BREAKING NEWS
वॉइस ऑफ़ एमपी न्यूज़ चैनल में विज्ञापन देने के.. <<     KHABAR : मनासा विकसखंड के कुकड़ेश्वर संस्कृति भवन.. <<     BIG BREAKING : नीमच जिले में गुंडाराज, एक और प्रकरण में.. <<     वॉइस ऑफ़ एमपी न्यूज़ चैनल में विज्ञापन देने के.. <<     BIG REPORT : पुलिस कप्तान ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर.. <<     NEWS : एक पेड़ देश के नाम से रोटरी क्लब ने किया.. <<     NEWS : मंदबुद्धि युवती का यौन शोषण करने वाले.. <<     BIG NEWS : मंदसौर जिले में भयानक सड़क हादसा, दो.. <<     वॉइस ऑफ़ एमपी न्यूज़ चैनल में विज्ञापन देने के.. <<     REPORT : स्वास्थ्य एवं महिला बाल कल्याण समिति की.. <<     NEWS : प्रभारी सचिव ने किया सांवलिया जी राजकीय.. <<     NEWS : प्रभारी सचिव ने ली अधिकारियों की बैठक,.. <<     NEWS : उप मुख्यमंत्री डॉ. प्रेमचंद बैरवा रविवार.. <<     BIG NEWS ; जायसवाल की पारी जिम्बाब्वे पर पड़ी पारी,.. <<     NEWS : नगरपालिका निम्बाहेडा के नाम पर फर्जी.. <<     NEWS : विधायक के नेतृत्व मे कई संगठनों द्वारा.. <<     वॉइस ऑफ़ एमपी न्यूज़ चैनल में विज्ञापन देने के.. <<     REPORT : नीमच जिले के 120 हाई स्कूल व हायर सेकेंडरी.. <<     REPORT : जिला पंचायत सीईओ गुरु प्रसाद ने किया.. <<     वॉइस ऑफ़ एमपी न्यूज़ चैनल में विज्ञापन देने के.. <<    
वॉइस ऑफ़ एमपी न्यूज़ चैनल में विज्ञापन के लिए..
June 13, 2024, 2:38 pm
KHABAR : मध्य प्रदेश अतिथि स्पेशल एजुकेटर संघ ने सौंपा ज्ञापन, पीएस से कहा-9 हजार में नहीं चलता गुजारा कम से कम 18 तो दीजिए, पढे़ खबर

Share On:-

भोपाल। मध्य प्रदेश अतिथि स्पेशल एजुकेटर (विशेष शिक्षक) संघ के पदाधिकारियों ने स्कूल शिक्षा विभाग की प्रमुख सचिव रश्मि अरुण शमी से मुलाकात कर मानदेय बढ़ाने सहित अन्य सुविधाएं देने की मांग की है। विशेष शिक्षकों ने साफ कहा कि 9 हजार के मानदेय में जरूरतें पूरी नहीं होती हैं, कम से कम अतिथि शिक्षक वर्ग-एक के समान 18 हजार रुपए तो दिए जाएं।


इन शिक्षकों ने अपनी व्यथा बताते हुए कहा कि समावेशित शिक्षा के माध्यम से दिव्यांग छात्रों का समाज की मुख्य धारा से जोड़ रहे हैं। उनकी आवश्यकता के अनुसार अध्यापन कार्य कराते हैं। वर्तमान में हमारा मानदेय 9 से 11 हजार रुपए है, जबकि अन्य राज्यों में 15 से 20 हजार रुपए प्रतिमाह दिया जा रहा है। इतनी कम राशि में 50 से 100 किमी दूर जाकर पढ़ाना पड़ता है, आने-जाने पर ही 8 हजार रुपए खर्च हो जाते हैं। शेष 3 हजार से परिवार का भरण-पोषण कैसे करें।


ये हैं मांगें ...
अतिथि शिक्षक वर्ग-एक के समान 18 हजार रुपए मानदेय दिया जाए।
गर्मी की छुट्‌टी में बेरोजगार न करें, 12 माह का कार्यकाल माना जाए।
पिछले सत्र का अनुभव प्रमाण पत्र और बोनस अंक दें,  GF/M3 पोर्टल पर ज्वाइनिंग हो।
स्थाई पदों की भर्ती में प्राथमिकता दी जाए।
स्पेशल एजुकेटर के संदर्भ में कोर्ट की गाइड लाइन का पालन करें।
बीए एवं बीएड के 100 अंश स्कोर कार्ड में दिए जाएं।
जनजाति कार्य विभाग के स्कूलों में सेवाएं ली जाएं।

VOICE OF MP
एडिटर की चुनी हुई ख़बरें आपके लिए
SUBSCRIBE