BREAKING NEWS
KHABAR : दतिया आम रास्ते पर दबंग का कब्जा, मोहल्ले.. <<     वॉइस ऑफ़ एमपी न्यूज़ चैनल में विज्ञापन देने के.. <<     KHABAR : थाना प्रभारी ने मांस मछली वालों की ली बैठक.. <<     KHABAR : खरगोन शहर को यूनिवर्सिटी की सौगात मिलने.. <<     वॉइस ऑफ़ एमपी न्यूज़ चैनल में विज्ञापन देने के.. <<     GOLD & SILVER RATE : यहां क्लिक करेगें तो जानेंगे प्रदेश.. <<     HOROSCOPE TODAY : मेष और सिंह राशि के जातकों के लिए दिन.. <<     BIG NEWS : राजस्थान की राशमी थाना पुलिस और लालपुरा.. <<     वॉइस ऑफ़ एमपी न्यूज़ चैनल में विज्ञापन देने के.. <<     BIG NEWS : नीमच जिले की जीरन थाना पुलिस और अवैध मादक.. <<     MANDI BHAV: एक क्लिक में पढ़े कृषि उपज मंडी मंदसौर के.. <<     वॉइस ऑफ़ एमपी न्यूज़ चैनल में विज्ञापन देने के.. <<     KHABAR : जिले की समस्त शालाओं में 18 जून 2024 को.. <<     KHABAR : पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग की बैठक.. <<     वॉइस ऑफ़ एमपी न्यूज़ चैनल में विज्ञापन देने के.. <<     KHABAR : जल गंगा संवर्धन अभियान के तहत सुखानंद में.. <<     NEWS : आगामी पर्वों एवं त्योहारों के संबंध में.. <<     KHABAR : 52वीं स्टेट तैराकी चैम्पियनशिप में चमका.. <<     वॉइस ऑफ़ एमपी न्यूज़ चैनल में विज्ञापन देने के.. <<     MANDI BHAV : काबुली चने के दामों में आई इतने रुपये की.. <<    
वॉइस ऑफ़ एमपी न्यूज़ चैनल में विज्ञापन के लिए..
May 22, 2024, 11:09 am
BIG NEWS : दुर्घटना में मददगार बन रहा एक्सीडेंटल कार्ड, मिल रही वाहन मालिक और परिवार की जानकारी, बढ़ती सड़क दुर्घटना को देख भाटखेड़ी के कमलेश कारपेंटर ने बनाया एक्सीडेंटल कार्ड, पढ़े खबर 

