BREAKING NEWS
KHABAR : चातुर्मास में जीव दया बिना आत्म कल्याण.. <<     वॉइस ऑफ़ एमपी न्यूज़ चैनल में विज्ञापन देने के.. <<     KHABAR : भारत स्काउट एंड गाइड जिला संघ नीमच द्वारा.. <<     MANDI BHAV: एक क्लिक में पढ़े कृषि उपज मंडी मंदसौर के.. <<     वॉइस ऑफ़ एमपी न्यूज़ चैनल में विज्ञापन देने के.. <<     KHABAR : शासकीय कन्या हाई स्कूल में धूमधाम से मना.. <<     BIG REPORT : मानसिक रूप से दिव्यांग बालक, जब अचानक.. <<     वॉइस ऑफ़ एमपी न्यूज़ चैनल में विज्ञापन देने के.. <<     KHABAR : श्री शिशु मन्दिर मा. वि. कोटडा बुजुर्ग मे.. <<     BIG REPORT : नर्सिंग कॉलेज के लिए आवंटित भूमि पर अवैध.. <<     वॉइस ऑफ़ एमपी न्यूज़ चैनल में विज्ञापन देने के.. <<     BIG NEWS : अवैध मादक पदार्थ की तस्करी और शिक्षक.. <<     BIG NEWS : उज्जैन में रविवार को खुलेंगे स्कूल,.. <<     वॉइस ऑफ़ एमपी न्यूज़ चैनल में विज्ञापन देने के.. <<     BIG NEWS : सांवरिया सेठ के दर्शन कर घर लौट रहा था.. <<     KHABAR : म. प्र. सरपंच संघ गरोठ की और से मुख्यमंत्री.. <<     वॉइस ऑफ़ एमपी न्यूज़ चैनल में विज्ञापन देने के.. <<     NMH MANDI : एक क्लिक में पढ़े कृषि उपज मंडी नीमच के.. <<     MP का ऐसा मुक्तिधाम जहां हो गया ये बड़ा खेल,.. <<     MANDI BHAV : एक क्लिक में पढ़े कृषि उपज मंडी मनासा के.. <<    
वॉइस ऑफ़ एमपी न्यूज़ चैनल में विज्ञापन के लिए..
June 15, 2024, 8:12 pm
BIG NEWS : नीमच का जिला अस्पताल और गर्भवती महिला, जब खून की कमी के चलते पहुंची तो सामने आई बड़ी लापरवाही, डॉक्टर की पर्ची के अभाव में भटकी इतने घंटे, फिर हुआ कुछ ऐसा..., पढ़े खबर 

Share On:-

नीमच। जिला अस्पताल में खून चढ़ाने के लिए आई गर्भवती महिला डॉक्टर की पर्ची के अभाव में 5 घंटे तक भटकती रही। मरीजों की परेशानी का फिर एक उदाहरण डॉक्टर की गैर मौजूदगी बनी है। 
दरअसल नीमच जिले के बोरखेड़ी पानेड़ी नीलकंठ पुरा की महिला सपना खारोल को आशा कार्यकर्ता गायत्री खारोल ब्लड चढ़वाने के लिए नीमच के जिला चिकित्सालय लेकर आई थी। गर्भवती सपना खारोल के शरीर में मात्र 6 ग्राम ब्लड है। उसे खून की सख्त आवश्यकता है। लेकिन सुबह 10 बजे से दोपहर तक डॉक्टर के ना होने के कारण उसे ब्लड की पर्ची नहीं मिल पाई। जिस कारण उसे ब्लड नहीं मिल पाया। आशा कार्यकर्ता गायत्री खारोल और स्वयं सपना ने बताया कि हम सुबह से भूखे प्यासे बैठे रहे। एक्सचेंज के लिए ब्लड डोनेट करने वाले भी घंटों से इंतजार करते रहे। स्टाफ का कहना था कि डॉक्टर ब्लड की पर्ची लिखेंगे तब काम हो पाएगा। आशा कार्यकर्ता गायत्री खारोल ने कहा कि ऐसे मामलों में कोई घटना दुर्घटना हो जाती है तो आशा कार्यकर्ताओं को दोषी ठहराया जाता है। 

VOICE OF MP
एडिटर की चुनी हुई ख़बरें आपके लिए
SUBSCRIBE