BREAKING NEWS
BIG NEWS : मंदसौर जिले का ग्राम गोपालपुरा और शराब.. <<     गोवंश से भरा ट्रक हिंदू संगठन के लोगों ने.. <<     वॉइस ऑफ़ एमपी न्यूज़ चैनल में विज्ञापन देने के.. <<     OMG: नीमच में ’’सिंघम मोड’’ में सूबेदार सोनू.. <<     KHABAR : नीमच के सीएसवी अग्रोहा भवन में बालिकाओं व.. <<     वॉइस ऑफ़ एमपी न्यूज़ चैनल में विज्ञापन देने के.. <<     KHABAR : योग से मनुष्य का शारीरिक, मानसिक एवं.. <<     शिवपुरी में रोंगटे खड़े कर देने वाली घटना, 5.. <<     KHABAR : नीमच में पल्‍स पोलियों जागरूकता रैली का.. <<     SHORTS VIDEO : भोपाल, इंदौर-जबलपुर में अगले 48 घंटे में.. <<     LIVE : जागो नीमच जागो, नीमच मांगे चंबल का पानी, आज.. <<     वॉइस ऑफ़ एमपी न्यूज़ चैनल में विज्ञापन देने के.. <<     REPORT : संभागीय पर्यवेक्षक पाराशर ने नीमच में.. <<     KHABAR : प्रभात पाराशर ने किया जिले में वर्ष 2024-25 की.. <<     वॉइस ऑफ़ एमपी न्यूज़ चैनल में विज्ञापन देने के.. <<     REPORT : कलेक्‍टर ने ली राजस्‍व अधिकारियों की.. <<     BIG NEWS : नीमच जिले का सरवानिया बोर और 22 साल का युवा,.. <<     वॉइस ऑफ़ एमपी न्यूज़ चैनल में विज्ञापन देने के.. <<     BIG NEWS : पिपलिया मंडी थाना क्षेत्र का ग्राम.. <<     BIG NEWS : नीमच जिले का आलोरी गरवाड़ा और 3 साल का.. <<    
वॉइस ऑफ़ एमपी न्यूज़ चैनल में विज्ञापन के लिए..
June 8, 2023, 12:41 pm
BIG NEWS : शिवराज सरकार का बड़ा फैसला, लॉकडाउन में प्रतिबंधों के कारण लोगों के खिलाफ दर्ज मुकदमे होंगे वापस, किसी को नहीं होगी सजा, पढ़े खबर    

Share On:-

भोपाल। मध्य प्रदेश की भाजपा सरकार के प्रवक्ता डॉ नरोत्तम मिश्रा ने कहा है कि लॉकडाउन के दौरान प्रतिबंधों का उल्लंघन करने वाले लोगों के खिलाफ जितने भी मामले दर्ज हुए हैं सब वापस ले लिए जाएंगे। किसी भी मामले में किसी भी आरोपी को सजा नहीं होगी।

उल्लेखनीय है कि कोविड-19 के संक्रमण को रोकने के लिए आपदा प्रबंधन अधिनियम लागू करके कई प्रकार के प्रतिबंध लगा दिए गए थे ज्यादातर नागरिकों को इसकी गंभीरता के बारे में जानकारी नहीं थी। इसके चलते कई लोगों ने प्रतिबंधों का उल्लंघन किया और कुछ लोगों ने इस दौरान पुलिस और प्रशासन के अधिकारियों के साथ अमर्यादित व्यवहार भी किया। ज्यादातर मामलों में पुलिस कर्मचारियों ने संयम का प्रदर्शन किया परंतु कभी-कभी स्थिति गंभीर हो जाने पर मामले भी दर्ज किए गए थे। 

क्योंकि ज्यादातर मामलों में वीडियोग्राफी हुई है। अभियोजन के पास पर्याप्त साक्ष्य हैं। ऐसी स्थिति में आरोपी नागरिकों को सजा की संभावनाएं अधिक हैं। चुनावी साल होने के कारण सरकार सभी मामलों पर विचार कर रही है। इसी के चलते, सरकार ने निश्चित किया है कि लॉकडाउन के प्रतिबंधों का उल्लंघन करने के आरोप में जितने भी मामले दर्ज किए गए हैं, सभी वापस ले लिए जाएंगे। 

VOICE OF MP
एडिटर की चुनी हुई ख़बरें आपके लिए
SUBSCRIBE