Share On:-

मनासा। बढ़ती दुर्घटना को देख गांव भाटखेड़ी के कमलेश कारपेंटर ने अपने 2 दोस्तों के साथ मिलकर एक्सीडेंटल कार्ड बनाया है। यह एक QR है जिसे स्कैन करने पर गाड़ी नंबर, मालिक का नाम पता मिलने के साथ तीन पारिवारिक सदस्यों की जानकारी तत्काल मिल जाएगी, जिसे दुर्घटना होने पर उनसे तत्काल सम्पर्क कर सकते है। वहीं एक्सिटेंडल कार्ड के माध्यम से एम्बुलेंस, पुलिस और सड़क दुर्घटना आपात कालीन नंबर को भी सूचना की जा सकती है। 
कमलेश कारपेंटर ने बताया कि अक्सर व्हाटसप ग्रुप और अन्य सोशल मीडिया प्लेट फार्म पर देखने को मिलता है यहां एक्सीडेंट हो गया कोई इस व्यक्ति को जानता हो तो इसके परिवार तक जानकारी पहुंचाने में मदद करे। इसी से एक्सिडेंटल कार्ड बनाने का आइडिया दिमाग में आया। मैंने अपने मित्र अंकुश बैरागी और धीरज सुथार के साथ मिलकर योजना पर काम शुरू किया और एक्सिडेंटल कार्ड की एक वेबसाइड बनाकर एक QR जनरेट किया। एक्सिडेंटल कार्ड सिर्फ पहचान पत्र नही आपके जीवन की सुरक्षा की डोर है। यह एम्बुलेंस, पुलिस, सड़क दुर्घटना आपातकालीन नंबर साथ लेकर चलता है। एक्सीडेंटल कार्ड स्कैन करने पर गाड़ी नंबर, मालिक का नाम, उसका ब्लड ग्रुप सहित आपके तीन रिश्तेदार की जानकारी देगा, जिससे आप आसानी से सम्पर्क कर सड़क दुर्घटना की जानकारी दे सकते है। इससे घायल को उपचार में मदद मिलेगी। तत्काल परिवार, पुलिस, एम्बुलेंस ओर आपातकालीन नंबर को सूचना मिलने से घायल को बेहतर मेडिकल सुविधा देकर बचाया जा सकता है। एक्सीडेंटल कार्ड की कीमत मात्र 50 रूपए रखी ताकि कोई भी व्यक्ति इसे आसानी से अपने वाहन पर लगा सके। 
हर घण्टे औसतन 53 सड़क दुर्घटना, 19 की मौत-
भारत मे हर घण्टे औसतन 53 सड़क दुर्घटना हो रही है इसमे करीब 19 लोग की मौत हो रहीं है। भारत मे वर्ष 2022 के दौरान कुल 4,61,312 सड़क दुर्घटनाएं दर्ज की गईं, जिसमें 1,68,491 लोगों की मौत हो गई और हादसे में 4,43,366 लोग घायल हुए थे। केंद्रीय सड़क और परिवहन राजमार्ग मंत्रालय की ओर से जारी आंकड़ों से मुताबिक भारत मे सड़क हादसों में 12 फीसदी की वृद्धि हुई है।
मप्र में एक साल में 12057 की मौत-
एमपी में वर्ष 2022 में कुल 48,877 सड़क हादसे हुए। इनमें 12,057 मौत और 48,956 लोग घायल हुए। ग्रामीण क्षेत्र में 58 प्रतिशत (28,175) और शहरी क्षेत्र में 42 प्रतिशत (20,702) सड़क हादसे हुए। ग्रामीण क्षेत्र में शहर की तुलना में 71 प्रतिशत (8,562) मृत्युदर है। शहरी क्षेत्र में मृत्युदर 29 प्रतिशत है। भोपाल शहर में 1 जनवरी 2023 से 30 नवंबर 2023 तक 2716 सड़क हादसे हुए हैं। इनमें 182 लोगों की मौत हुई है। 
सबसे ज्यादा यूथ शिकार… इसलिए जरूरी है एक्सीडेंटल कार्ड-
पीटीआई की रिपोर्ट के अनुसार सड़क हादसों में सबसे ज्यादा मौत 25 से 35 आयु वर्ग के बीच के लोगों की हुई है इसमे अधिकांश कारण दुर्घटना का कारण ओवर स्पीड ओर हेलमेट नही होना है। एक्सीडेंटल कार्ड सड़क दुर्घटना से सुरक्षा की जागरूकता का संदेश देने के साथ ही वाहन मालिक से लेकर परिवार का डाटा साथ लेकर चलता है। 
एक्सीडेंटल कार्ड लगाने के साथ दे रहे ट्राफिक नियम की जानकारी-
एक्सिटेंडल कार्ड लगाने के साथ ही कमलेश कारपेंटर और उनकी टीम लोगो को ट्राफिक नियम की भी जानकारी दे रही है। ताकि लोगो मे जागरूकता आए और वह यातायात नियमो का पालन करे। इससे भी दुर्घटना को कम कियॉ जा सकता है।
QR कैसे स्कैन करे-
एक्सीडेंटल कार्ड पर लगा QR स्कैन करने पर वाहन मालिक और उसके परिवार की पूरी जानकारी खुल जाएगी। स्कैनर को फोन पे, गूगल पे, गूगल कैमरा सहित अन्य किसी भी QR स्कैनर से स्कैन किया जा सकता है। आई फोन में सीधे कैमरा भी QR को स्कैन कर पूरी जानकारी देगा।

VOICE OF MP
एडिटर की चुनी हुई ख़बरें आपके लिए
SUBSCRIBE