खबरे BIG REPORT: 11 मरीजों की आंखों की रोशनी चले जाने के मामले में कमलनाथ सरकार ने उठाए ये कदम, पढें खबर NEWS: कपासन बुलाकर लूट व मारपीट करनें का मामला, पुलिस ने 1 आरोपी को किया गिरफ्तार, पढें खबर WOW: मध्‍यप्रदेश के इस जिलें में 12 सालों बाद मूसलाधार बारिश, आकडा 38 के पार, पढें खबर TOP NEWS: एमपी की जनता के साथ हुआ धोखा, अपनी मौत मरेगी कमलनाथ सरकार, उमा भारती, पढें खबर ANALYSIS: 8 महीने में कितनी फेल, कितनी पास कमलनाथ सरकार, पढें खबर और जानें JAI HIND: हज के दौरान मक्का में काबा के आगे लहराया तिरंगा, यौमे आजादी का मनाया जश्न, पढें खबर NEWS: बाइक समेत बहे दो युवक, बचाकर निकाला, पढें खबर NEWS: औसत वर्षा भी हुई पार, 105.84 प्रतिशत का रिकॉर्ड, पढें खबर BIG REPORT: बारिश बन रही आफत, पुलियाओं पर पानी से सम्पर्क कटा, अब ग्रामीण हो रहें परेशान, पढें खबर NEWS: सरस्‍वती शिशु मंदिर में धुमधाम से मनाया गया रक्षाबंधन पर्व और स्‍वतंत्रता दिवस, पढें महेंद्र भटनागर की खबर OMG ! आत्महत्या करने वाला ही निकला वृद्धा का हत्यारा, पुलिस ने चांदी की कडिय़ां भी की बरामद, पढें खबर BIG REPORT: बिहार के बाहुबली विधायक अनंत सिंह को जबलपुर से तस्करी की गयी थी AK 47 असॉल्ट राइफल, पढें खबर MAHAKAAL TEMPLE: महांकाल मंदिर, 300 करोड़ से संवरेगा राजा का दरबार, विकास और विस्तार की योजना पर सीएम कमलनाथ ने किया मंथन, पढें खबर JAI HIND: 2 मांओं का एक लाल, पहलें की अपनी मां की सुरक्षा, अब भारत मां की सुरक्षा में पहुंचें अटारी बॉर्डर पर, बीएसएफ मे तैनात होकर मोरवन के औमप्रकाश कीर ने बींटीग रीट्रीट मे 15 अगस्त को दिखाया दम, पढें दिनेश वीरवाल व आशीष बैरागी की खास खबर

BIG REPORT: कंपनी खोलकर आम जनता के करोडों रूपए डकारें, अब पुलिस ने आरोपी को कानपुर जेल से किया गिरफ्तार, पढें खबर

Image not avalible

BIG REPORT: कंपनी खोलकर आम जनता के करोडों रूपए डकारें, अब पुलिस ने आरोपी को कानपुर जेल से किया गिरफ्तार, पढें खबर

चित्तौडग़ढ़़ :-

चित्तौडग़ढ़, शहर कोतवाल सुमेरसिंह ने बताया कि २५ सितंबर २०१७ को इस्तगासे के जरिए न्यायालय के आदेश पर कोतवाली में प्रकरण दर्ज हुआ था, जिसमें प्रार्थी आछोड़ा निवासी रतनलाल पुत्र रामलाल रेगर ने बताया था कि जुलाई २०१२ में आरोपी आलोक त्रिपाठी, उसका भाई आशीष त्रिपाठी, जगदीश, शंकरलाल आदि प्रार्थी के गांव आए थे। आरोपियों ने प्रार्थी को बताया कि वे नोएडा में पीयर्स एलाइड कॉर्पोरेशन लिमिटेड नाम से फर्म का संचालन करते हैं और जगन्नाथ टावर्स चित्तौडग़ढ़ की पहली मंजिल पर फर्म का ऑफिस है। यह ब्रांच आरोपी आलोक त्रिपाठी व उसके भाई आशीष त्रिपाठी ने वर्ष २०१० में खोली थी। प्रार्थी को बताया गया कि उनकी फर्म जमा रकम पर साढे बारह प्रतिशत ब्याज देती है और भूखण्ड भी आवंटित करती है। इसके अलावा भी दस प्रतिशत अतिरिक्त ब्याज प्रतिमाह देने की बात कही गई। आरोपियों के झांसे में आकर प्रार्थी ने इस फर्म में खाता खुलवाकर डेढ लाख रूपए जमा करवा दिए। आरडी परिपक्व होने पर उसे ३ लाख ०५ हजार ७०० रूपए व दो सौ स्क्वायर यार्ड का भूखण्ड मिलना था, लेकिन आरोपी यहां का ऑफिस बंद कर फरार हो गए।

