खबरे WOW: नगर में पत्रकार इलेवन और शासकीय विधालय छात्राओं के बीच रोमांचन प्रतियोगिता, पत्रकार इलेवन ने की जीत हासिल, पढें रवि पोरवाल की खबर BIG NEWS: वरिष्‍ठ भाजपा नेता करण परमार ने दी शिला दीक्षित को श्रध्‍दांजलि, पढें खबर BIG NEWS: गर्भगृह, परिसर व पांडाल के लिए होगा अलग-अलग बल, अधिकारियों ने किया निरीक्षण, पढें खबर NEWS: निःशुल्क नेत्र व दंत चिकित्सा जांच व ऑपरेशन शिविर में उमड़े मरीज, पढें खबर BIG NEWS: आकाशियत बिजली गिरनें से युवक की दर्दनाक मौत, पढें खबर OMG ! सीएम योगी का पुतला जलतें देखती रहीं पुलिस, फिर आया कंट्रोल रूम से फोन, तो दौडी बुझानें को, पढें खबर BIG REPORT: बिजली के पोल में फैल रहा था करंट, 8 वर्षीय मासूंम आया चपेट में, हुई दर्दनाक मौत, परिवार में पसरा मातम, पढें खबर NEWS: अहो आश्चर्यम शतावान कार्यक्रम आज, पढें खबर NEWS: निशुल्क दर्द निवारण शिविर में 38 रोगी लाभान्वित, पढें खबर JATAN: बारिश की बेरुखी सैकड़ों गांव के लोगों ने घर में नहीं जला चूल्‍हा, किया जतन, पढ़े मोहन नागदा की खास खबर BIG NEWS: नीमच में इंदौर के यात्रियों से पांच लाख की लूट, सांवरिया जी दर्शन को जा रहे थे पाटीदार समाज के लोग, पढें खबर NEWS: नगर के शसकीय हाईस्‍कूल में छात्रसंघ का गठन, बबलू धाकड अध्‍यक्ष नियुक्‍त, पढें महेंद्र भटनागर की खबर BIG NEWS: खाघ विभाग के घोटाले उजागर करनें वालें व्हिसल ब्‍लोअर अकोदिया का ह्दयघात से निधन, पढें खबर NEWS: भारतीय डाक विभाग की दीनदयाल स्पर्श छात्रवृत्ति योजना के लिए आवेदन आमंत्रित, पढें जेपी तेलकार की खबर NEWS: शक्तावत के देह पंचतत्व में विलीन, पढें खबर

BIG NEWS: लाखों के मोबाइल चुरानें वालें गिरोह का पर्दाफाश, गिरोह के 8 सदस्‍य गिरफ्तार, मुख्‍य आरोपी फरार, कई राज्‍यों में दिया वारदात को अंजाम, चित्‍तौडगढ पुलिस पहुंची मंदसौर, जांच शुरू, पढें खबर

Image not avalible

BIG NEWS: लाखों के मोबाइल चुरानें वालें गिरोह का पर्दाफाश, गिरोह के 8 सदस्‍य गिरफ्तार, मुख्‍य आरोपी फरार, कई राज्‍यों में दिया वारदात को अंजाम, चित्‍तौडगढ पुलिस पहुंची मंदसौर, जांच शुरू, पढें खबर

चित्तौडग़ढ :-

चित्तौडग़ढ, चित्तौडग़ढ़ में गत २० फरवरी को जिला पुलिस अधीक्षक कार्यालय से २०० मीटर की दूरी पर मीरानगर में एक शोरुम से करीब २० लाख रुपए के मोबाइल चोरी करने वाले गिरोह का मंदसौर पुलिस ने पर्दाफाश किया है। इस गिरोह की तलाश में चित्तौडग़ढ़ पुलिस सहित कई राज्यों की पुलिस लगी हुई थी। आरोपियों ने पुछताछ के दौरान चित्तौड़ से भी मोबाइल चोरी करने की वारदात को कबूला है। आरोपियों से पुछताछ के लिए चित्तौडग़ढ़ से पुलिस टीम मंदसौर गई है। मंदसौर पुलिस अधीक्षक विवेक अग्रवाल ने इस गिरोह का खुलासा किया था। पुलिस ने इस मामले में बिहार की मोतीहारी गिरोह के आठ आरोपियों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने इन आरोपियों से हथियार भी बरामद किए है। गिरोह का मुख्य आरोपी लल्लन अभी फरार है।

