BREAKING NEWS
गांधी भवन पर हुई महिला कांग्रेस की बड़ी बैठक,.. <<     MP में अब गोबर के उत्पाद को भी मिलेगा रोजगार,.. <<     REPORT : आम आदमी पार्टी चलाएगी नीमच जिले में.. <<     वॉइस ऑफ़ एमपी न्यूज़ चैनल में विज्ञापन देने के.. <<     BIG NEWS : फेसबुक पर सस्ते डीजी जनरेटर सेट बेचने का.. <<     KHABAR : महारानी लक्ष्मी बाई शासकीय कन्या उच्चतर.. <<     वॉइस ऑफ़ एमपी न्यूज़ चैनल में विज्ञापन देने के.. <<     KHABAR : अखिल भारतीय साहित्य परिषद् जिला नीमच ने.. <<     KHABAR : खेड़ापति हनुमान मंदिर जावद रोड नयागांव पर.. <<     वॉइस ऑफ़ एमपी न्यूज़ चैनल में विज्ञापन देने के.. <<     BIG REPORT : मालवा की लालमाटी नीमच में जुटे सैंकड़ों.. <<     KHABAR : 300 से अधिक माताओं व कन्याओं ने जिले में सुख.. <<     वॉइस ऑफ़ एमपी न्यूज़ चैनल में विज्ञापन देने के.. <<     BIG NEWS : भू अभिलेख शाखा से जारी आंकड़ों ने चौंकाया,.. <<     NEWS : ब्रह्माकुमारी सेवा केंद्र प्रताप नगर पर.. <<     KHABAR : पोरवाल समाज समिति नीमच के निर्वाचन.. <<     वॉइस ऑफ़ एमपी न्यूज़ चैनल में विज्ञापन देने के.. <<     BIG NEWS : नीमच जिले का ग्राम बड़ोदिया बुजुर्ग और.. <<     BIG NEWS : राजस्थान की निम्बाहेड़ा थाना पुलिस और.. <<     BIG BREAKING NEWS: अब रविवार को भी खुलेंगे स्कूल, आखिर.. <<    
वॉइस ऑफ़ एमपी न्यूज़ चैनल में विज्ञापन के लिए..
June 13, 2024, 5:12 pm
KHABAR : मेडिकल कॉलेज में केयर ऑफ न्यूबोर्न प्रशिक्षण आयोजित, डीन डॉ. रामटेके बोले- नवजात में गंभीर रोगों की आसानी से कर सकते हैं पहचान, पढे़ खबर

Share On:-

शहडोल। जन्म के तुरंत बाद नवजात शिशुओं की सामान्य एवं आवश्यकता होने पर आकस्मिक देखभाल के सही तरीके से की जाए तो बड़े हीं सरलता के साथ नवजातो का उपचार किया जा सकता हैं। वहीं दूसरी ओर उनमे होने वाले ह्रदय समेत अन्य गंभीर रोगों की पहचान भी आसानी से की जा सकती हैं।


उक्त बातें मेडिकल कॉलेज के डीन डॉक्टर गिरीश रामटेके ने कहीं। वे गुरुवार को बिरसामुंडा मेडिकल कॉलेज आयोजित दो दिवसीय केयर ऑफ न्यू बोर्न प्रशिक्षण शिविर को संबोधित कर रहे थे। डॉ रामटेके ने बताया कि भविष्य में इस तरह के होने वाले प्रशिक्षणों से प्रशिक्षित चिकित्सकों व नर्सिंग ऑफिसर की ओर से नवजात शिशुओं की प्रसव के समय होने वाली मृत्यु से बचाया जा सकेगा।


शिविर में वरिष्ठ शिशु रोग विशेषज्ञ डॉ. एचपी सिंह (पूर्व शिशु रोग विभागअध्यक्ष मेडिकल कॉलेज रीवा, डॉ.उमेश नामदेव (वरिष्ठ शिशु रोग विशेषज्ञ), डॉ.स्वेतलीना (असिस्टेंट प्रोफ़ेसर शिशु रोग विभाग मेडिकल कॉलेज, शहडोल) डॉ.हरि नारायण (शिशु रोग विशेषज्ञ, मेडिकल कॉलेज) की ओर से जिले के विभिन्न प्रसव केंद्रों और नवजात शिशुओं के उपचार के लिए उपलब्ध विभिन्न इकाइयों (एनआईसीयू, एसएनसीयू और एनबीएसयू ) पर कार्यरत चिकित्सक और नर्सिग ऑफिसर को प्रशिक्षण दिया गया। कार्यक्रम के समय चिकित्सा महाविद्यालय और अस्पताल अधीक्षक डॉ नागेंद्र सिंह, अस्पताल प्रबंधक डॉ साबिर खान और इंडिया हेल्थ एवं एक्शन ट्रस्ट की राज्य और जिला स्तरीय टीम उपलब्ध थी।

VOICE OF MP
एडिटर की चुनी हुई ख़बरें आपके लिए
SUBSCRIBE