कई जगह जमीनों का मालिक है आरोपी-

प्रकरण दर्ज होने के बाद मामले की जांच पुलिस उप निरीक्षक जमनालाल को सौंपी गई। पुलिस पड़ताल में सामने आया कि पीयर्स कंपनी का यहां दुर्ग मार्ग स्थित एक्सीस बैंक में तथा कानपुर में कल्याणपुर स्थित एक्सीस बैंक में खाता है। इन दोनों खातों का पुलिस ने रिकार्ड लिया। अनुसंधान के दौरान पुलिस को पता चला कि आरोपी आलोक त्रिपाठी के नाम गंगरार क्षेत्र के जवासिया गांव में रजिस्टर्ड आराजी है। इसके अलावा अजमेर जिले में पीसांगन के पास रिछमालिया गांव में भी उसके नाम पर जमीन है। पुलिस ने इन जमीन के भी रिकार्ड लिए।

इन्हें एजेन्ट बनाकर हड़पे पौने दो करोड़-

पुलिस पड़ताल में सामने आया कि आरोपियों ने गंगरार क्षेत्र के दादिया गांव में रहने वाले जगदीश पुत्र मांगीलाल कुमावत, शंकरलाल पुत्र जगदीश कुमावत व गीता पत्नी जगदीश कुमावत को एजेन्ट के तौर पर रखा था। इन एजेन्टों ने कंपनी का प्रचार-प्रसार कर लोगों के खाते खोलते हुए उनसे रूपए जमा किए।

नोएडा में लॉक कराया बैंक खाता-

पुलिस को पता चला की आरोपी के नाम से नोएडा के एक बैंक में भी खाता है। जानकारी मिलने पर करीब आठ माह पूर्व अनुसंधान अधिकारी जमनालाल नोएडा गए और बैंक में संपर्क कर खाते को लॉक करवाया। लॉक करवाए गए खातों में कुल मिलाकर करीब १.१५ करोड़ रूपए जमा बताए जा रहे हैं। इसके बाद पुलिस आरोपियों की तलाश में कई बार उत्तरप्रदेश के विभिन्न इलाकों में गई, लेकिन आरोपी नहीं मिले।

यूं पकड़ा गया मुख्य आरोपी-

पुलिस को पता चला कि कंपनी का निदेशक व मुख्य आरोपी कानपुर के चौबेपुर थानान्तर्गत गौरी भगवंतपुर निवासी और हाल आवास विकास कल्याणपुर कानपुर व खलासी लाइन ग्वालटोली जनपद कानपुर निवासी आलोक त्रिपाठी पुत्र कृष्णकांत त्रिपाठी एक मामले में कानपुर जेल में बंद है। अनुसंधान अधिकारी के नेतृत्व में पुलिस टीम कानपुर गई और प्रोडक्शन वारंट के जरिए आलोक त्रिपाठी को गिरफ्तार कर चित्तौडग़ढ़ ले आई। आरोपी को न्यायालय में पेश कर दो दिन का रिमाण्ड लिया गया है। पुलिस आरोपी से पूछताछ कर उसके अन्य साथियों के बारे में पता लगाने का प्रयास कर रही है।

यहां भी दर्ज है प्रकरण-

कोतवाल ने बताया कि आरोपी के खिलाफ चित्तौडग़ढ़, गंगरार, भीलवाड़ा के प्रताप नगर थाना, जयपुर सहित गुजरात, मध्यप्रदेश, उत्तरप्रदेश, महाराष्ट्र आदि राज्यों के विभिन्न पुलिस थानों में भी प्रकरण दर्ज है।

कई पीडि़त कोतवाली पहुंचे-

आरोपी के गिरफ्तार होने की जानकारी मिलने पर बुधवार दोपहर बड़ी संख्या में अन्य पीडि़त लोग भी कोतवाली पहुंचे और उनके साथ हुई धोखाधड़ी के बारे में रिपोर्ट दी। इससे पहले लोगों ने पुलिस अधिकारियों से मिलकर ज्यादा ब्याज और भूखण्ड का लालच देकर उनके साथ हुई धोखाधड़ी की जानकारी दी।


SHARE ON:-

image not found image not found

© Copyright BABJI NEWS NETWORK 2017. Design and Developed By PIONEER TECHNOPLAYERS Pvt Ltd.