खबरे NEWS: पंचायतराज पदाधिकारी, सरपंच दिवस का आयोजन, पढें खबर NEWS: जिले में अब तक 1004.9 मिमी औसत वर्षा दर्ज, पढें खबर NEWS: कलेक्‍टोरेट में मनाया गया सदभावना दिवस, पढें खबर NEWS: प्रदेश के 26 जिलों में हुई सामान्य से अधिक वर्षा, पढें खबर NEWS: वर्ष 2022-23 के राष्ट्रीय खेलों की मेजबानी करेगा मध्यप्रदेश, पढें खबर NEWS: नीमच में सद्भावना दौड़ एवं वृक्षारोपण कार्यक्रम आयोजित, पढें खबर WOW: अतिवृष्टि से हुए नुकसान का तत्‍काल आंकलन कर रिपोर्ट दे, श्री धोका, पढें खबर NEWS: मतदाता सूची में दावे आपत्तियां प्राप्त करने की तिथि निर्धारित, पढें खबर NEWS: भंवरमाता मंदिर में थानाधिकारी बने रिसीवर, पढें खबर OMG ! आधी रात को नींद से जगा कर शौहर करता था पिटाई, फिर 3 तलाक देकर घर से निकाला, पढें खबर NEWS: मकान की दीवार गिरी, बाल बाल बचा परिवार, परिवार ने की मुआवजें की मांग, पढें खबर OMG ! रक्षाबंधन पर अपने पीहर आई महिला खेत पर गई थी चारा काटनें, अचानक पैर फिसलनें से कुएं में गिरी, हुई मौत, पढें खबर OMG ! बाइक समेत युवक पानी के बहाव के साथ बहा, 4 घंटों बाद मशक्‍कत कर गोताखोरों ने निकाला युवक का शव, पढें खबर BIG REPORT: बैंक से लिया ऋण समय पर नहीं चुकाया तो फिर बैंक लिया ये बडा फैसला, उडा दिए ऋण लेनें वालो के होश, पढें खबर WOW: अब प्रेमी जोड़ों की रखवाली करेगी कमलनाथ सरकार, पुलिस ने तैयार किया ये प्‍लान, पढें खबर और जानें WOW: पीएम मोदी ने इस रणनीति से दुनिया भर में PAK को किया किनारे, खाड़ी देशों ने भी नहीं दिया साथ, पढें खबर NEWS: छात्रा से बलात्कार के आरोपी बाल अपचारी को संप्रेषण गृह भेजा, पढें खबर

GADGETS: आपका पर्सनल डेटा चुरा रहे हैं TrueCaller जैसे ऐप्स, प्रिवेसी को खतरा

Image not avalible

GADGETS: आपका पर्सनल डेटा चुरा रहे हैं TrueCaller जैसे ऐप्स, प्रिवेसी को खतरा

डेस्‍क :-

कंपनी की ओर से आने वाले प्रमोशनल और टेलिमार्केटिंग कॉल्स सभी को परेशान करते हैं और इनसे निजात पाने के लिए यूजर्स TrueCaller या TrapCall जैसे ऐप्स इस्तेमाल करते हैं। अब सामने आया है कि रोबोकॉल्स को ब्लॉक करने वाले ऐसे ऐप यूजर्स को स्पैम और स्पूफ कॉल्स से छुट्टी देने के अलावा उनका डेटा भी चुरा रहे हैं। सामने आई रिपोर्ट के बाद सवाल उठ रहे हैं कि क्या ऐसे ऐप्स पर भरोसा किया जा सकता है क्योंकि इनमें से कई ऐप्स ओपन करते ही यूजर्स की प्रिवेसी के लिए खतरा साबित हो रहे हैं। इतना ही नहीं, ऐसे ऐप्स यूजर्स का डेटा थर्ड पार्टी कंपनियों को भी भेज रहे हैं।

