HEALTH: डायबिटीज, मोटापा, कब्ज, बीपी के लिए वरदान है डोसा-सांबर, ये भी हैं 7 फायदे

Image not avalible

HEALTH: डायबिटीज, मोटापा, कब्ज, बीपी के लिए वरदान है डोसा-सांबर, ये भी हैं 7 फायदे

नीमच :-

कहने को तो डोसा और सांबर साउथ इंडियन डिश है, लेकिन पूरे भारत में इसे बड़े शौक से खाया जाता है। डोसा सिर्फ टेस्ट में ही लाजवाब नहीं होता बल्कि सेहत के लिए भी अच्छा है। डोसे से वेजिटेरियल लोगों को पूरा प्रोटीन मिल जाता है। डोसे में ढेर सारे प्रोटीन्स, विटामिन्स और मिनरल्स होते हैं इसलिए इसे खाने से आपके शरीर को पोषण मिलता है। अगर आप वजन कम करना चाहते हैं तो अपनी डाइट में डोसा शामिल कर सकते हैं। भारत के लगभगक हर हिस्से में छोटे से लेकर बड़े रेस्टोरेंट्स में कई तरह के डोसे मिलते हैं। प्लेन डोसा, मसाला डोसा, मैसूर डोसा, प्याज़ डोसा, पनीर डोसा, रवा डोसा जैसी डोसे की न जानें कितनी वैरायटी उपलब्ध रहती हैं। यहां तक कि अब आपको कई जगहों पर पिज़्ज़ा डोसा तक मिल जाएगा। डोसे की ख़ास बात ये है कि आप इसे कभी भी खा सकते हैं। इसे नाश्ते में, दोपहर के खाने में या रात में कभी भी खाया जा सकता है। डोसा न सिर्फ टेस्टी डिश है, बल्कि ये काफी हेल्दी भी होता है। ये दाल और चावल से मिलकर बना होता है। ये आसानी से पच जाता है, साथ ही इससे आपका पेट भी भरा-भरा रहता है। इसके साथ नारियल की चटनी और सांबर लें। आइये आज हम आपको डोसे के ऐसे फायदों के बारे में बताते हैं जिनको सुनने के बाद आप हैरान हो जाएंगे।

1) वजन कंट्रोल करने में सहायक

अगर आपका वज़न बढ़ रहा है और इस वजह से आप सिर्फ कम कैलोरी की चीज़ें ही खाते हैं तो डोसा आपके लिए परफेक्ट है। एक प्लेन डोसा में 37 कैलोरी होती है। इस वजह से ये काफी हल्का होता है। लेकिन अगर आप डोसे में स्टफिंग करेंगे तो इसकी कैलोरी बढ़ जाएगी। कोशिश करें कि प्लेन डोसा ढेर सारी सब्ज़ियों वाले सांबर के साथ खाएं। इससे आपको फाइबर भी मिल जाएगा।

2) कार्बोहाइड्रेट का बेहतर स्रोत

डोसा दाल और चावल से मिलकर बनता है। इस वजह से ये कार्बोहाइड्रेट से भरपूर होता है। अगर आप डायटिंग कर रहे हैं तो भी आपको फिक्र करने की जरूरत नहीं है, क्योंकि ये कार्बोहाइड्रेट हेल्दी होते हैं। ये आपके शरीर को ऐनर्जी देते हैं। अगर आप डोसे में सब्ज़ी या पनीर भरकर खाएंगे तो आपको कार्बोहाइड्रेट के साथ-साथ प्रोटीन, कैल्शियम और विटामिन जैसे और पोषक तत्व भी मिल जाएंगे। ये आपका फुल मील बन जाएगा।

3) प्रोटीन का अच्छा स्रोत

हमारे शरीर के विकास के लिए और सभी अंगों के ठीक तरीके से काम करने के लिए प्रोटीन खास भूमिका निभाता है। प्रोटीन आपको देर तक एनर्जी देता है। इससे बालों, हड्डियों और मांसपेशियों को मजबूती मिलती है। डोसा प्रोटीन का अच्छा स्रोत है। खासतौर से वेजिटेरियन लोग जिनके पास प्रोटीन के कम स्रोत है उन्हें तो डोसा जरूर खाना चाहिए। इससे उन्हें अच्छी खासी मात्रा में प्रोटीन मिल जाता है।

सांबर के फायदे

1) कंप्लीट मील
सांबर में बहुत तरह की जैसे- सहजन, भिंडी, बैंगन, कद्दू, टमाटर और मौसमी सब्जियां डाली जाती हैं जिसके कारण ये पूरी तरह से कंप्लीट फूड बन जाता है। अगर आप रात को कुछ हल्का खाना चाहते हैं तो एक बाउल सांबर ले सकते हैं सुबह तक आपका पेट भरा रहेगा।

2) कब्ज़ से मिलती है राहत
शायद आपको सुनकर अचरज होगा लेकिन सांभर में पानी की भरपूर मात्रा होने के कारण ये नैचुरल लैक्सटिव का काम करता है। इसलिए कब्ज़ होने पर सांबर खायें और कब्ज़ के समस्या को दूर भगायें।

3) ब्लड ग्लूकोज रहता है कंट्रोल 
अगर आप डाइबिटीक हैं और डायट कंट्रोल करने की सलाह दी गई है तो इससे अच्छा विकल्प आपको नहीं मिलेगा। क्योंकि एक बाउल सांबर में 53.6 फीसदी जीआई होता है जिसके कारण ये ब्लड शुगर को टेस्टी और हेल्दी तरीके से कंट्रोल कर पाता है।

4) वेट लॉस रेसिपी
अगर आप वेट लॉस डायट में है तो सांबर को अपने आहार में शामिल करना न भूलें। क्योंकि तरह-तरह की सब्ज़ियों और मसाले के साथ बनने के कारण ये पौष्टिकता, प्रोटीन और फाइबर से भरपूर होता है जिसको इडली और डोसा के साथ खाना किसी भी समय में अच्छा होता है।


SHARE ON:-

image not found image not found

© Copyright VOICEOFMP 2017. Design and Developed By Pioneer Technoplayers Pvt Ltd.