लूट की योजना में पकड़ा, पूछताछ में कबूली चोरी की वारदात-

आरोपी मंदसौर शहर के ट्रांसपोर्ट नगर के पीछे पानी की टंकी के पास रात करीब दो बजे आठ लोग इंडियन ऑयल पेट्रोल पंप को लूटने की योजना बना रहे थे। जिनको गिरफ्तार किया गया। आरोपियों से ३२ बोर की पिस्टल, तीन जिंदा राउंड, एक छ राउंड की पिस्टल और दो जिंदा कारतूस, दो चाकू, एक बैस बॉल, एक लोहे की राड और एक नकली बंदूक बरामद की गई। गिरफ्तार आरोपियों में बिहार के मोतीहारी जिला निवासी मनोज गिरी पिता मथुरा गिरी (४५),सलीम पिता प्याजी दुबे (३२), मोन्टू उर्फ पीन्टू पिता देवीकांत ठाकुर (२३), रूस्तम पिता केमउद्दीन (३६), सहरसा जिले के बकुनिया निवासी रंजीत पिता महेंद्र मुखिया (२८), सीतामढ़ी जिले के अजय पिता महेंद्र चौधरी उम्र (३५), जावेद आलम पिता अफजल हुसैन उम्र (२१) , रहमत पिता कलाम मंसूरी (३६) को गिरफ्तार किया है। 

नेपाल में बेच दिए चोरी के सामान-

मन्दसौर पुलिस अधीक्षक विवेक अग्रवाल ने बताया कि पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि यह बिहारी के मोतीहारी गिरोह के सदस्य है। इनका मास्टरमाइंट लल्लन नामक व्यक्ति है जो पूर्वी चंपारन का है। पूछताछ में सामने आया कि आरोपी चोरी करने के बाद अलग-अलग शहर दिल्ली, बेंगलूर, कोटा के लिए रवाना हो गए थे। एक आरोपी के पास चोरी किए गए मोबाइल थे जो नेपाल में बेचे गए। चोरी का सामान जप्त करने के लिए पुलिस नेपाल जाएगी। अग्रवाल ने बताया कि मोतीहारी गिरोह के द्वारा चोरी, लूट, संपत्ति चोरी सहित अन्य अपराध करीब २० से अधिक है। जानकारी में आया हैकि इस गैंग ने नेपाल में अपराध किए है।

सुबह साढ़े तीन से साढ़े चार बजे करते वारदात-

रिमांड के दौरान पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि अलसुबह साढ़े तीन बजे से लेकर साढ़े चार बजे के समय में ही वारदात का समय तय रहता है। किसी भी शहर से पांच बजे से बसों का आवागमन शुरु हो जाता है।इससे इनको फरार होने में आसानी हो जाती है। उसके बाद ट्रेन से अन्य बड़े शहरों की ओर फरार हो जाते है। इनके गिरोह के सदस्य पहले शहर में रैकी करने के बाद वारदात को अंजाम देते है। यह वारदात १५ से २० दिनों में करते है।

चितौड़ के बाद मंदसौर और फिर दिल्ली में चोरी-

रिमांड के दौरान आरोपियों ने चित्तौड़ में मोबाइल चोरी करना कबूल किया है। यहां से आरोपियों ने ६५ मोबाइल चुराए थे।उसके बाद मंदसौर और दिल्ली में वारदात की। दिल्ली में करीब ६३ मोबाइल की चोरी आरोपियों ने की

नेपाल सीमा से सटे हुए गांव में रहते आरोपी-

नेपाल सीमा के पास घोडासहन सहित कुछ गांव है। यह सभी अपराधी वहां के रहने वाले है। इन्होंने गांव के नाम से ही घोडासहन (मोतीहारी) गिरोह का नाम रखा। इनके कई रिश्तेदार नेपाल में भी रहते है।

वारदात के समय मोबाइल का नहीं करते उपयोग- 

रिमांड के दौरान आरोपियों ने पूछताछ में बताया कि यह वारदात के समय और वारदात करने के बाद उस क्षेत्र में मोबाइल का उपयोग नहीं करते है। मोबाइल का उपयोग करने से आरोपियों को पकड़े जाने का डर रहता है। इन आरोपियों से माल बरामदगी को लेकर भी पूछताछ की जा रही है।

इनका कहना- 

मोबाइल शोरुम से २० लाख मोबाइल चोरी के गिरोह का खुलासा हो गया है। गिरोह के सदस्यों को मंदसौर पुलिस ने पकड़ा है। गिरोह के सदस्यों का यहां लाने के लिए टीम को मन्दसौर भेजा गया है। पूछताछ में और अधिक तथ्यों का खुलासा हो पाएगा।- अनिल कयाल, जिला पुलिस अधीक्षक चित्तौडग़ढ़


SHARE ON:-

image not found image not found

© Copyright BABJI NEWS NETWORK 2017. Design and Developed By PIONEER TECHNOPLAYERS Pvt Ltd.