऑफ़ एमपी न्यूज़ चैनल में विज्ञापन देने के.. <<     KHABAR : धर्म नगरी मालवा की लाल माटी की पावन धरा.. <<     BIG REPORT : नीमच जिले के जावद में मतदान दलों का.. <<     वॉइस ऑफ़ एमपी न्यूज़ चैनल में विज्ञापन देने के.. <<     REPORT : लोकसभा निर्वाचन 2024- स्वीप गतिविधियों के.. <<     KHABAR : लोकसभा निर्वाचन 2024 के तहत संबंधित शिकायत.. <<     वॉइस ऑफ़ एमपी न्यूज़ चैनल में विज्ञापन देने के.. <<     KHABAR : लोकसभा चुनाव 2024 के तहत जिला निर्वाचन.. <<     REPORT : निर्वाचन संपन्न होने तक सभी.. <<     वॉइस ऑफ़ एमपी न्यूज़ चैनल में विज्ञापन देने के.. <<     BIG NEWS : नीमच-मंदसौर संसदीय क्षेत्र के भाजपा.. <<     KHABAR : लोकसभा चुनाव से पहले पूर्व सीएम स्व... <<     वॉइस ऑफ़ एमपी न्यूज़ चैनल में विज्ञापन देने के.. <<     BIG NEWS : नीमच में आईपीएल क्रिकेट का ऑनलाईन सट्टा.. <<     REPORT : निर्वाचन संपन्न होने तक सभी.. <<     वॉइस ऑफ़ एमपी न्यूज़ चैनल में विज्ञापन देने के.. <<     KHABAR : लोकसभा निर्वाचन 2024- स्वीप गतिविधियों कि.. <<     KHABAR : सांसद की निष्क्रियता का परिणाम, नीमच शहर.. <<     वॉइस ऑफ़ एमपी न्यूज़ चैनल में विज्ञापन देने के.. <<    
वॉइस ऑफ़ एमपी न्यूज़ चैनल में विज्ञापन के लिए..
February 22, 2024, 6:43 pm
BIG REPORT : खेतों में किसान बंदूक लेकर कर रहे लहसुन की निगरानी,सीसीटीवी से रख रहे नजर, चौकीदार भी रखे, भाव बढ़ने से चोरी का डर, पढे़ खबर 

Share On:-

उज्जैन। लहसुन के भाव आसमान छू रहे हैं। खेतों में लहसुन की उपज सूखने के लिए रखी गई है या फिर कटने के लिए तैयार है। ऊंचे दाम पर बिक रहे लहसुन की रखवाली बंदूक के साथ की जा रही है। किसानों ने फसल की निगरानी के लिए चौकीदार रखे हैं। सीसीटीवी से 24 घंटे निगरानी रख रहे हैं।


लहसुन के भाव बढ़ने से किसानों के चेहरे खिले हुए हैं। दाम बढ़ने से उनके सामने फसल चोरी होने की समस्या भी बनी हुई है। उज्जैन के पास मंगरोला में कई किसानों ने अपने खेतों में सूखने रखी लहसुन की उपज की चोरी रोकने लिए सीसीटीवी लगा रखे हैं।


मंगरोला के किसान जीवन सिंह ठाकुर और भरत सिंह बैस लहसुन की रखवाली बंदूक से कर रहे हैं। किसान जीवन सिंह ने बताया कि दो बीघा खेत में करीब 50 क्विंटल लहसुन की पैदावार हुई है। अभी गीली है और करीब 15 दिन तक सूखने के लिए खेतों में इसी तरह रखना होगा। आसपास के गांवों से चोरी की खबर आने के बाद हमने भी फसल की सुरक्षा के लिए बंदूक का सहारा लिया है। एक चौकीदार के साथ रात में भी निगरानी रखी जा रही है। दो कुत्ते भी रखे हुए हैं।

VOICE OF MP
एडिटर की चुनी हुई ख़बरें आपके लिए
SUBSCRIBE