एनसीसी ग्रुप नाम की साइबर सिक्यॉरिटी फर्म के सीनियर सिक्यॉरिटी कंसल्टेंट डैन हेस्टिंग्स ने कुछ सबसे पॉप्युलर रोबोकॉल ब्लॉकिंग ऐप्स का एनालिसिस किया। इनमें TrapCall, TrueCaller और Hiya भी शामिल थे और डैन ने पाया कि ये ऐप्स बुरी तरह प्रिवेसी का उल्लंघन कर रहे हैं। रोबोकॉल्स यूजर्स को लिए परेशानी बनती जा रही हैं और कई यूजर्स को 10 से 12 रोबोकॉल्स तक एक दिन में आ रहे हैं। ये कॉल्स किसी प्रॉडक्ट से जुड़ी होने से लेकर झूठे टेक सपॉर्ट तक हो सकते हैं और कई बार तो बेवजह IRS (जुर्माना) भरने को कहते हैं। इनका मकसद यूजर्स का ध्यान खींचना और उनतक अपना मेसेज पहुंचाना होता है।

थर्ड पार्टी को भेज रहे डेटा
कई रोबोकॉल्स तो यूजर्स को बेवकूफ बनाने के लिए लोकल नंबर तक इस्तेमाल करते हैं। कई सेल्युलर नेटवर्क जहां ऐसे कॉल्स कम करने और ब्लॉक करने पर काम कर रहे हैं, वहीं स्मार्टफोन यूजर्स थर्ड पार्टी ऐप्स की मदद इसके लिए ले रहे हैं। इसके लिए TrapCall नाम का एक ऐप बिना यूजर से परमिशन लिए उसका नंबर थर्ड पार्टी एनालिटिक्स फर्म AppsFlyer को भेज देता है। इस बात का जिक्र न तो ऐप में कहीं है और न ही इसकी प्रिवेसी पॉलिसी में।

परमिशन के बिना डेटा अपलोड
रिसर्चर ने पाया कि TrueCaller और Hiya जैसे ऐप्स ने यूजर की ओर से उनकी प्रिवेसी पॉलिसी पर सहमति देने से पहले ही डिवाइस डेटा अपलोड कर देते हैं। इस डेटा में डिवाइस टाइप, मॉडल और सॉफ्टवेयर वर्जन और बाकी डीटेल्स शामिल होते हैं। हेस्टिंग्स ने कहा कि ये सभी ऐप्स डेटा यूज और शेयरिंग को लेकर बनाई गई गाइडलाइंस का उल्लंघन करते हैं, जिनके मुताबिक किसी भी यूजर का डेटा थर्ड पार्टी को भेजने से पहले उसकी परमिशन लेना जरूरी है। ऐसे कई ऐप्स ने लोड होते ही यूजर का डेटा फेसबुक को भेज दिया।


ऐप्स ने कहा- डेटा पर्सनल नहीं
डैन ने बताया कि उनकी ओर से भेजे गए ईमेल का किसी भी ऐप ने जवाब नहीं दिया। हालांकि, बाद में ऐपल से कॉन्टैक्ट करने के बाद TrapCall ने अपनी प्रिवेसी पॉलिसी अपडेट की। TrueCaller के स्पोक्सपर्सन मनन शाह ने कन्फर्म किया कि ऐप ओपन होते ही डेटा भेजने लगता था, लेकिन इसे अब फिक्स कर दिया गया है। वहीं, Hiya ने कहा कि ऐप डिवाइस से जुड़ा कुछ डेटा थर्ड पार्टी सर्विसेज को जरूर भेजता है लेकिन इसमें यूजर्स को पर्सनल डेटा शामिल नहीं है। सभी ऐप्स ने अपनी प्रिवेसी पॉलिसी में बदलाव व गाइडलाइन्स फॉलो करने की बात कही।


SHARE ON:-

image not found image not found

© Copyright BABJI NEWS NETWORK 2017. Design and Developed By PIONEER TECHNOPLAYERS Pvt Ltd.