खबरे MNORANJAN: चंदेल दम्पती सहित 11सदस्य दल ने केबीसी11के सेट पर अमिताभ बच्चन से मुलाकात की, पढें खबर POLITICS: सहकारिता मंत्री आंजना के नेतृत्व में कांग्रेस जनों ने किया पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह का स्वागत-अभिनन्दन, पढें खबर BIG NEWS: सीएमओ ने पूर्व नगरपालिका उपाध्यक्ष के भाई को नोटिस भेजा, क्यों न स्कीम नंबर 18 के भूखंड क्रमांक 14 की लीज को निरस्त् कर दिया जाए,10 दिन में मांगा जवाब,पढे खबर BIG NEWS: दिग्‍गी राजा ने बोला शिवराज पर हमला, बोले शिवराज के मन से सीएम पद की लालसा नही हुई खत्‍म, इस लिये बैठ रहे है धरने पर, दिग्‍गी राजा बाढ पिडितो को देगें एक माह का वेतन, पढें श्‍याम गुर्जर के साथ दीपक खताबिया की खबर NEWS: भारत विकास परिषद द्वारा भारत को जानो प्रतियोगिता आयोजित, पढें खबर NEWS: शासकीय कन्या महाविद्यालय तीन दिवसीय इंडक्शन प्रोग्राम का आज हुआ समापन, पढें सिंगरौली उपेन्द्र दुबे की खबर APRADH: सीएचपी रोलर की चोरी करने वाले आरोपी चढ़े मोरवा पुलिस के हत्थे, पढें सिंगरौली उपेन्द्र दुबे की खबर VIDEO: जिसका कोई नही उसका है विजया मित्र मंडल, लावारिस अस्थियों को ले जाकर करते है तर्पण, देखे दीपक खताबिया की खास खबर NEWS: धरने पर बैठे पुर्व मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान, बाढ प्रभावितो को राहत दिलवाने हेतु पूर्व मुख्यमंत्री सहित मल्हारगढ़ गरोठ मन्दसौर विधायक भी शामिल,पढे खबर NEWS: स्व सहायता समूह की महिलाओं द्वारा गाँव गाँव मे लोकचित्र कला के माध्यम से आमजनो को किया जा रहा है जागरूक,दीवारों पर पेटिंग कर समझाया जाएगा स्वच्छता का महत्व,पढे बद्रीलाल गंर्जर की खबर APRADH: बंड पिपलिया में घर से चोरी के बाद बैंक खाते से राशि निकालने के मामले में फरियादी का चचेरा भाई निकला आरोपी, मश्रुका व नकदी जब्त, रिमाण्ड अवधि के बाद आरोपी को भेजा जेल, पढें खबर SHOK KHABAR: नही रहे मीसा बंधु संघ के प्रदेश संयोजक मोहनलाल मरच्‍चा, शवयात्रा रविवार को, पढें खबर NEWS: जिले में दो पूर्व मुख्यमंत्री, शिवराज देंगे धरना, करेंगे भजन व रात्रि जागरण तो दिग्विजयसिंह बाढ़ प्रभारितों के बीच जाएंगे, पढें खबर POLITICS: जावद पहुंचे पूर्व सीएम दिग्विजयसिंह, मंत्री उदयलाल आंजना सहित बडी संख्‍या में कांग्रेस कार्यकर्ता मौजूद, पढें खबर

NEWS: PROPERTY के दाम और घटेंगे, नीति आयोग ने मोदी सरकार को दिए टिप्स

Image not avalible

NEWS: PROPERTY के दाम और घटेंगे, नीति आयोग ने मोदी सरकार को दिए टिप्स

नई दिल्ली :-

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सबको आवास का वादा किया है। सरकार 'हाउजिंग फॉर ऑल' योजना चला रही है परंतु नीति आयोग ने इसके अलावा भी कुछ सुझाव दिए हैं। नीति आयोग का कहना है कि रियल एस्टेट सेक्टर में कुछ इस तरह के बदलाव किए जाने चाहिए ताकि प्रॉपर्टी के दाम घटें और कम सामान्य घर मिडिल क्लास की रेंज में आ जाए। नीति आयोग ने रियल एस्टेट सेक्टर में ब्लैकमनी पर कड़ा हमला करने का सुझाव भी दिया है। साथ ही स्टेंप ड्यूटी कम करने को कहा है। 

पत्रकार महेन्द्र के सिंह की रिपोर्ट के अनुसार 'हाउजिंग फॉर ऑल' यानी सबके लिए घर को संभव बनाने के लिए नीति आयोग ने केंद्र सरकार को नया प्लान बताया है। घर को किफायती बनाने के लिए सरकारी थिंक टैंक नीति आयोग ने सुझाया है कि केंद्र सरकार को राज्य सरकारों के साथ मिल स्टैंप ड्यूटी को कम करने के अलावा लैंड सीलिंग ऐक्ट में फंसी जमीन को भी रिलीज कराना चाहिए। 

नीति आयोग का कहना है कि स्टैंप ड्यूटी कम करने से राज्यों को होने वाले घाटे के लिए केंद्र सरकार उन्हें कॉम्पेंसेट करे। आयोग ने अपने तीन साल के ऐक्शन प्लान में बताया है कि रियल एस्टेट सेक्टर में ब्लैक मनी के लगने से ही जमीन के रेट काफी बढ़े रहते हैं। आयोग ने कहा कि रियल एस्टेट सेक्टर में ब्लैक मनी लगे होने का एक कारण स्टैंप ड्यूटी का ज्यादा होना भी है। आयोग ने कहा, 'जमीन की कीमतें गिराने के लिए ब्लैक मनी पर हमला जरूरी है जिससे हाउजिंग को कम कमाने वाले परिवारों के लिए भी किफायती बनाया जा सके।' 

आयोग के प्लान में कहा गया है कि स्टैंप ड्यूटी कम करने से मजबूत प्रॉपर्टी मार्केट बन पाएगा साथ ही ब्लैक मनी का फ्लो भी कम हो जाएगा। आयोग का कहना है कि ऐसे राज्य जहां स्टैंप ड्यूटी ज्यादा है वहां रेवन्यू के बढ़ने की काफी उम्मीद है क्योंकि ड्यूटी घटाने से ज्यादा लोग कानूनी तरीके से ट्रांजैक्शंस करेंगे। गुजरात ने स्टैंप ड्यूटी को 5 प्रतिशत से घटाकर 3.5 प्रतिशत कर लिया और नुकसान को पूरा करने के दूसरे तरीके खोज लिए। 

स्टैंप ड्यूटी के अलावा आयोग ने अर्बन सीलिंग ऐक्ट को भी जमीन का रेट हाई होने का एक कारण बताया। आयोग ने कहा कि अर्बन सीलिंग ऐक्ट की वजह से प्रॉपर्टी के रेट हाई रहते हैं क्योंकि खाली जमीन का काफी हिस्सा प्रॉपर्टी मार्केट से गायब होता है। हालांकि कई राज्यों ने इस कानून को खत्म कर दिया है, लेकिन कई राज्यों में जमीन का काफी हिस्सा कानूनी पेचों में फंसा हुआ है। ऐसे लैंड को खाली करा कमर्शल यूज में लाने प्राथमिकता होनी चाहिए। 


SHARE ON:-

image not found image not found

© Copyright BABJI NEWS NETWORK 2017. Design and Developed By PIONEER TECHNOPLAYERS Pvt Ltd.