BREAKING NEWS
वॉइस ऑफ़ एमपी न्यूज़ चैनल में विज्ञापन देने के.. <<     KHABAR : इंदौर में जनविकास सोसाइटी का आत्मरक्षा.. <<     KHABAR : लाड़ली बहना योजना से वंचित महिलाएं पहुंची.. <<     वॉइस ऑफ़ एमपी न्यूज़ चैनल में विज्ञापन देने के.. <<     BIG NEWS : तेज रफ्तार ब्रेजा कार और 91 किलो अवैध मादक.. <<     KHABAR : इंदौर में सामाजिक, सांस्कृतिक संस्था.. <<     वॉइस ऑफ़ एमपी न्यूज़ चैनल में विज्ञापन देने के.. <<     KHABAR : उत्कृष्ट विद्यालय में स्कूल चले हम.. <<     BIG NEWS : लव, सेक्स और धोखा, स्कूल के वक्त हुआ नईम से.. <<     वॉइस ऑफ़ एमपी न्यूज़ चैनल में विज्ञापन देने के.. <<     KHABAR : स्कूल में तिलक लगाकर स्टूडेंट्स का.. <<     KHABAR : स्कूल चले हम प्रवेश उत्सव कार्यक्रम के.. <<     वॉइस ऑफ़ एमपी न्यूज़ चैनल में विज्ञापन देने के.. <<     KHABAR : खाटूश्याम मंदिर समिति ने किया नपाध्यक्ष.. <<     KHABAR : सिविल लाइन चौराहे से गौर प्रतिमा हटाने का.. <<     BIG REPORT : मंदसौर पुलिस अधीक्षक अनुराग सुजानिया.. <<     वॉइस ऑफ़ एमपी न्यूज़ चैनल में विज्ञापन देने के.. <<     BIG NEWS : 4 साल का रोडमैप तैयार कर रही बीजेपी, छोटी.. <<     KHABAR : प्रवेश उत्सव पर बच्चों का तिलक, किताबें.. <<     SHOK SAMACHAR : नहीं रही कंचन बाई छिंगावत, परिवार में.. <<    
वॉइस ऑफ़ एमपी न्यूज़ चैनल में विज्ञापन के लिए..
May 21, 2024, 6:14 pm
GYAPAN : नीमच जिले में 100 साल पुराना भेरू बाबजी का स्थान, जब भक्त और भगवान के बीच आई रूकावट तो कलेक्टोरेट पहुंचे ग्रामीण, सौंपा ज्ञापन

Share On:-

नीमच। शहर के समीप गांव हिंगोरिया, बिजलवास, बामनिया, अडमलिया, कानाखेड़ा, जल मंडी और अन्य गांवों के निवासियों ने आज वर्षों पुराने भेरु बावजी के स्थान पर आने जाने में अवरोध उत्पन्न करने के मामले में विरोध जताते हुए एक ज्ञापन कलेक्टर के नाम दिया। 
ज्ञापन में कहा गया है कि करीब 100 वर्ष पुराना भेरु बावजी का देवस्थान हिंगोरिया के सर्वे नंबर 333 में स्थित है। उक्त स्थान पर जाल और रेलिंग भी लगी हुई थी। यहां पर भाग्यवती पति मुरलीधर और उनके परिवार द्वारा आने जाने के रास्ते का विरुद्ध कर दिया गया है। भाग्यवती और उसके परिजन द्वारा देवस्थान के चारों तरफ फुट के पत्थरों से बाउंड्री वॉल बनाई जा रही है और पूजा अर्चना के लिए आने वाले श्रद्धालुओं के साथ अभद्र व्यवहार किया जाता है। रास्ते में गुंडे किस्म के लोगों को बिठा दिया गया है। भूमि स्वामी द्वारा अराजक तत्वों से मिलकर भेरूबावजी के स्थान को तोड़ने और उखाड़ फेंकने का प्रयास भी किया जा रहा है। ज्ञापन में मांग की गई है कि वर्षों पुराने भेरूबावजी के स्थान को सुरक्षित कर भक्तों के लिए पूजा अर्चना के अधिकार को दिलवाया जाए और राजस्व रिकॉर्ड में देवस्थान को दर्ज किया जाए। ज्ञापन देते समय बड़ी संख्या में ग्रामीण उपस्थित रहे।

VOICE OF MP
एडिटर की चुनी हुई ख़बरें आपके लिए
SUBSCRIBE