RELATIONSHIP: प्यार होने पर शरीर में होने वाले बदलाव

Image not avalible

RELATIONSHIP: प्यार होने पर शरीर में होने वाले बदलाव

डेस्‍क :-

प्यार एक ऐसा शब्द है जो हर किसी की जिंदगी से जुड़ा होता है लाखों गीतों और फिल्मों मैं प्यार की अलग अलग अवस्थाओं और भावनाओं को दिखलाया गया है प्यार हमारे जीवन में जन्म से ही शुरू हो जाता है जो सबसे पहले हमें अपने माता-पिता से प्राप्त होता है और आगे बढ़ते हुए हमारे भाई बहन और दोस्तों के साथ बढ़ता जाता है और इस तरह आप धीरे-धीरे प्यार करना सीख जाते हैं आज हम आपको बताने वाले हैं कि प्यार होने पर आपके शरीर में होने वाले बदलाव क्या हैं और आपका शरीर किस प्रकार की प्रतिक्रिया देता है जब वह किसी के प्यार में होता है।

प्यार होने पर शरीर में होने वाले बदलाव – 

जब आप प्यार करना सीख जाते हैं तो आप जिंदगी की सभी परिस्थितियों में खुशी प्राप्त करना सीख जाते हैं आइए समझते हैं कि प्यार हमारे दिल से लेकर दिमाग को किस प्रकार प्रभावित करता है प्यार किसी भी रिश्ते को आगे बढ़ाए जाने का एक जरिया होता है प्यार कोई दवा नहीं है लेकिन इसका असर मनुष्य के शरीर पर बहुत गहरा पड़ता है।

प्यार होने पर दिल में होने वाला बदलाव – 

हमारा दिल कई कारणों से प्यार होने पर प्रभावित होता है दिल्ली कैसा शरीर का हिस्सा है जो सोचने भावनाओं में रहने और किसी की यादों में खो जाने पर अपने आप को बदलता रहता है जब दो लोग एक दूसरे से प्यार करते हैं उस समय उत्तेजना को बढ़ते देखा जा सकता है जिसमें हमारा दिल अधिक काम करने लगता है और हमारे दिल की धड़कन बढ़ जाती है यह सिद्धांत वैज्ञानिक रूप से भी सही साबित किया जा चुका है कि जब कोई व्यक्ति प्यार में पढ़ता है तो उसके हृदय की गति बढ़ जाती है और वह ब्लड को तेजी से पंप करने लगता है और इस तरह आपकी खुशी का स्तर काफी बढ़ जाता है।

प्यार में पड़े व्यक्ति की प्रतिरक्षा प्रणाली मजबूत होती है – 

एक अध्ययन में यह सामने आया कि जो दंपत्ति सकारात्मक तरीके से प्यार में एक दूसरे से जुड़े थे मैं उन लोगों की तुलना में अधिक स्वस्थ और उच्च प्रतिरक्षा प्रणाली वाले थे जो लोग प्यार में नहीं थे या किसी भी कारण अकेले थे। 

प्यार में पड़े व्यक्ति की उम्र अधिक होती है –

सीडीसी द्वारा 2004 के एक अध्ययन में यह साबित हुआ है कि विवाहित जोड़ों की मृत्यु दर सबसे कम होती है आमतौर पर जो लोग एक प्रतिबद्ध और सुलझा हुआ रिश्ता रखते हैं उनमें तनाव का स्तर बहुत कम होता है जो कि हृदय को स्वस्थ रखने के लिए जरूरी होता है खुशी और प्यार एक रिश्ते के दो सबसे आवश्यक पहलू होते हैं जब यह दोनों साथ में होते हैं तो व्यक्ति धूम्रपान जैसे बड़ी आदतों को भी छोड़ने के लिए मजबूर हो जाता है खासकर जब एक रिश्ता आगे बढ़ाने के बारे में सोचता है तो वह एक स्वस्थ जीवनशैली को अपनाने के बारे में भी सोचता है इस प्रकार जब कोई व्यक्ति प्यार में होता है तो उसकी उम्र भी अधिक लंबी होती है।

प्यार होने पर आप का दर्द कम होता है – 

जब हम शारीरिक रूप से या बाहरी रुप से किसी प्रकार की चोट का शिकार होते हैं तो यह चोट में जो दर्द उत्पन्न होता है वह हमारे दिमाग से नियंत्रित होता है इसमें हमारा दिल महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है और हमारे दर्द को कम महसूस कराने की कोशिश करता है यदि आप उस व्यक्ति का हाथ पकड़ते हैं जिसे आप प्यार करते हैं तो यह आपकी दर्द की भावनाओं को कम कर देता है इस प्रकार देखा गया है कि जो लोग प्यार में होते हैं और अपने साथी के साथ होते हैं तो उन्हें उनका हाथ पकड़ लेने से ही दर्द का अनुभव कम होने लगता है।

प्यार आपके दिल को खुश रखता है – 

प्यार आपके अंदर आनंद की भावना को बढ़ाता है और आपको आशावाद ऊर्जावान और अच्छी तरह से समझने और सोचने की शक्ति प्रदान करता है और यह सारी चीजें एक स्वस्थ दिल के लिए आवश्यक होती हैं इसलिए जब कोई व्यक्ति प्यार में पड़ता है तो वह हर प्रकार से अपने आप को ऊर्जावान महसूस करता है।

हावर्ड में खुशी के रहस्य को खोजने के लिए बरसों के अध्ययन से यह निष्कर्ष निकला कि स्वास्थ्य और प्रेम के बीच एक गहरा संबंध होता है प्रेम और अच्छे रिश्ते आपको स्वस्थ और सुखी बनाए रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं आप यह जरूर कह सकते हैं कि प्रेम कोई दवाई नहीं है लेकिन इसका असर आपके शरीर पर पूरी तरह दिखाई देने लगता है।


SHARE ON:-

image not found image not found

© Copyright VOICEOFMP 2017. Design and Developed By Pioneer Technoplayers Pvt Ltd.